तेलंगाना में कुल कितने जिले हैं ?



तेलंगाना राज्य दक्षिण भारत में मौजूद है, 2 जून 2014 को आंध्र प्रदेश से विघटित होकर यह देश का एक नया राज्य बना। हिन्दू बहुल आबादी वाले इस राज्य में मुस्लिम सिख, ईसाई और दूसरे धर्म के लोग रहते हैं अतः जनसँख्या की दृष्टि से इस राज्य में अनके जिले बनाये गए हैं।

img-1


इस राज्य में सबसे अधिक तेलुगु भाषा बोली जाती है। तेलुगु भाषी लोगों की कुल संख्या इस राज्य में 76 प्रतिशत है। इसके अलावा तेलंगाना राज्य में 12% लोग उर्दू भाषा बोलते हैं और 12% लोग अन्य कई भाषाएं बोलते हैं। आइये इस लेख में अब हम आपको तेलंगाना में कुल कितने जिले हैं ? तेलंगाना के सभी जिलों व उनके नाम [List of District in Telangana] इस बात की जानकारी देंगे |

आंध्र प्रदेश में कुल कितने जिले हैं ?

तेलंगाना में कुल कितने जिले हैं [districts in telangana state list] ?

आंध्र प्रदेश के 10 जिलों को तेलंगाना राज्य में शामिल कर तेलंगाना राज्य का निर्माण किया गया था। लेकिन बाद में वर्ष 2016 में तेलंगाना राज्य में 11 नए जिले शामिल किए गए। हालाँकि साल 2019 के फरवरी महीने में तेलंगाना राज्य में दो और नए जिले बनाए गए।



इस प्रकार वर्तमान समय में तेलंगाना राज्य में कुल 33 जिले मौजूद हैं। यह राज्य भारत के दक्षिण के इलाके में मौजूद है और इसे दक्षिण भारतीय राज्य कहा जाता है। तेलंगाना राज्य के उत्तर में महाराष्ट्र मौजूद है और पूर्व में छत्तीसगढ़ है। इसके उत्तर पूर्व में छत्तीसगढ़ और पश्चिम में कर्नाटक के जिले मौजूद है।

तेलंगाना के सभी जिलों के नाम | list of districts in telangana

  • आदिलाबाद
  • भद्राद्री कोठागुडम
  • हनमकोंडा
  • हैदराबाद
  • जगित्याल
  • जनगांव
  • जयशंकर भूपालपल्ली
  • जोगुलम्बा गडवाल
  • कामारेड्डी
  • करीमनगर
  • खम्मम
  • कोमाराम भीम
  • महबूबाबाद
  • महबूबनगर
  • मंचेरियल
  • मेदक
  • मेडचल-मलकजगिरी
  • मुलुगु
  • नागरकुरनूल
  • नारायणपेट
  • नलगोंडा
  • निर्मल
  • निजामाबाद
  • पेद्दापल्ली
  • राजन्ना सिर्सिल्ला
  • रंगारेड्डी
  • संगारेड्डी
  • सिद्दीपेट
  • सूर्यापेट
  • विकाराबाद
  • वानापर्थी
  • वारंगल
  • यदाद्री भुवनगरी

तेलंगाना के सर्वाधिक साक्षरता वाले जिले

तेलंगाना में सर्वाधिक साक्षरता तेलंगाना के हैदराबाद शहर में है, जहां पर साक्षरता की दर 83.25 है। इसके पश्चात रंगारेड्डी शहर का स्थान आता है जहां पर साक्षरता की दर 75.87 है।

तेलंगाना के सर्वाधिक जनसंख्या वाले जिले

साल 2011 की जनगणना के अनुसार तेलंगाना में सर्वाधिक जनसंख्या वाले जिले में पहले स्थान पर रंगारेड्डी शहर का नाम आता है और पांचवें स्थान पर वारंगल शहर का नाम आता है। रंगारेड्डी शहर में तक़रीबन 5296741 लोग निवास करते हैं। इसके बाद फिर क्रमशः महबूबनगर, हैदराबाद, करीमनगर और अंत में वारंगल नामक जिले का स्थान आता है जहाँ तक़रीबन 3512576 लोग निवास करते हैं |

तेलंगाना के सर्वाधिक लिंगानुपात वाले जिले

सर्वाधिक लिंगानुपात वाले जिले में पहले स्थान पर तेलंगाना का निजामाबाद आता है और चौथे स्थान पर आदिलाबाद आता है। निजामाबाद में लिंगानुपात 1040 है। खमम में लिंगानुपात 1011 है। करीमनगर में लिंगानुपात 1008 है जबकि आदिलाबाद में लिंगानुपात 1001 है।

तेलंगाना के सर्वाधिक विकास दर वाले जिले

विकास के मामले में पहले स्थान पर तेलंगाना का रंगारेड्डी जिला आता है और चौथे स्थान पर आदिलाबाद जिला आता है। रंगारेड्डी जिले में विकास दर 48.16 प्रतिशत है। महबूब नगर में विकास दर 15.34 प्रतिशत है। मेदक में विकास दर 13.60 प्रतिशत है और आदिलाबाद में विकास दर 10.18% है।

तेलंगाना के सर्वाधिक भूमि क्षेत्रफल वाले जिले

तेलंगाना में सर्वाधिक भूमि क्षेत्रफल के मामले में पहले स्थान पर हैदराबाद जिला आता है और चौथे स्थान पर खम्मम जिला आता है, जिनका भूमि क्षेत्रफल नीचे बताए अनुसार है।

हैदराबाद18480
महबूबनगर18432
आदिलाबाद16105
खम्मम16029

गुजरात में कुल कितने जिले हैं ?

तेलंगाना के सर्वाधिक जनसंख्या घनत्व वाले जिले

तेलंगाना में सर्वाधिक जनसंख्या घनत्व वाले जिले में पहले स्थान पर रंगारेड्डी जिला आता है, जहां पर 707 प्रति वर्ग किलोमीटर जनसंख्या का घनत्व है। इसके पश्चात करीमनगर का स्थान आता है जहां पर 322 प्रति वर्ग किलोमीटर जनसंख्या का घनत्व है। और फिर निजामाबाद और अंत में चौथे स्थान पर मेंदक जिला का नाम आता है जहां पर 313 प्रति वर्ग किलोमीटर जनसंख्या घनत्व है।

तेलंगाना में घूमने लायक जिला | Tourist Places In Telangana in Hindi

दक्षिण भारत राज्य में घूमने के लिए कई शानदार जगह है। जब आप एक बार दक्षिण भारत के राज्यों की सैर पर निकल जाते हैं तब वहां पर जाने के पश्चात आपको ऐसा लगता है कि अगर आप उन जगह को नहीं देखते तो शायद आपका जीवन अधूरा रह जाता। फिलहाल नीचे आपको तेलंगाना राज्य के अंदर घूमने लायक प्रसिद्ध जिले की जानकारी हमारे द्वारा दी जा रही है।

हैदराबाद

हैदराबाद में आपको बहुत सारी खूबसूरत इमारतें देखने का मौका मिलता है, साथ ही यहां की बिरयानी विश्व तौर पर फेमस है। इसीलिए यह पर्यटकों के लिए यह खास जगह मानी जाती है। अगर आप शॉपिंग करने का शौक रखते हैं तो आपको यहां पर बड़े से बड़े मॉल मिल जाएंगे। इसके अलावा हैदराबाद शहर में आप विभिन्न मकबरे, महल, किला और मस्जिद भी घूम सकते हैं। हैदराबाद शहर में आप अगर घूमने के लिए जाए तो हैदराबाद का गोलकुंडा किला, रामोजी फिल्म सिटी, चारमीनार, हुसैन सागर झील जैसी जगह को अवश्य घूमे।

वारंगल

साल 1195 से लेकर के 1323 तक वारंगल पर काकतीय राजवंश का शासन था। वरंगल का प्राचीन नाम ओरुगल्लू था। तेलंगाना राज्य में यह जिला मुख्यालय है। वारंगल जिले की हैदराबाद शहर से दूरी तकरीबन 145 किलोमीटर है। वारंगल जिले में आपको विभिन्न प्रकार के मंदिर और किले देखने को मिलते हैं।मुगल बादशाह औरंगजेब के द्वारा साल 1687 में गोलकुंडा सल्तनत के हिस्से के तौर पर वारंगल का अधिग्रहण किया गया और इसे हैदराबाद का हिस्सा बनाया गया।

उसके पश्चात साल 1948 में देश की गवर्नमेंट के द्वारा तेलंगाना और हैदराबाद को अपने अधिकार में लिया गया। वर्तमान के समय में वारंगल शहर में महात्मा गांधी मेडिकल कॉलेज और आईआईटी उपलब्ध है। इसके अलावा वारंगल जिले में घूमने के लिए कई सुंदर झील, मंदिर मौजूद है। वारंगल जिले में आप हजार स्तंभ मंदिर, भद्रकाली मंदिर, वारंगल का किला और रामप्पा मंदिर जैसी जगह को घूम सकते हैं।

निजामाबाद

यह हैदराबाद जिले के उत्तर पश्चिम से लगभग 175 किलोमीटर की दूरी पर स्थित है। निजामाबाद को इंद्रपुरी भी कहा जाता है। निजामाबाद जिले में आप हनुमान मंदिर, नीला कंटेश्वर मंदिर,खाली रामालयम मंदिर,श्री रघुनाथ मंदिर, श्री लक्ष्मी नरसिम्हा स्वामी मंदिर और सरस्वती मंदिर जैसी जगह को घूम सकते हैं।

आदिलाबाद

तेलंगाना राज्य में आप आदिलाबाद जिले में मौजूद विभिन्न प्रकार के स्थलों को घूम सकते हैं। पुराने समय में इसे एडुलापुरम कहा जाता था। वर्तमान के समय में तेलंगाना के दूसरे सबसे बड़े जिले में आदिलाबाद काबीज है। इस जिले पर समय-समय पर मौर्य, भोंसले राजवंश और मुगलों के द्वारा शासन किया गया है।

आदिलाबाद में आप कॉर्टिकल फॉल्स, कलवा नरसिम्हा स्वामी मंदिर, मंचेरियल सुरेंद्रपुरी की मेसोलिथिक पेंटिंग, तेलंगाना की रिंगिंग रॉक्सअलवनपल्ली जैन मंदिर, आमपल्ली सीता राम मंदिर जैसी जगहों को घूम सकते हैं।

FAQ:

तेलंगाना का सबसे बड़ा जिला कौन सा है ?

क्षेत्रफल के हिसाब से भद्राद्री कोठागुडम

तेलंगाना में कितने जिले है ?

33

कर्नाटक में कुल कितने जिले हैं ?

Leave a Comment