आम बजट (Union Budget of India) क्या है?

बजट शब्द को हम अक्सर समाचार पत्रों, न्यूज़ चैनल आदि में सुनते रहते है | दरअसल बजट का सीधा अर्थ अपनें धन को सुनियोजित ढंग से खर्च करनें की योजना बनाने से है | दूसरे शब्दों में अपनी आय के अनुसार खर्च की योजना बनाना बजट कहलाता है | कोई भी समझदार व्यक्ति किसी भी तरह के कार्यों को करनें के लिए अपनी आय के अनुसार बजट बनाकर ही खर्च करते है, जिससे हमारे खर्च संतुलित रहते है |

इसी प्रकार देश बेहतर ढंग से चलाने के लिए प्रति वर्ष सरकार द्वारा बजट बनाकर जनता के समक्ष पेश किया जाता है, जिससे देश की देश की अर्थव्यवस्था की जानकारी प्राप्त होती है | आम बजट (Union budget of India) क्या है, इसके बारें में आपको यहाँ पूरी जानकरी विस्तृत रूप से दे रहे है |

पीपीपी मॉडल क्या होता है

बजट की परिभाषा (Definition of Budget)

बजट (Budget) शब्द अंग्रेजी के ‘Bowgette’ से लिया गया है, इस शब्द की उत्पत्ति फ्रेंच भाषा के ‘Bougette’ से हुई है और यह शब्द ‘Bouge’ से बना है, जिसका अर्थ चमड़े का थैला होता है | बजट भविष्य के लिए बनायीं गयी एक ऐसी योजना है, जो प्रत्येक वर्ष राजस्व या अन्य साधनों से होनें वाली आय और व्यय को अनुमान के आधार पर बनाया जाता है |

इस बजट को वित्त मंत्री द्वारा अपनी आय और व्यय का अनुमान लगाकर आगामी वर्ष के लिए अनेक प्रकार की योजनाये बनाकर जनता के समक्ष प्रत्येक वित्तीय वर्ष के दौरान प्रस्तुत किया जाता है | दूसरे शब्दों में बजट एक निर्धारित समय-सीमा के लिए पहले से निर्धारित आय और व्यय का अनुमान है, जो कि भविष्य की फाइनेंसियल सिचुएशन को प्रदर्शित करनें के साथ ही फाइनेंसियल टारगेट्स को प्राप्त करनें में सहायता करता है |

ई-पैन ( E-PAN) क्या है

संविधान के अनुसार बजट (Budget According to Constitution)

भारतीय संविधान में बजट शब्द का उल्लेख नहीं है, परन्तु संविधान के आर्टिकल 112 में वार्षिक वित्तीय विवरण (Annual Financial Statement) के नाम से इसका विवरण दिया गया है |

इस फाइनेंशियल स्टेटमेंट में अनुमान के आधार पर आय और व्यय का उस वर्ष के लिए सरकार का विस्तृत ब्योरा होता है | भारत का पहला बजट जेम्स विल्सन द्वारा वर्ष 1860 में पेश किया गया था, जबकि स्वतंत्र भारत का पहला बजट आर के सरमुखम शेट्टी द्वारा वर्ष 1947 में पेश किया था |

राजकोषीय घाटा क्या होता है

आम बजट का क्या मतलब होता है ?

आम बजट केंद्र सरकार द्वारा प्रस्तुत किया गया सबसे बड़ा बजट होता है, जिसमें देश में रहनें वाले सभी वर्गों के व्यक्तियों के हितो को ध्यान में रखते हुए बनाया जाता है | इस बजट में सरकार को प्राप्त होनें वाली सभी प्रकार की आय और खर्च का लेखा-जोखा होता है, इसके साथ ही इस बजट में मंत्रालयों को उनके खर्चों के लिए धन का आवंटन होता है।

मुख्य रूप से इस बजट में सभी तरह के प्रावधान होते है, जो कि बिल के रूप मे पारित होते है | आम बजट में सरकार की आर्थिक नीति की दिशा दिखाई देती है अर्थात सरकार आगामी वित्त वर्ष में किस क्षेत्र में कितनी धनराशि खर्च करेगी, इसका विधिवत उल्लेख किया जाता है |  

सर्विस टैक्स या सेवा कर क्या होता है

आम बजट में क्या-क्या  शामिल होता है (What is Included In Union Budget)

बजट डॉकेट में लगभग 16 प्रकार के दस्तावेज होते है, जिसमें बजट भाषण भी शामिल है |  इसके साथ ही इस डॉकेट में सभी मत्रालयों के खर्च से सम्बंधित प्रस्तावों का पूरा विवरण दिया होता है तथा खर्च के लिए यह धनराशि कहाँ से आयेगी इसका भी विस्तृत ब्योरा होता है |

इस डॉकेट में वित्तीय बिल के साथ-साथ एप्रोप्रिएशन बिल (विनियोग विधेयक) भी शामिल होते है | वित्तीय बिल में अलग-अलग टैक्सेशन कानूनों में प्रस्तावित संशोधन होते हैं, जबकि एप्रोप्रिएशन बिल में सभी मंत्रालयों को होने वाले आवंटनों का लेखा-जोखा दिया होता है |

एनएसडीएल (NSDL) क्या है

प्रतिवर्ष बजट बनानें का उद्देश्य (Objective of Making Budget Every Year)

सरकार द्वारा प्रति वर्ष बजट बनाकर आगामी वित्त वर्ष में देश के विभिन्‍न क्षेत्रों जैसे- परिवहन, शिक्षा, उद्योग, स्वास्थ्य और विनिर्माण आदि में किये जानें वाले अनेक प्रकार के विकास कार्यों में होने वाले खर्चों का अनुमान लगाती है और इस प्रकार के अनुमानित खर्चों को पूरा करने के लिए धन की व्यवस्था करने हेतु विभिन्न प्रकार की चीजों पर कुछ नए कर या टैक्स को बढ़ाने का कार्य करती है |

साधारण शब्दों में कहें तो सरकार इस बजट द्वारा यह निर्धारित करती है, कि आगामी वित्त वर्ष में देश की प्रगति के लिए किन चीजों पर प्राथमिकता के साथ खर्च करना है और इसके लिए धन की व्‍यवस्‍था कैसे करनी है। आय-व्यय के इस ब्योरे के तैयार करना ही बजट कहलाता है और प्रत्येक बजट एक निर्धारित समय अवधि के लिए बनाया जाता है |   

भारतीय संविधान के आर्टिकल 112 में भारत के केंद्रीय बजट को एनुअल फाइनेंशियल स्टेटमेंट के रूप में निर्दिष्ट किया गया है, जो कि भारतीय गणराज्य का एनुअल बजट होता है | इस बजट को भारत के वित्त मंत्री द्वारा संसद में प्रत्येक वर्ष फरवरी के अंतिम कार्य-दिवस में पेश करते रहे हैं परन्तु वर्ष 2017 से इस बजट को फरवरी माह के पहले दिन पेश किया जा रहा है। आपको बता दें, कि भारतीय वित्‍त वर्ष 1 अप्रैल से 31 मार्च तक होता है | भारतीय संविधान के अनुसार, बजट को लागू करनें से पहले संसद द्वारा पास करना आवश्यक होता है |

टैन (TAN) नंबर क्या होता है  

यहाँ आपको आम बजट (Union Budget of India) के विषय में जानकारी उपलब्ध कराई है |  यदि आप इस जानकारी से संतुष्ट है, या फिर इससे समबन्धित अन्य जानकारी प्राप्त करना चाहते है तो कमेंट करे और अपना सुझाव दे सकते है, आपकी प्रतिक्रिया का जल्द ही निवारण किया जायेगा | अधिक जानकारी के लिए hindiraj.com पोर्टल पर विजिट करते रहे |

REBATE MEANING IN HINDI

Leave a Comment