Bhulekh Uttarakhand खसरा खतौनी ऑनलाइन चेक कैसे करें



उत्तराखंड गवर्नमेंट के प्रयास के फलस्वरूप उत्तराखंड में जितनी भी जमीनें हैं, उन सभी जमीनों के डाटा को ऑनलाइन ऑफिशियल पोर्टल पर फीड कर दिया गया है, ताकि उत्तराखंड के ऐसे लोग जो अपनी जमीन की जानकारी को ऑनलाइन निकालना चाहते हैं अथवा उत्तराखंड भूलेख के बारे में जानकारी पाना चाहते हैं या फिर अपना खसरा, खतौनी की डिटेल जानना चाहते हैं वह घर बैठे ही स्मार्टफोन अथवा कंप्यूटर के माध्यम से अपनी जमीन से संबंधित सारी जानकारी को निकाल सके और उसे देख सके, साथ ही जमीन के ऑनलाइन डॉक्यूमेंट को प्रिंट भी कर सकें।

img-1


अगर आपकी उत्तराखंड में जमीन है और आप उत्तराखंड भूलेख ऑनलाइन देखना चाहते हैं, तो आप उत्तराखंड भूलेख की ऑफिशियल वेबसाइट को विजिट कर सकते हैं। इस वेबसाइट पर आपको जमाबंदी, खसरा, खतौनी, भू नक्शा, भूलेख, भू अभिलेख जैसी डिटेल्स प्राप्त होंगी।

खसरा खतौनी और जमाबंदी का क्या मतलब होता है

उत्तराखंड भूलेख खसरा खतौनी 2022

यूके भूलेख पोर्टल की शुरुवात उत्तराखंड गवर्नमेंट और उत्तराखंड गवर्नमेंट के राजस्व एवं भूमि सुधार डिपार्टमेंट के प्रयास के फलस्वरूप हुई है। अधिकतर लोग इस पोर्टल को देवभूमि भूलेख पोर्टल के नाम से जानते और पहचानते हैं। इस पोर्टल को इसी लिए बनाया गया है ताकि उत्तराखंड के लोग अपनी जमीन की डिटेल्स ऑनलाइन देख सके और जमीन की खसरा खतौनी की जानकारी भी ऑनलाइन घर बैठे प्राप्त कर सके।



जिस प्रकार अन्य राज्यों के लोग अपनी जमीन की जानकारी ऑनलाइन देख सकते हैं, उस प्रकार अब उत्तराखंड राज्य के लोग भी जमीन की डिटेल्स ऑनलाइन देख सकते हैं और यही नहीं वह अपनी जमीन की जमाबंदी अथवा खसरा खतौनी को डाउनलोड या फिर प्रिंट करने के लिए भी ऑफिशियल पोर्टल अथवा वेबसाइट का इस्तेमाल कर सकते हैं, जिसे उत्तराखंड भूलेख पोर्टल अथवा उत्तराखंड भूलेख वेबसाइट कहा जाता है।

उत्तराखंड भूलेख/भू नक्शा

उत्तराखंड भूलेख की ऑफिशियल वेबसाइट पर जब आप जाते हैं तब आपको वहां पर कुछ आवश्यक प्रक्रिया करने के बाद अपनी जमीन या फिर भूमि की इंफॉर्मेशन लिखित तौर पर प्राप्त होती है, जिसे इंडिया के कुछ राज्यों में खाता के नाम से भी जाना जाता है। बता दें कि जमीन से संबंधित खसरा खतौनी बहुत ही महत्वपूर्ण डॉक्यूमेंट होता है। इस खसरा खतौनी में आपकी जमीन का नंबर और जगह की क्षेत्रफल की इंफॉर्मेशन होती है, जिसका फायदा यह होता है कि अगर आप अपनी जमीन को किसी को बेचना चाहते हैं, तो आप जमीन के क्षेत्रफल के हिसाब से जमीन का दाम लगा सकते हैं।

इसके अलावा अगर आप किसी व्यक्ति से जमीन खरीद रहे हैं तो आप उसकी जमीन के क्षेत्रफल के हिसाब से ही उसकी जमीन का दाम लगा सकते हैं। खसरा खतौनी ऑनलाइन फीड होने की वजह से अब भ्रष्टाचार में भी काफी कमी आई है, साथ ही जबरन अवैध कब्जे में भी काफी कमी आई है, क्योंकि जमीन के मालिक की इंफॉर्मेशन अब ऑनलाइन फीड होती है, जिससे दबंग भूमाफिया अब जमीनों पर कब्जा नहीं कर पा रहे हैं।

उत्तराखंड भूलेख हाईलाइट

विषय:     उत्तराखंड भूलेख ऑनलाइन
राज्य:     उत्तराखंड
विभाग:   डिपार्टमेंट ऑफ़ रेवेन्यू  
लाभार्थी:   उत्तराखंड के निवासी  
लाभ:   भूलेख खसरा खतौनी  
वर्ष:     2022
आधिकारिक वेबसाइट:  http://bhulekh.uk.gov.in

उत्तराखंड भूलेख खसरा खतौनी ऑनलाइन का क्या उद्देश्य

जनता की समस्या को देखते हुए उत्तराखंड गवर्नमेंट ने उत्तराखंड भूलेख, खसरा, खतौनी ऑनलाइन पोर्टल को इस उद्देश्य के साथ चालू किया है ताकि उत्तराखंड के ऐसे लोग जो अपनी जमीन की जानकारी प्राप्त करना चाहते हैं, वह ऑनलाइन पोर्टल पर जा कर के अपने जमीन की जानकारी जैसे कि भूलेख, भू नक्शा, खसरा, खतौनी, जमाबंदी इत्यादि प्राप्त कर सके, साथ ही जमीन से संबंधित डॉक्यूमेंट को भी ऑनलाइन निकाल सके।

गवर्नमेंट के द्वारा शुरू किए गए इस पोर्टल की वजह से उत्तराखंड के लोगों को जमीन की नकल निकालने में जो परेशानी होती थी, उससे आजादी मिलेगी। लोगों की सुविधा को देखते हुए गवर्नमेंट ने इस पोर्टल के यूजर इंटरफेस को भी काफी आसान बनाया है, ताकि हर कोई पोर्टल के यूजर इंटरफेस को समझकर के घर बैठे ही खुद से अपनी खसरा खतौनी निकाल सके या फिर जमीन की इंफॉर्मेशन प्राप्त कर सकें।

भूलेख उत्तराखंड के लाभ

  • उत्तराखंड की जमीन की इंफॉर्मेशन उत्तराखंड के लोग घर बैठे भूलेख उत्तराखंड पोर्टल से प्राप्त कर सकेंगे और जमीन का भूलेख या फिर खसरा खतौनी देख सकेंगे।
  • जमीन की इंफॉर्मेशन ऑनलाइन होने की वजह से लोगों का समय भी बचेगा और पैसे की भी बचत होगी।
  • जमीन की इंफॉर्मेशन ऑनलाइन होने की वजह से लोगों को गवर्नमेंट ऑफिस के चक्कर नहीं काटने पड़ेंगे।
  • भूलेख उत्तराखंड के पोर्टल को काफी आसान बनाया है ताकि हर कोई इसे एक्सेस कर सकें।
  • इस पोर्टल की स्टार्टिंग होने की वजह से उत्तराखंड गवर्नमेंट और उत्तराखंड के लोगों के बीच ट्रांसपेरेंसी आएगी, साथ ही जमीन से संबंधित भ्रष्टाचार पर भी रोक लगेगी।

जमीन की जानकारी ऑनलाइन कैसे देखे?

उत्तराखंड भूलेख खसरा खतौनी जमाबंदी नकल ऑनलाइन कैसे देखे?

  • अपनी जमीन की खसरा, खतौनी या फिर भूलेख देखने के लिए आपको भूलेख उत्तराखंड की ऑफिशियल वेबसाइट को विजिट करना है, जिसका लिंक आपको नीचे दिया गया है।
  • विजिट वेबसाइट: http://bhulekh.uk.gov.in/Bhulekh/
img-2
  • ऊपर दिए हुए लिंक पर क्लिक करने के पश्चात आप भूलेख उत्तराखंड की ऑफिशियल वेबसाइट के होम पेज पर पहुंचेंगे, जहां पर आपको दिखाई दे रहे पब्लिक “आर ओ आर” के ऑप्शन पर क्लिक करना है, उसके पश्चात आपकी स्क्रीन पर एक पेज आएगा।
img-3
  • स्क्रीन पर आए हुए पेज में आपको अपने जनपद, तहसील और अपने गांव का सिलेक्शन करना है। तत्पश्चात आपकी स्क्रीन पर एक नया पेज आएगा।
img-4
  • स्क्रीन पर आए हुए नए पेज में आप खाता संख्या, खसरा/गाटा संख्या और खातेदार के नाम से खतौनी देख सकते है।
  • खातेदार के नाम से खाते की नकल को प्राप्त करने के लिए आपको खातेदार के नाम द्वारा वाले लिंक पर क्लिक करना है, तत्पश्चात आपको खातेदार के नाम को निर्धारित जगह में डालकर के “खोजें” बटन को दबाना है।
  • अब आपकी स्क्रीन पर खातेदार का नाम आएगा, उस नाम का सिलेक्शन करने के बाद आपको “उद्धरण देखे” वाले ऑप्शन को दबाना है।
  • अब आपकी स्क्रीन पर आप की जमीन से संबंधित सारी इनफार्मेशन आ जाएगी, जिसे आप देख सकते हैं अथवा चेक कर सकते हैं और इसका प्रिंट आउट निकाल सकते हैं अथवा इसे डाउनलोड कर सकते हैं।

उत्तराखंड भू नक्शा ऑनलाइन कैसे देखें?

बता दें वर्तमान में टेक्निकल समस्या की वजह से अभी उत्तराखंड भू नक्शा आप भूलेख उत्तराखंड की ऑफिशियल वेबसाइट पर नहीं देख सकेंगे। वेबसाइट डेवलपर के द्वारा इसे फिक्स करने का प्रयास किया जा रहा है। जैसे ही इस टेक्निकल दिक्कत को फिक्स कर दिया जाएगा वैसे ही हम आपको उत्तराखंड भूलेख ऑनलाइन देखने का तरीका इसी आर्टिकल में अपडेट करके बता देंगे।

आप नीचे दिए गए उत्तराखंड के जिले की खसरा खतौनी ऑनलाइन देख सकते हैं।

  • अल्मोड़ा
  • उत्तरकाशी
  • चमोली
  • पौड़ी गढ़वाल
  • बागेश्वर
  • पिथौरागढ़
  • उधम सिंह नगर
  • चम्पावत
  • टिहरी गढ़वाल
  • देहरादून
  • नैनीताल
  • हरिद्वार
  • रुद्रप्रयाग

भूलेख उत्तराखंड पोर्टल पर लॉगिन कैसे करें?

  • अगर आप भूलेख पोर्टल पर लॉग इन करना चाहते हैं तो इसके लिए आपको सीधा उत्तराखंड भूलेख की ऑफिशियल वेबसाइट के होम पेज पर चले जाना है। ऑफिसियल वेबसाइट का लिंक आपको नीचे दिया गया है।
  • विजिट वेबसाइट:http://bhulekh.uk.gov.in/Bhulekh/
  • ऑफिशियल वेबसाइट के होम पेज पर पहुंचने के बाद आपको विभिन्न प्रकार के ऑप्शन दिखाई देंगे, जिनमें से आपको अपनी जरूरत के हिसाब से एक ऑप्शन का सिलेक्शन करना है, वह ऑप्शन निम्न प्रकार होंगे।
  • बोर्ड ऑफ रेवेन्यू एडमिनिस्ट्रेटिव लॉगइन |
  • डिस्ट्रिक्ट एडमिनिस्ट्रेटिव लॉगइन |
  • तहसील एडमिनिस्ट्रेटिव लॉगइन |
  • तहसील म्यूटेशन लॉगइन |
  • स्वामित्व यूजर लॉगइन |
  • तहसील रिपोर्ट लॉगइन |
  • डिस्टिक विलेज मैपिंग लॉगइन |
img-5
  • ऊपर दिए गए किसी भी ऑप्शन पर क्लिक करने के पश्चात आपकी स्क्रीन पर जो नया पेज आएगा, उसमें आपको निर्धारित जगह में यूजरनेम, पासवर्ड और कैप्चा कोड डालना है।
  • अब आपको “Login” की बटन पर क्लिक कर देना है। इस प्रकार आप लोग इन हो जाएंगे।

डाटा रूपांतरण एवं अपलोड करने की प्रक्रिया

  • इसके लिए भूलेख की ऑफिशियल वेबसाइट के होम पेज पर जाने के पश्चात “कन्वर्जन एंड अपलोड” वाले ऑप्शन को ढूंढे और प्राप्त होने पर उसके ऊपर क्लिक कर दें।
  • विजिट वेबसाइट:http://bhulekh.uk.gov.in/Bhulekh/
img-6
img-7
  • अब आपकी स्क्रीन पर एक पेज आएगा, जिसमें आप को निर्धारित जगह में यूजर नेम, पासवर्ड और कैप्चा कोड डालना है और उसके बाद “लॉगइन” बटन दबानी है।

Devbhoomi Uttarakhand Bhulekh App कैसे डाउनलोड करे?

  • देवभूमि उत्तराखंड भूलेख अप्लीकेशन को डाउनलोड करने हेतु आपको सीधा अपने स्मार्टफोन में गूगल प्ले स्टोर ओपन करना है।
  • अब ऊपर दिए गए सर्च बॉक्स पर क्लिक करके उत्तराखंड भूलेख लिखना है और सर्च बटन दबानी है।
img-8
  • अब आपकी स्क्रीन पर जो एप्लीकेशन पहले दिखाई दे रही है, उसके नाम के ऊपर क्लिक करने के पश्चात आपको इंस्टॉल की बटन दबानी है।
  • इतनी प्रोसेस पूरी होने के बाद थोड़ी देर में उत्तराखंड भूलेख एप्लीकेशन डाउनलोड हो जाएगी।

जमीन की रजिस्ट्री कैसे करवाएं ?

Leave a Comment