असम में कितने जिले है

असम भारत में मौजूद एक खूबसूरत राज्य है जिसे राज्य का दर्जा साल 1950 में 26 जनवरी के दिन भारतीय केंद्र सरकार (Central Government) के द्वारा दिया गया था। असम राज्य का वातावरण अधिकांश समय ठंडा ही रहता है क्योंकि यह राज्य पहाड़ियों से घिरा हुआ है। यहां की मुख्य बोली असमी भाषा है। इसके अलावा यहां पर, बंगाली, हिंदी भाषा भी बोली जाती है।

असम को तंत्र मंत्र का राज्य भी कहा जाता है। यहां पर विश्व प्रसिद्ध कामरूप कामाख्या मंदिर भी है जो अपनी तांत्रिक गतिविधियों के लिए काफी प्रसिद्ध है। असम में 1937 से ही विधानमंडल मौजूद है। इस लेख में हम जानेंगे कि असम में कितने जिले है | List of Districts in Assam with Name – असम का नक्शा एवम यहां के सभी जिलों के नाम क्या है।

सिक्किम में कितने जिले हैं

असम में कुल कितने जिले हैं ?

असम में कुल 35 जिले मौजूद हैं। असम हमारे भारत देश में पूर्वोत्तर में मौजूद एक बहुत ही समृद्ध राज्य है जिसका अपना एक प्रसिद्ध और गौरवशाली इतिहास है। 

असम राज्य की सीमा अरुणाचल प्रदेश, नागालैंड, मणिपुर, मिजोरम, त्रिपुरा, मेघालय और पश्चिम बंगाल जैसे राज्यों के साथ साझा करता है। इसके अलावा इसके दो तरफ के बॉर्डर भारत के पड़ोसी देश को भी छूते हैं। उत्तर में इस राज्य की सीमाएं अरुणाचल प्रदेश को टच करती है, जबकि दक्षिण में मिजोरम राज्य के जिलों को छूती है। 

असम के 35 जिलों के नाम | District Names of Assam State

  • तिनसुकिया जिला |
  • डिब्रूगढ़ जिला |
  • धेमाजी जिला |
  • चराईदेव जिला |
  • शिवसागर जिला |
  • लखीमपुर जिला |
  • माजुली जिला |
  • जोरहाट जिला |
  • विश्वनाथ जिला |
  • गोलाघाट जिला |
  • कार्बी आंगलोंग जिला |
  • शोणितपुर जिला |
  • नगाँव जिला |
  • होजाई जिला |
  • पश्चिम कार्बी आंगलोंग जिला |
  • डिमा हासाओ जिला |
  • काछाड़ जिला |
  • हाईलाकांदी जिला |
  • करीमगंज जिला |
  • मरिगाँव जिला |
  • उदलगुड़ी जिला |
  • दरंग जिला |
  • कामरूप महानगर जिला |
  • बक़सा जिला |
  • नलबाड़ी जिला |
  • कामरूप जिला |
  • बरपेटा जिला |
  • चिरांग जिला |
  • बंगाईगाँव जिला |
  • गोवालपारा जिला |
  • कोकराझार जिला |
  • धुबरी जिला |
  • दक्षिण सालमारा मनकाचर जिला |
  • बाजली जिला |
  • तामूलपुर जिला |

असम का नक्शा | Map of Assam

असम का सर्वाधिक साक्षरता वाला जिला 

असम राज्य में सबसे अधिक पढ़ी-लिखी आबादी असम के कामरूप मेट्रोपॉलिटन जिले में निवास करती है, क्योंकि यहां पर साक्षरता की दर 88.71% है। इसके पश्चात जोरहाट जिले का नंबर आता है। 

जोरहाट जिले की साक्षरता की दर 82.15% है। इसके पश्चात तीसरे नंबर पर शिव सागर जिले का स्थान आता है। यहां की साक्षरता की दर 80.41% है। चौथे स्थान पर कछार, पांचवे स्थान पर नलबाड़ी, छठवें स्थान पर करीमगंज जिले का स्थान आता है। नीचे टेबल के माध्यम से यह बताया गया है कि असम में कौन से राज्य में साक्षरता की दर कितनी है।

1:कामरूप मेट्रोपोलिटन88.71
2जोरहट82.15
3सिबसागर80.41
4कछार79.34
5नलबारी78.63
6:करीमगंज78.22
7:दीमा हासओ77.54
8गोलाघाट77.43
9:लखीमपुर77.2
10:डिब्रूगढ़76.05
11कामरूप75.55
12:हैलकन्दी74.33
13धेमाजी72.7
14नौगांव72.37

मणिपुर में कितने जिले हैं

असम का सर्वाधिक जनसंख्या वाला जिला 

साल 2011 में संपूर्ण भारत में जनसंख्या हुई थी जिसे सामाजिक, आर्थिक और जातीय जनगणना कहां गया था। उस जनगणना के हिसाब से असम में सबसे ज्यादा जनसंख्या नौगांव जिले में निवास करती है, जिसके बाद जनसंख्या के मामले में असम में दूसरे स्थान पर धुबरी जिले का स्थान आता है। 

इसके बाद तीसरे स्थान पर सोनितपुर और चौथे स्थान पर कछार जिले का नाम आता है। नीचे सूची के माध्यम से यह बताया गया है कि असम में जनसंख्या के मामले में कौन सा जिला कौन से स्थान पर है।

क्रमांक जिले का नाम जनसँख्या 
1नौगांव2823768
2धुबरी1949258
3:सोनितपुर1924110
4:कछार1736617
5:बारपेटा1693622
6:कामरूप1517542
7तिनसुकिया1327929
8डिब्रूगढ़1326335
9:कामरूप मेट्रोपोलिटन1253938
10:करीमगंज1228686
11सिबसागर1151050
12जोरहट1092256
13:गोलाघाट1066888
14लखीमपुर1042137
15गोलपाड़ा1008183

असम का सर्वाधिक लिंगानुपात वाला जिला 

असम में सबसे बेहतरीन लिंगानुपात बक्सा जिले का है। बक्सा जिले में प्रति एक हजार पुरुषों पर 974 महिलाएं हैं, वहीं दूसरे स्थान पर असम के उदलगुरी जिले का नाम आता है। यहां पर प्रति 1000 पुरुषों पर 973 महिलाएं मौजूद है।

असम का सर्वाधिक विकास दर वाला जिला

विकास दर के मामले में असम में पहले स्थान पर धुबरी जिला विराजमान है। धुबरी जिले की विकास दर 24.44 प्रतिशत है। दूसरे स्थान पर मोरीगांव जिले का नाम आता है। यहां की विकास दर 23.34 प्रतिशत है। तीसरे स्थान पर गोलपाडा जिले का नाम आता है। यहां की विकास दर 22.64 प्रतिशत है। 

इसके पश्चात दारांग जिले का नाम आता है। दारांग जिले की विकास दर 22.19 प्रतिशत है। इसके बाद नौगांव जिले का स्थान आता है। यहां की विकास दर 22.00 प्रतिशत है। इसके बाद क्रमश हैलकन्दी, बारपेटा, बोंगाईगांव, कछार, और धेमाजी जिले का नाम आता है।

क्रमांक जिले का नाम विकास दर 
1धुबरी24.44%
2:मोरीगांव23.34%
3गोलपाड़ा22.64%
4:दारांग22.19%
5नौगांव22.00%
6करीमगंज21.90%
7:हैलकन्दी21.45%
8:बारपेटा21.43%
9बोंगईगांव20.59%
10:कछार20.19%
11:धेमाजी19.97%

असम का सर्वाधिक भूमि क्षेत्रफल वाला जिला

असम राज्य में सबसे ज्यादा भूमि क्षेत्रफल कार्बी आंगलोंग जिले का है। यहां पर भूमि क्षेत्रफल 10434 वर्ग किलोमीटर है। 

असम का सर्वाधिक जनसंख्या घनत्व वाला जिला 

असम में सबसे ज्यादा जनसंख्या घनत्व कामरूप मेट्रोपॉलिटन जिले का है। इसके बाद धुबरी जिले का है। कामरूप जिले में जनसंख्या घनत्व 2010 प्रति व्यक्ति वर्ग किलोमीटर है, वही धुबरी जिले में जनसंख्या घनत्व 1171 प्रति व्यक्ति वर्ग किलोमीटर है।

अरुणाचल प्रदेश में कितने जिले हैं

असम में घूमने लायक जगह | Tourist Places in Assam

अगर आपका घूमने का प्लान बन रहा है या फिर आप घूमने जाने का प्लान बना रहे हैं तो आपको असम अवश्य घूमने के लिए जाना चाहिए। 

यहां पर मौजूद प्रसिद्ध और ऐतिहासिक जगह अवश्य ही आपको पसंद आने वाली है। नीचे असम राज्य के अंदर मौजूद कुछ प्रसिद्ध जगह की जानकारी आपको दी जा रही है।

गुवाहाटी 

असम के अंदर मौजूद गुवाहाटी शहर ब्रह्मपुत्र नदी पर बसा हुआ है। इसे असम का सबसे आधुनिक शहर कहा जाता है साथ ही यह शहर अपनी प्राकृतिक खूबसूरती की वजह से भी काफी प्रसिद्ध है। 

इसलिए पर्यटकों के द्वारा गुवाहाटी को काफी अधिक पसंद किया जाता है। यहां पर आपको खाने पीने के लिए अलग-अलग वैरायटी की चीजें मिलती है।

इसके अलावा यहां पर आपको विभिन्न दर्शनीय स्थल भी दिखाई देते हैं। इसके अलावा आपको यहां पर रिवर राफ्टिंग, बर्डवाचिंग करने का मजा मिलता है।

साथ ही आपको जीप सफारी का आनंद भी यहां पर प्राप्त होता है। अगर आपको फोटोग्राफी का शौक है तो आपको यहां पर फोटो क्लिक करने के लिए बेहतरीन जगह मिल जाएंगी।

गुवाहाटी शहर में आप निम्न जगहों को घूम सकते हैं

  • कामाख्या मंदिर |
  • असम स्टेट म्यूजियम |
  • दीघलीपुखूरी पार्क |
  • उग्रतारा मंदिर |
  • गुवाहाटी प्लैनेटेरियम |
  • पीकॉक आइलैंड |
  • पोबीतोरा वाइल्डलाइफ सैंचुरी |
  • असम स्टेट चिड़ियाघर |

दिसपुर 

असम का दिसपुर शहर असम की राजधानी भी है जो कि अपनी प्राकृतिक सुंदरता और जनजाति संस्कृति के लिए काफी ज्यादा प्रसिद्ध है। यहां पर आपको विभिन्न प्रकार के प्राचीन हिंदू मंदिर घूमने को मिल जाते हैं। 

इसके अलावा यहां पर बड़े बड़े पहाड़ भी मौजूद हैं, जो पर्यटको के मन को मोह लेते हैं। आपको यहां पर वन्यजीवों की कई प्रजातियां भी दिखाई देती है, साथ ही अलग-अलग प्रकार की वनस्पतियां भी देखने को मिलती हैं। यहां का मौसम साल भर बेहतरीन रहता है। इसलिए आप यहां पर जब चाहे तब घूमने के लिए जा सकते हैं।

आप दिसपुर में निम्न जगहों को घूम सकते हैं।

  • बसिष्ठा आश्रम |
  • शिल्पग्राम |
  • नवग्रह टेम्पल |
  • जनार्दन टेम्पल |
  • शाम को ब्रम्हपुत्र नदी में क्रूज की सैर |
  • उमा नंदा टेम्पल |

जोरहाट

असम का दूसरा सबसे बड़ा राज्य जोरहाट शहर है जिसकी दूरी गुवाहाटी से तकरीबन 305 किलोमीटर की है। आप यहां के खूबसूरत चाय के बागानों को घूम सकते हैं। 

इसके अलावा यहां पर विभिन्न बगीचे, मकबरे और मस्जिदे भी मौजूद है जिसे आप घूम सकते हैं। अगर आप असम की संस्कृति को नजदीक से देखना चाहते हैं तो आपको जोरहाट शहर घूमने जाना चाहिए। 

आप जोरहाट शहर में निम्न जगहों को घूम सकते हैं।

  • नीमती घाट |
  • राजा मैदान |
  • चिन्नामोरा टी इस्टेट |
  • जोरहाट गयमखाना क्लब |
  • गिब्बॉन वन्य जीव अभ्यारण |
  • मोलई फारेस्ट |
  • माजुली आइलैंड |
  • ढेकीआखोंना बोरनामघर |
  • जोरहाट साइंस सेंटर |
  • लाचित बोर्फुकांस मैडम |
  • सुकफा समन्नाय क्षेत्र |

FAQ

असम की राजधानी क्या है ?

दिसपुर 

असम के सर्वाधिक जनसंख्या वाले जिले का नाम क्या है ?

नौगांव

असम को राज्य का दर्जा कब मिला ?

26 जनवरी 1950

असम का सर्वाधिक साक्षरता वाला जिला कौन सा है ?

कामरूप मेट्रोपॉलिटन

असम राज्य की मुख्य भाषा क्या है ?

असमी

त्रिपुरा में कितने जिले हैं

Leave a Comment