C/O Meaning in Hindi

जब हम किसी को कोई पार्सल, पत्र आदि भेजते है, तो सबसे पहले उस व्यक्ति का नाम लिखा जाता है | नाम लिखनें के पश्चात सन ऑफ़ (S/O), डॉटर ऑफ (D/O) तथा केयर ऑफ (C/O) आदि शार्ट फॉर्म का उपयोग करते है | दरअसल इन सभी शार्ट फॉर्म का अपना एक अर्थ होता है, तथा इनका उपयोग भी भिन्न-भिन्न परिस्थितियों में किया जाता है |

आज हम आपको अपनें इस लेख के माध्यम से केयर ऑफ (C/O) के बारें में जानकारी देने जा रहे है | हालाँकि वर्तमान समय में लोग पत्रों के माध्यम से सन्देश (Message) या जानकारी (Information) देने का कार्य मोबाइल से मेसेज या व्हात्सप्प द्वारा ही करते है | परन्तु सरकारी विभाग तथा बैंक द्वारा भेजी जानें वाली नोटिस आज भी कोरियर या स्पीड पोस्ट द्वारा भेजी जाती है | ऐसे में हमारे लिए इन सभी शार्ट फॉर्म की जानकारी होना अत्यंत आवश्यक है | तो आईये जानते है, C/O Meaning in Hindi | C/O Full Form in UIDAI/Form (सी/ओ का मतलब) के बारें में |

Aadhar Card Helpline Number

सी/ओ का फुल फॉर्म क्या होता है (C/O Full Form)

सी/ओ (C/O) का फुल फॉर्म केयर ऑफ (Care of) होता है | हिंदी भाषा में इसका अर्थ ‘देखभाल करनें वाला’ होता है | साधारण भाषा में कहा जाये, तो इसका मतलब ‘देखभाल करनें वाला’ का आशय उस व्यक्ति से है, जिसके संरक्षण में आप रह रहे है |   

PM SVANidhi Mobile App

सी/ओ का मतलब क्या है (What Is The Meaning Of C/O)

वैसे तो केयर ऑफ (Care of – C/O) शार्ट फॉर्म का इस्तेमाल कई स्थानों पर अलग-अलग तरीके से किया जाता है और इनका अर्थ भी अलग-अलग होता है | अधिकांश लोग इस शब्द का उपयोग उस व्यक्ति का पता अर्थात एड्रेस (Address) लिखते समय करते हैं | जब कोई पत्र या पार्सल डाकघर या कोरियर (Post Office or Courier) के माध्यम से आता है, तो आपने अक्सर देखा होगा कि एड्रेस पर केयर ऑफ (C/O) लिखा होता है | दरअसल इस शब्द का इस्तेमाल करनें से एड्रेस बड़ी सरलता से मिल जाता है |

उदाहरण के लिए मान लीजिये, कि आपका ट्रान्सफर (Transfer) किसी दूसरे जिले (District) या प्रान्त (Province) में हो गया है | ऐसे में आपनें उस दूसरे जिले में किराये पर घर लिया है | ऐसे में स्वाभाविक रूप से उस नए स्थान पर आपको कोई नहीं जानता है, परन्तु आप जिस व्यक्ति के घर में किराये पर रह रहे है उन्हें उस क्षेत्र के सभी लोग, डाकिया (Postman) और कोरियर बॉय (Courier Boy) आदि सभी जानते है |

ऐसे में यदि आपको अपना ऑफिस या किसी अन्य जगह पर अपना एड्रेस देना पड़ता है, तो आप अपना नाम लिखनें के बाद केयर ऑफ (C/O) कर उस व्यक्ति का नाम लिखेंगे, जिसके घर में आप रह रहे है | अपने एड्रेस में केयर ऑफ लिखवानें से डाकिए या कोरियर बॉय को यह पता चल जाता है, कि यह किसको देना है और किसके जरिए देना है |

आधार कार्ड (Aadhar Card) क्या है

आधार कार्ड में सी/ओ का मतलब (C/O Full Form in UIDAI/Form)

अभी तक आधार कार्ड (Aadhar Card) में सन ऑफ़ (Son Of- S/O) या डॉटर ऑफ़ (Daughter Of – D/O) या वाइफ ऑफ़ (Wife Of- W/O) लिखा हुआ मिलता है, परन्तु वर्तमान समय में बननें वाले आधार कार्ड में इस सभी शार्ट फॉर्म के स्थान पर केयर ऑफ़ अर्थात C/O लिखा हुआ मिलेगा |

दरअसल भारतीय विशिष्ट पहचान प्राधिकरण अर्थात यूआईडीएआई (UIDAI) नें अब इसे सी/ओ (C/O) के रूप में मानकीकृत कर दिया है, हालाँकि इसे भरना ऑप्शनल है | यदि आप केयर ऑफ़ (C/O) के क्षेत्र में कुछ भी नहीं लिखना चाहते है, तो आप इस कॉलम को छोड़ सकते हैं। आप चाहें तो अपने माता-पिता (Parents), जीवनसाथी (Spouse) या उस व्यक्ति का उल्लेख कर सकते हैं, जिसके साथ आप रह रहे हैं |

ई गवर्नेंस (ई-शासन) क्या होता है

Leave a Comment