डॉक्टर कितने प्रकार के होते हैं



Types of Doctors in Hindi: भारत समेत दुनिया मे कई प्रकार की बीमारियाँ निरंतर बढ़ती जा रही हैं, इसलिए अलग-अलग तरह की बीमारी के लिए अलग-अलग विशेषज्ञ डॉक्टर होते हैं, जिन्हें अलग-अलग नामों से जाना जाता है।

img-1


लेकिन बहुत से लोगों को इसके बारे में विशेष जानकारी नहीं होती कि Doctor कितने प्रकार के होते हैं | किस बीमारी मे किस Doctor के पास जाना चाहिए? तो आज इस आर्टिकल में आपको इसके बारे में डिटेल में बताया गया है।

डॉक्टर (Doctor) कैसे बने

Doctor क्या होते हैं?

डॉक्टर एक प्रोफेशन हैं, जिसमें विद्यार्थी चिकित्सा क्षेत्र में स्नातकोत्तर डिग्री (एमबीबीएस), डिप्लोमा, और एमडी या डीएम कोर्सेस में विशेष शिक्षा और प्रशिक्षण प्राप्त करके डॉक्टर बनते हैं और मरीजों के स्वास्थ्य संबंधित समस्याओं का निदान व उपचार करते हैं। विभिन्न प्रकार की बीमारियों के लिए अलग-अलग विशेषज्ञ यानि स्पेशलाइज़ डॉक्टर होते हैं, जैसे कि मस्तिष्क रोग विशेषज्ञ, बाल-रोग विशेषज्ञ, दिल के सर्जन, ऑर्थोपेडिक सर्जन, गर्भवती महिलाओं और नवजात शिशु की देखभाल करने वाले डॉक्टर आदि।



 Doctor कितने प्रकार के होते हैं?

Doctor Kitne Prakar Ke Hote Hain: डॉक्टर कई प्रकार के होते हैं, जो हर बीमारी का इलाज अलग-अलग तरीके से करते हैं और इनकी ईलाज पद्धति भी अलग-अलग ही होती है जैंसे: होम्योपैथिक, एलोपैथिक, आयुर्वेदिक डॉक्टर होते हैं, जिनमे से सबसे ज्यादा प्रचलित एलोपैथिक डॉक्टर होते हैं, जो सामान्यतः आधुनिक तरीके से मरीज का इलाज करते हैं और तुरंत मरीज को राहत प्रदान करते हैं क्योंकि अन्य पद्धतियों में सभी बिमारियों का इलाज संभव नहीं होता हैं जैसे यदि किसी का ऑपरेशन करना है तो उसका इलाज होम्योपैथी और आयुर्वेद के माध्यम से संभव नहीं है, इसलिए इनमें से सर्वाधिक प्रचलित एलोपैथिक डॉक्टर ही होते हैं, इसलिए विभिन्न बीमारियों से सम्बंधित विभिन्न प्रकार के डॉक्टर और उनकी विशेषज्ञता के बारे में आपको आगे बताया गया है, जो इस प्रकार हैं- 

1. General Physician

जनरल फिजिशियन यह एलोपैथी की एक सामान्य शाखा है, जिसमें सर्दी-खांसी एवं आम बीमारियों का इलाज किया जाता है, इस शाखा में सामान्य बुखार,सर्दी -खांसी,सामान्य चोट,आदि लगने पर इलाज किया जाता है और इस शाखा के विशेषज्ञ डॉक्टर को जनरल डॉक्टर या जनरल फिजिशियन कहा जाता है।

2. Cardiology (cardiologist)

Cardiology, एलोपैथी की एक विशिष्ट शाखा है, जिसमें दिल से संबंधित बीमारियों का इलाज किया जाता है। इस शाखा के अंतर्गत दिल की बीमारियाँ जैंसे- साँस फूलना, दिल की नसों में खिंचाव होना, हार्ट में ब्लॅlकेज होना, इसके अलावा हार्ट से संबंधित सभी बीमारियों का इलाज कार्डियोलॉजी में किया जाता है तथा इन बीमारियों का इलाज करने वाले डॉक्टर को ह्रदय रोग विशेषज्ञ या इंग्लिश में Cardiologist कहा जाता है।

3. Physiatrists

Physiotherephist की जरूरत हमें अमूमन तब पड़ती है जब हमारे साथ कोई दुर्घटना हो जाती है या हमारा एक्सीडेंट हो जाता है, जिसमें हमारी गर्दन की हड्डी में या रीढ़ की हड्डी में चोट लग जाती है इस तरह की चोट ठीक होने में काफी टाइम लगता है ओर यह काफी खर्चीला भी होता है, इसके अलावा  Physiatrists दिव्यांगों का भी इलाज करते है।

4. Dentist

ये प्रमुख रूप से दांत के डॉक्टर होते हैं, जो दांतों से संबंधित बीमारियों का इलाज करते हैं, जैंसे दांतों में झनझनाहट, दांतों में कीड़े लगना, दांतों को निकलवाने, मसूड़ों मे सूजन संबंधी आदि की जांच की जाती है। दांतों का इलाज करने वाले डॉक्टर को डेन्टिस्ट कहा जाता है।

5. Allergist

जो एलर्जी से संबंधित बीमारियों या समस्याओं की जांच करते है उन्हें Allergists या Immunologists कहा जाता है, जिसमें एलर्जी से संबंधित बीमारिया जैंसे बच्चों और वयस्कों में अस्थमा, खुजली, एलर्जी और कुछ प्रतिरक्षित रोगों जैंसे प्रतिरक्षा प्रणाली में विकारों का निदान किया जाता है।

6. Audiologist

Audiologist, कान से संबंधित बीमारियों का इलाज करते हैं। अगर किसी को कान से संबंधी समस्याएं जैसे कम सुनाई देना, बिल्कुल सुनाई न देना या कान से संबंधित अन्य समस्याओं का इलाज Audiologist करते हैं। ये डॉक्टर कान से संबंधित हर बीमारी का अच्छे से मूल्यांकन करते हैं।

Homeopathy Doctor क्या होता है ?

7. Rectal Surgeons

ये पेट और मलाशय से जुड़ी समस्याओं जैंसे पेट ओर मलाशय का कैंसर, आंत्रशोध (छोटी आंत की सूजन) की बीमारी, विपुटीय रोग (पेट के विकार ) जैंसी बीमारियों का इलाज करते हैं साथ ही कोलोन और रेकटल सर्जन सर्जरी जैंसे बड़े ऑपरेशन भी करते हैं।

8. Anesthesiologist

एनेस्थीसिया से आशय उस मेडिकली क्रिया से है, जिसमें किसी पेशेंट की कोई सर्जरी करते समय संबंधित अंग या जिस अंग की सर्जरी करनी होती है, को शून्य कर दिया जाता है, ताकि मरीज की सर्जरी करते समय दर्द न हो और सर्जरी आसानी से की जा सके। यह एक विशेष प्रकार की दवाई होती है, जो इंजेक्शन के रूप में होती है, इसमें सिरिंज के माध्यम से अंग को शून्य किया जाता है। इस प्रक्रिया को करने वाले डॉक्टर को Anesthesiologist कहा जाता है, जो विशेष प्रशिक्षण प्राप्त होते हैं। ये गंभीर चोटिल रोगियों एवं पुराने दर्द को ठीक करने में अन्य डॉक्टर्स की मदद करते हैं।

9. Dermatologist

त्वचा से सबंधित जितनी भी परेशानियां या बीमारियां होती हैं जैंसे- त्वचा, बाल और नाखूनों से जुड़ी बीमारियों का इलाज करने वाले डॉक्टर को डर्मेटोलॉजिस्ट कहा जाता है, इसमें त्वचा का कैंसर, त्वचा में खुजली, सोरायसिस जैसी बीमारियां शामिल है। ये डॉक्टर इन बीमारियों के इलाज में माहिर एवं सीधे शब्दों में कहें तो विशेषज्ञ होते हैं।

10. Critical Care Medicine Specialist

Critical Care से तात्पर्य गंभीर रूप से बीमार और घायल लोगों या ऐसे पेशेंट जिन्हें तुरंत इलाज न दिया गया तो उनकी जान भी जा सकती है, जैसी स्थितियों से निपटने में माहिर डॉक्टर्स को क्रिटिकल केयर मेडिसिन स्पेशलिस्ट कहा जाता है।

11. Endocrinologist

ये डॉक्टर्स पिटयूटरी ग्रंथि, अग्नाशय, अंडाशय, थायराइड, हाइपोथेलेमस, ग्रंथियों आदि से जुड़ी समस्याओं या बीमारियों का इलाज करते हैं, इनके अलावा ये मधुमेह आदि के इलाज में भी मदद करते हैं।

12. Emergency medicine Specialist

ये आपातकालीन चिकित्सा एवं स्वास्थ्य परीक्षण करते है एवं गंभीर बीमार या घायल हुए रोगी के जीवन और मृत्यु से संबंधित फैंसले लेने की क्षमता रखते हैं, ये स्पेशलिस्ट डॉक्टर, रोगी को बचाने के साथ-साथ गंभीर स्थिति से निपटने के निर्णय लेने में सक्षम होते हैं।

13. Geriatric Medicine Specialist

बुजुर्गों की स्वास्थ्य देखभाल करते हैं एवं अपने घरों, डॉक्टरों के कार्यालयों नर्सिंग होम्स में सहायता प्राप्त करने वाले केंद्रों और अस्पतालों में लोगों का इलाज करते हैं। ये उन बीमारियों में विशेषज्ञ होते हैं, जिनकी जरूरत बुजुर्गों को होती है।

14. Gastroenterologists

पेट से संबंधित समस्याएं जैंसे पाचन क्रिया सही न होना या पेट दर्द, अल्सर, लीवर और पित्ताशय सहित पाचन अंगों के विशेषज्ञ होते हैं और रोगी का उचित उपचार करते हैं।

डॉक्टर का रजिस्ट्रेशन नम्बर कैसे चेक करे

15. Gynecologist

स्त्री या महिलाओं से संबंधित सभी समस्याओं का उपचार करते है, इन्हें स्त्री रोग विशेषज्ञ भी कहा जाता है। महिलाओं को प्रेगनेंसी के दौरान गाइनेकोलॉजिस्ट के पास निरंतर इलाज के लिए जाना होता है, इनके पास प्रजनन प्रणाली और उससे संबंधित रोगों का विशेष प्रशिक्षण प्राप्त होता है।

16. Hospice And Productive Medicine Specialists

यह दर्द प्रबंधन के विशेषज्ञ होते हैं एवं रोगी के लिए जीवन गुणवत्ता बनाए रखने के लिए हर संभव प्रयास करके रोगी के जीवन को बचाना इनका काम होता है।

17. Hematologist

रक्त संबंधित विकारों एवं उनका निदान करने के लिए हमें जिस डॉक्टर की आवश्यकता होती है, उसे हैमेटोलॉजिस्ट कहते हैं,ये ब्लड सेल्स, प्लीहा इसके अलावा इनमें सिकल सेल एनीमिया, होमोफिलिया और ल्यूकेमिया जैसी बीमारी आती हैं।

18. Infection Disease Specialists

संक्रमण फैलाने वाली किसी भी बीमारी जैसे- लाइन रोग, तपेदिक आदि रोगों के निदान के लिए Infectious Disease Specialist के पास जाने की सलाह दी जाती है।

19. Internists

प्राथमिक उपचार देने वाले डॉक्टर को Internists कहा जाता है। ये सामान्य बीमारियों के साथ-साथ जटिल बीमारियों का इलाज भी करते हैं, जिनमें इंटरनिस्ट्स कार्डियोलॉजी, गैस्ट्रोएंटरोलॉजी, एंडोक्रिनोलाजी, पाल्मनोलॉजी जैसी आदि बीमारियां आती हैं।

20. Nephrologists

गुर्दे की बीमारियों से संबंधित विशेषज्ञ डॉक्टर को नेफ्रोलॉजिस्ट कहते हैं।

21. Medical Geneticist

माता पिता से बच्चों में होने वाली बीमारी जिन्हें अनुवांशिक बीमारी भी कहा जाता है से संबंधित बीमारियों का इलाज करने वाले डॉक्टर Medical Geneticist  कहलाते हैं।

22. Neurologist

न्यूरोलॉजिस्ट तंत्रिका तंत्र से संबंधित बीमारियों का इलाज करते हैं, जिनमें हमारे शरीर की मस्तिष्क, रीढ़ की हड्डी एवं कई संवेदी अंग शामिल हैं।

23. Ocologists

वे डॉक्टर जो कैंसर के इलाज का अध्ययन करते हैं Oncologists कहलाते हैं। इसमें सभी प्रकार के कैंसर शामिल होते हैं, इसमें रेडिएशन मेडिकल और सर्जिकल शामिल हैं।

24. Ophthalmologists

यह नेत्र संबंधी बीमारियों का इलाज करते हैं और ग्लूकोमा जैसी बीमारियों का निदान कर सकते हैं।

25. Psychiatrists

हिंदी में इन्हें मनोचिकित्सक कहा जाता है,जो मानसिक रूप से कमजोर यानि मस्तिष्क या मन के रोगों का इलाज करते हैं। ये मानसिक रोगों के साथ-साथ शारीरिक रोगों का भी सही तरीके से इलाज करते हैं।

कौन सी दवा किस काम आती है ?

Conclusion

बहुत से युवाओं का सपना मेडिकल क्षेत्र में डॉक्टर बनकर करियर बनाने का होता हैं, इसलिए आज हमने इस आर्टिकल के माध्यम से मेडिकल की लगभग सभी शाखाओं के बारे में विस्तार से बताया हैं। आप जिस भी क्षेत्र में जाना चाहें उसके बारे में अच्छे से अध्ययन कर एक सफल डॉक्टर बन सकते हैं। उम्मीद है आपको आर्टिकल पसंद आया होगा। धन्यवाद!

Leave a Comment