जेडीयू का फुल फॉर्म क्या है

स्वतंत्रता प्राप्ति के पश्चात भारत में अनेक प्रकार की राजनीतिक पार्टियों का जन्म हुआ, जिनमें से कुछ ऐसी पार्टियाँ है, जिन्हें राष्ट्रीय राजनीतिक दल का दर्जा प्राप्त है। भारत में 7 फ़रवरी 2020 तक राजनीतिक दलों को तीन समूहों अर्थात राष्ट्रीय दल (संख्या 8), क्षेत्रीय दल (संख्या 53) और गैर मान्यता प्राप्त दलों (संख्या 2044) के रूप में विभाजित किया गया |  इन्ही राजनीतिक दलों में से जनता दल यूनाइटेड OR Janata Dal United (JDU) भी एक है, जिसे शार्ट में जदयू या जेडीयू भी कहा जाता है|

जदयू का प्रभाव मुख्य रूप से बिहार और झारखंड में है तथा इस पार्टी को बिहार और अरुणाचल प्रदेश में राज्य स्तरीय राजनीतिक पार्टी का दर्जा प्राप्त है | इस राजनीतिक दल के राष्ट्रीय अध्यक्ष नी‍तीश कुमार है, जो कि वर्तमान में बिहार के मुख्यमंत्री है | जनता दल यूनाइटेड (जेडीयू) कागठन 30 अक्टूबर 2003 को हुआ था | जेडीयू का फुल फॉर्म क्या है, और इस पार्टी की सदस्यता प्राप्त करनें के बारें में आपको इस पेज पर विस्तार से जानकारी दे रहे है |

बीजेपी (BJP) का फुल फॉर्म क्या है

जेडीयू का फुल फार्म | JDU Full Form

जेडीयू (JDU) का फुल फार्म “जनता दल यूनाइटेड (Janta Dal United)” है | इस राजनीतिक पार्टी की स्थापना जनता दल के शरद यादव गुट, लोकशक्ति पार्टी और समता पार्टी के विलय के बाद 30 अक्टूबर 2003 को किया गया था |

आरएसएस (RSS) ज्वाइन कैसे करे

जेडीयू का इतिहास (History Of JDU)

जनता दल यूनाइटेड (जेडीयू) बिहार और झारखंड में एक प्रभावकारी राजनीतिक दल के रूप में है | दरअसल राष्ट्रीय जनता दल और जनता दल यूनाइटेड एक ही परिवार के राजनीतिक वंशज हैं | एक समय में लालू प्रसाद यादव और नीतीश कुमार जनता दल में एक साथ राजनीतिक करते थे | बिहार की सत्ता लालू यादव को मिलने के कुछ समय बाद नीतीश नें जॉर्ज फर्नांडीस के साथ मिलकर एक अलग रास्ता तय कर लिया | जब लालू यादव चारा घोटाला में फंसे तो लालू ने एक अलग पार्टी आरजेडी बना ली, इस प्रकार जनता दल शरद यादव के पास रह गई | इसके बाद ही जनता दल यूनाइटेड का उदय हुआ |

जेडीयू का इतिहास बड़ा ही रोचक है, और इसके इतिहास को समझने के लिए थोड़ा और पीछे जाना होगा | यह बात उस समय कि है जब देश में आपातकाल था, और आपातकाल के विरोध में जेपी आंदोलन खड़ा हुआ | इसके साथ ही अनेक विरोधी पार्टियों नें इंदिरा गांधी के नेतृत्व वाली कांग्रेस सरकार को सत्ता से बेदखल कर दिया | हालाँकि आन्दोलन कारियों की एकजुटता ज्यादा नहीं चली और धीरे-धीरे जनता पार्टी बिखर गई | इसके पश्चात सन 1989 में विश्वनाथ प्रताप सिंह के नेतृत्व में फिर जेपी आंदोलन के समय के नेता एकजुट हुए और जनता दल का गठन किया | वर्ष 1990 के दौर में बीजेपी से समर्थन से जनता दल की सरकार बन गई, उस समय शरद यादव और नीतीश कुमार जनता दल में ही शामिल थे |

Love Jihad (लव जिहाद) क्या है

समता पार्टी की स्थापना (Establishment of Samta Party) | JDU Party Leader

लालू यादव के मुख्यमंत्री बनते ही वर्ष 1994 मेंनीतीश कुमार लालू यादव से अलग हो गए और उन्होंने एक अलग दल समता पार्टी का गठन कर लिया | वर्ष 1995 में लालू यादव के खिलाफ चारा घोटाला में सीबीआई द्वारा चार्जशीट दाखिल कर दी गई, जिसके कारण लालू को मुख्यमंत्री पद से इस्तीफ़ा देना पड़ा | यहाँ सबसे खास बात यह है, कि लालू नें 1997 में जनता दल छोड़कर अलग राष्ट्रीय जनता दल बना ली और दूसरी तरफ जनता दल की कमान शरद यादव को मिल गई | 

इस प्रकार शरद यादव नें 1998 में लोकदल को जनता दल के साथ मिलाकर जनता दल यूनाइटेड का गठन किया और शरद यादव नें 1999 के चुनाव में मधेपुरा लोकसभा सीट से लालू को पराजित कर वाजपेयी सरकार में मंत्री पद प्राप्त कर लिया | फिलहाल जनता दल यूनाइटेड औपचारिक तौर पर 30 अक्टूबर 2003 को वजूद में आई थी | नीतीश कुमार नें अपनी समता पार्टी का विलय जनता दल यूनाइटेड में कर लिया इसके साथ ही जनता दल से निष्काषित रामकृष्ण हेगड़े की लोक शक्ति का विलय भी जनता दल यूनाइडेट में हुआ, उसी समय से नीतीश कुमार जेडीयू का हिस्सा बने हुए है |

भारत के प्रधानमंत्री की सूची

जेडीयू की उपलब्धियां (JDU Achievements)

वर्ष 2005 में बिहार विधानसभा का चुनाव बीजेपी और जेडीयू नें मिलकर लड़ा, इस चुनाव में इस गठबंधन दल को जबरदस्त समर्थन मिला | इस गठबंधन नें कुल 142 सीटों पर जीत दर्ज की, इसमें  88 जेडीयू और भाजपा को 55सीटें मिली | इस प्रकार नीतीश कुमार बिहार के मुख्यमंत्री बन गये |  

वर्ष 2010 के विधानसभा चुनाव में बीजेपी और जेडीयू के गठबंधन नें जबरदस्त प्रदर्शन किया और 206 सीटों पर अपना कब्ज़ा जमा लिया | इनमें बीजेपी नें 91 सीटें और जेडीयू के खाते में 115 सीटें आयी |  जबकि अन्य दलों में आरजेडी 22, एलजेपी 3 और कांग्रेस 4 सीटों पर ही सिमट कर रह गई |

हालांकि, गठबंधन में कड़वाहट उस समय आ गई, जब भाजपा नें तत्कालीन गुजरात के मुख्यमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में 2014 का आम चुनाव लड़ने का निर्णय किया | इसी बीच 16 जून 2013 को मुख्यमंत्री नीतीश कुमार और तत्कालीन जेडीयू अध्यक्ष शरद यादव नें एनडीए से अलग होने का ऐलान कर दिया और शरद यादव ने एनडीए के संयोजक पद से भी इस्तीफा दे दिया |

भाजपा को छोड़ने के बाद भी नीतीश कुमार कमजोर नहीं पड़े और नीतीश कुमार नें विधानसभा में बहुमत साबित कर दिया | कांग्रेस और सीपीआई नें भी जेडीयू के समर्थन किया | नीतीश कुमार इस तरह बिना बीजेपी के समर्थन के सरकार चलाते रहे |

विधानसभा चुनाव में नामांकन कैसे होता है

नीतीश और लालू यादव का समझौता (Agreement Between Nitish and LaluYadav)

बीजेपी से नाता तोड़नें के बाद 2014 के लोकसभा चुनाव में जेडीयू का वर्चस्व कायम न रहा, ऐसे में नीतीश ने मुख्यमंत्री पद से इस्तीफा दे दिया और जीतनराम मांझी को मुख्यमंत्री बनाया गया | हालाँकि 10 महीने बाद ही मांझी से इस्तीफा मांग लिया गया और नीतीश कुमार नें पुनः सत्ता संभाली | इसी वर्ष के अंत में विधानसभा चुनाव का मौका आया, तो नीतीश नें लालू यादव के साथ महागठबंधन के साथ मिलकर चुनाव लड़ा |

महागठबंधन ने बीजेपी को चारों खाने चित कर दिया | वादे के अनुसार, नीतीश कुमार को मुख्यमंत्री और लालू यादव नें छोटे पुत्र तेजस्वी यादव को उपमुख्यमंत्री व बड़े बेटे तेजप्रताप यादव को कैबिनेट में मंत्री का पद दिलाया | हालाँकि दो वर्षों में यह नाता टूट गया और जुलाई 2017 में नीतीश कुमार नें महागठबंधन से अलग होते हुए सीएम पद से इस्तीफा दे दिया, परन्तु नीतीश को बीजेपी से ऑफर मिला, इस प्रकार नीतीश कुमार नें फिर से सरकार बना ली |

चुनाव आयोग (ELECTION COMMISSION) क्या है

जेडीयू का मेम्बर कैसे बनें (How to become a member of JDU)

जेडीयू का सदस्यता आप ऑनलाइन (jdu membership online) और ऑफ़लाइन दोनों माध्यम से बन सकते है | ऑनलाइन के अंतर्गत आपको इसकी अधिकारिक वेबसाइट (janata dal united official website) https://www.janatadalunited.online/OlineMembership.aspx पर जाकर मेम्बरशिप फॉर्म भर सकते हैं | इसके आलावा आप अपनें क्षेत्र के नजदीकी कार्यालय में जाकर भी आप इस पार्टी के मेंबर बन सकते हैं |

NDA और UPA क्या है?

यहाँ आपको जेडीयू (JDU) राजनीतिक दल के विषय में बताया गया है | इससे समबन्धित अन्य जानकारी प्राप्त करना चाहते है तो कमेंट करे और अपना प्रश्न पूछें, आपके प्रश्न का जल्द ही उत्तर देने का प्रयास किया जायेगा | इसी तरह की और भी जानकारी के लिए hindiraj.com पोर्टल पर विजिट करते रहे |

फ्लोर टेस्ट (FLOOR TEST) क्या होता है

Leave a Comment