सीएससी (CSC) क्या है

सीएससी से सम्बंधित जानकारी (CSC Related Information)

सीएससी को कॉमन सर्विस सेंटर के नाम से भी जाना जाता है | इस सर्विस सेंटर को संचालित करनें वाले को वीएलई (VLE)  कहा जाता है |  वीएलई का पूरा नाम “Village Level Entreprenuer” होता है | दरअसल कॉमन सर्विस सेंटर अर्थात सीएससी एक ऐसा केंद्र है, जहाँ उस गाँव या कस्बे में रहने वाले नागरिक सरकार द्वारा शुरू की गयी योजनाओं का लाभ लेने हेतु ऑनलाइन आवेदन या इससे सम्बंधित अन्य कार्य बड़ी सुगमता से कर सकते है |

आपको बता दें, कि सीएससी केंद्र को संचालित करनें में जो भी खर्च आता है, वह सब सीएससी वीएलई (CSC VLE)  द्वारा वहां किया जाता है और सीएससी वीएलई द्वारा किये गये कार्यों से मिलनें वाला कमीशन ही उनका लाभ होता है|

पंचायत सहायक क्या होता है

सीएससी 2.0 क्या है (What Is CSC 2.0)

सरकार द्वारा शुरू की जानें वाली योजनाओं के बेहतर क्रियान्वन के लिए वर्ष 2016 में सीएससी 2.0 की शुरुआत की गयी थी | इसके अंतर्गत प्रत्येक गाँव में कम से कम एक कॉमन सर्विस सेंटर खोलनें की अनुमति दी गयी थी | इसके लिए प्रत्येक जिले में एक सीएससी डिस्ट्रिक्ट मेनेजर (CSC District Manager) की नियुक्ति की गयी थी |

दूसरे शब्दों में, पूरे जिले के सीएससी को काम देने की जिम्मेदारी एक ही व्यक्ति के पास होनें के कारण भ्रष्ट्राचार के साथ-साथ भेदभाव की शिकायते आने लगी | जिसके कारण सरकार नें नियमों में संशोधन करते हुए प्रत्येक जिले में अब District Service Provider का चयन किया जायेगा |

ग्राम प्रधान (Gram Pradhan) कैसे बने?

सीएससी 3.0 क्या है (What Is CSC 3.0)

डिजिटल इंडिया मुहिम को आगे बढ़ाने में कामन सर्विस सेंटर अर्थात सीएससी का अहम योगदान है | आपको बता दें, कि वर्तमान में कॉमन सर्विस सेंटर- सीएससी 3.0 स्टार्ट हो चुका है | इन जन सेवा केंद्र के माध्यम से लोगो को आय, जाति, निवास, बैंकिंग, कृषि आदि विभिन्न प्रकार की सेवाएं प्रदान की जाती है| 

सीएससी 3.0 के अंतर्गत प्रत्येक जिले में दो CSC District Service Provider की नियुक्ति की जाएगी | यह सर्विस प्रोवाइडर जिले में नए सीएससी खोलने एवं समस्त सरकारी योजनाओ का सफल करवाने में CSC VLE की सहायता करेंगें |

यहाँ तक कि सीएससी में उपलब्ध सभी प्रकार की सेवाओं को गांव के प्रत्येक घर तक पहुंचाने की जिम्मेदारी भी इन्ही की होगी | इस योजना के अंतर्गत प्रत्येक ग्राम पंचायत में 5 डिजिटल कैंडिडेट की भर्ती की जाएगी | आपको बता दें, कि सीएससी डिस्ट्रिक्ट प्रोवाइडर का सिलेक्शन ई-टेंडर नोटिस 3.0 प्रक्रिया के अंतर्गत किया जायेगा तथा आवेदकों का चयन District e-Governance Society द्वारा किया जाएगा| 

ग्राम पंचायत पोर्टल क्या है

सीएससी 3.0 के फीचर्स (Features of CSC 3.0)

  • सरकारी व गैर सरकारी योजनाओं को लोगो के घर-घर तक पहुंचाना |
  • डिस्ट्रिक्ट सर्विस प्रोवाइडर द्वारा नए कामन सर्विस सेंटर खोलनें के साथ ही CSC VLE की सहायता करना |  
  • पांच डिजिटल कैंडिडेट की भर्तियों की सुनिश्चित करना |
  • महिलाओं को आगे बढ़ानें के लिए सार्थक कदम उठाना |
  • प्रत्येक व्यक्ति के घर-घर जाकर सरकारी योजनाओं की जानकारी देना |
  • गांव में बैंकिंग सेवाओं से सम्बंधित जानकारी देना |

जिलाधिकारी को शिकायत कैसे करे

सीएससी डिस्ट्रिक्ट सर्विस प्रोवाइडर हेतु आवेदन प्रक्रिया (Application Process for CSC DSP)

सीएससी डिस्ट्रिक्ट सर्विस प्रोवाइडर (CSC District Service Provider) बनने के लिए आप अपने राज्य की ई – टेंडर वेबसाइट पर जाएं | जैसे कि उत्तर प्रदेश की ई-टेंडर वेबसाइट https://etender.up.nic.in है, यहाँ से आप ऑनलाइन आवेदन कर सकते हैं| इसके आलावा आप अपने जिले के District E-Governance Society या विकास भवन में संपर्क कर सकते हैं|

ग्राम विकास अधिकारी (VDO) कैसे बने

सीएससी (CSC) क्या है

भारत देश में करीबन आबादी 130 करोड़ से ज्यादा है, और ऐसे में सरकारी सेवाए जिनका उपयोग बहुत अधिक मात्रा में किया जाता है, अक्सर सरकारी ऑफिस और दफ्तरों को जाम कर देती है | आप बिजली बिल जमा करने वाली लाइन को एक उद्धरण के रूप में ले सकते है | ऐसे में बुनयादी और बहुतायत वाली सेवायो का संचालन सरकारी दफ्तर से दे पाना बहुत मुश्किल हो रहा था | भारत सरकार (Central Government) ने इसी समस्या को ध्यान में रखकर 2006 में एक NeP (National e-governance Plan) की योजना चलायी जिसमे ऐसी सर्विसो कोई डिस्ट्रिक्ट पोर्टल (e-District Scheme)सीएससी सेवा केंद्र या जन सेवा केंद्र (Common Service Center) के माध्यम से उपलब्ध कराने का कार्य किया गया |

आज है भारत सरकार के डिजिटल इंडिया प्रोग्राम (Digital India Program) के तहत सीएससी ग्राहक सेंटर (Grahak Sewa Kendra) के विषय में बात करेंगे, और जानेगे कि सीएससी (CSC)का क्या मतलब होता है, इसका फुल फॉर्म, सीएससी कैसे कार्य करता है और कॉमन सर्विस सेण्टर में ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन कैसे करे | टॉपिक के बारे में पूरी जानकारी पाने के लिए इस आर्टिकल को पूरा पढ़े |

ई डिस्ट्रिक्ट परियोजना क्या है

क्या है सीएससी (What is CSC in Hindi)

भारत सरकार के आईटी मंत्रालय इलेक्ट्रॉनिकी और सूचना प्रौद्योगिकी मंत्रालय (MeitY) के द्वारा चलाया गया यह एक ई कार्येक्रम है जिसके तहत स्थानीय स्तर पर सरकारी सुविधाए इलेक्ट्रॉनिक माध्यम से उपलब्ध करायी जा सके | इसके लिए देश में 20 हज़ार केंद्र बनाये गए है जोकि पंचायत स्तर (Panchayat Raj) की सारी सुविधाए जिनमे बैंक, इन्सुरांस, रेलवे, प्रमाण पत्र, जमीन व कागज़ सम्बन्धी आदि सेवाए शामिल है | देश में स्थापित इन केन्द्रों को कॉमन सर्विस सेंटर के नाम से जाना जाता है | यह भारत सरकार की डिजिटल लक्ष्य में कॉमन सर्विस सेंटर स्कीम है जिसे सभी देश में सरकार की विभिन्न योजनायो के बारे में सभी आम लोगो में जागरूकता हो सके|

सीएससी (CSC) का फुल फॉर्म

सीएससी या CSC का फुल फॉर्म ‘Common Service Centre’ होता है जिसे हिंदी में ‘ग्राहक सेवा केंद्र’ भी कहते है |

डिजिटल इंडिया योजना क्या है

सीएससी ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन कैसे करे | CSC VLE Online Form

CSC आउटलेट के लिए आपको सीएससी VLE (Village Level Entrepreneur) के लिए आवेदन करना होगा, जिसमे निम्न स्तर है:-

  • सर्वप्रथम http://register.csc.gov.in पर जाए और “Apply > New Registration” पर क्लिक करे |
  • अपना नाम, ईमेलसहित अपना लिंग, जन्म तिथि, राज्यआदि जानकारी भरकर फॉर्म जमा कर दे |
  • अगले पेज में आपको अपना पैन कार्ड, बैंकिंग जानकारी जमा करना होगा (नियम व शर्ते जरूर पढ़े) |
  • फॉर्म जमा कर दे और Reference ID को सम्भाल कर रखे |
  • फॉर्मकी जमा की गयी कॉपी को डाउनलोड करना अनिवार्य है और इसे स्वत अटेस्ट करके नजदीकी सीएससी ऑफिस मेनेजर को जमा कर दे |
  • अगर आपका आवेदन स्वीकार किया जाता है तो आपको मेल कर दिया जाएगा जिसमे आपको Digimail Credential भी मेल किया जाएगा जिस https://mail.digimail.in/ पर उपयोग कर सकते है |

नोट: नये नियम के मुताबिक अब आपको VLE रजिस्ट्रेशन के लिए पहले Telecentre Entrepreneur Course (TEC) Certificateरखना अनिवार्य है, जिसके लिए http://www.cscentrepreneur.in/register पर आपको विजिट करना होगा |

जन्म प्रमाण पत्र क्या होता है

क्या सीएससी VLE के लिए कोई शुल्क लगेगा?

नहीं, ऐसे कोई शुल्क का प्रावधान नहीं है |

सीएससी पंजीकरण के लिए जरूरी डॉक्यूमेंट

मनोदर्पण कार्यक्रम क्या है

अब आप पूरा लेख पढ़कर सीएससी सेंटर के लिए ऑनलाइन आवेदन कर सकते है और इसमें आपको कोई शुल्क भी नहीं देना है | निश्चित ही इस सेंटर के द्वारा आपएक इनकम का सोर्स बना सकते है | जिसमे आप आम जन को उनके मतलब की सुविधा उपलब्ध करा सकते है | Hindiraj.com का यह लेख अच्छा लगे तो आगे शेयर जरूर करे |

आय प्रमाण पत्र (INCOME CERTIFICATE)

Leave a Comment