फुटबॉल (Football) खेल के नियम

फुटबॉल (Football) दुनिया के सर्वाधिक लोकप्रिय तथा मनोरंजक खेलो मे से एक है, क्रिकेट के ही समान भारत के साथ -साथ अन्य देशो में भी यह खेल पसंद किया जाता है | यह खेल बहुत ही रोमांचकारी होता है, तथा विभिन्न देशो के युवा वर्ग के मध्य रूचि तथा उत्साह के साथ खेला जाता है | ब्राजील, स्पेन, अर्जेंटीना, फ्रांस आदि देशों के लोगो के बीच गर्म जोशी के साथ खेला जाता है|  फुटबॉल (Football) एक सामूहिक खेल है, जिसकी दोनों दलों में 11-11 खिलाडी होते है, इस खेल को दो दलों के बीच एक दूसरे के विरुद्ध खेला जाता है | इस खेल का मुख्य उद्देश्य विरोधी दल में गोल में फ़ुटबाल (Football) डालना तथा एक दूसरे के विरुद्ध अधिकतम गोल करना होता है | यहाँ पर आपको “फुटबॉल (Football) खेल के नियम, फुटबॉल के बारे में जानकारी” उपलब्ध कराई गयी है |

क्रिकेट अंपायर (CRICKET UMPIRE) कैसे बनें

फुटबॉल खेल के नियम (Rules of Playing Football)

  • स्ट्राइकर (Striker)

इनका मुख्य कार्य गोल मारना होता है।

  • डिफेंडर्स (Defenders)

अपनी विरोधी टीम के सदस्यों को गोल स्कोर करने से रोकने का कार्य डिफेंडर्स को करना होता है।

  • मिडफिल्डर्स (Midfielders)

विरोधी टीम से गेंद छीन कर अपने आगे खेलने वाले खिलाड़ियों को गेंद देने का कार्य मिडफिल्डर्स को करना होता हैं।

  • गोलकीपर (Goalkeeper)

गोल कीपर का काम गोल पोस्ट के सामने खड़े रहकर ही गोल होने से रोकना होता है।

फुटबॉल किक (Football Kick)

  • थ्रोइन (Throw-In)

इसमें गेंद पूरी तरह से रेखा पार कर जाती है। तब उस विरोधी टीम को पुरस्कार में मिलती है, जिसने गेंद को अंतिम बार छुआ होता है।

  • गोल किक (Goal Kick)

जब गेंद पूरी तरह गोल रेखा को पार कर जाए तो गोल के बिना ही स्कोर होता है, और हमलावर द्वारा गेंद  को आखिरी बार छूने के कारण बचाव करने वाले दल को पुरस्कार में किक करने का मौका मिलता है।

  • कॉर्नर किक (Corner Kick)

जब गेंद बिना गोल के ही गोल रेखा को पार कर जाती है, और बचाव करने वाली टीम द्वारा गेंद को आखिरी बार छूने के कारण हमलावर दल को अवसर दे दिया जाता है |

  • इनडायरेक्ट फ्री किक (Indirect Free Kick)

यह विरोधी टीम को पुरस्कार में मिलती है, जब बिना किसी विशेष फाउल (Foul) के गेंद को बाहर भेज दिया जाए और खेल रुक जाए।

भारत में कुल कितने क्रिकेट स्टेडियम है

फुटबॉल के खेल में फाउल के नियम (Rules of Foul In Football)

  • येलो कार्ड (Yellow Card)

फुटबाल खेल में येलो कार्ड का बहुत महत्व होता है इस कार्ड के जरिये रेफरी खिलाड़ी को उसके गलत व्यवहार के लिए सज़ा के रूप में यलो कार्ड (Yellow Card) दिखाकर मैदान के बाहर भेज सकता है।

  • रेड कार्ड (Red Card)

येलो कार्ड (Yellow Card) के बाद भी खिलाड़ी के व्यवहार में सुधार नहीं होनें की दशा में  रेड कार्ड (Red Card) दिया जाता है| रेड कार्ड का मतलब है मैदान से बाहर। यदि एक खिलाडी को बाहर निकाल दिया जाता है, तो उसकी जगह कोई दूसरा खिलाडी नहीं आ सकता है। इस तरह खिलाड़ियों की संख्या कम हो जाती है।

  • ऑफसाइड (Offside)

ऑफसाइड (Offside) नियम में आगे के खिलाडी गेंद के बिना बचाव करते हुए दूसरे खिलाडी के आगे नहीं जा सकते, खासकर विरोधी दल की गोल रेखा के एकदम पास यदि कोई खिलाड़ी ऐसा करता है, तो उसे फाउल (Foul) माना जाता है।

क्रिकेटर (CRICKETER) कैसे बने

फुटबॉल मैच खेलने का तरीका (Way of Playing Football Match)

फुटबॉल (Football) मैच दो दलों के मध्य खेला जाता है जिसमें दोनों दलों के अंतर्गत 11-11 खिलाड़ी होते हैं। दोनों दलों के 11-11 खिलाड़ी अपने गोल पोस्ट पर गोल बचाने और दूसरे गोल पोस्ट में गोल करनें का प्रयास करते हैं। यह खेल कुल 90 मिनट का होता है, जिसमे  45 मिनट के बाद ब्रेक होता है, तथा 45-45 मिनट में दो हाफ मिलते है तथा इन दोनों हाफ में कुछ समय अलग से मिलता है, जिसे आवश्यकता पड़नें पर प्रयोग किया जाता है।

जैसे क्रिकेट के खेल में अंपायर के समान फुटबॉल (Football) के खेल में रेफरी को सारे अधिकार होते है, तथा रेफरी का अंतिम निर्णय ही मान्य होता है। मैच के दौरान सहायक रेफरी भी होता है, जो रेफरी की सहायता करता है। खेल प्रारम्भ होने का निर्णय टॉस करके लिया जाता है। इसमें टॉस जीतने वाला कप्तान ही तय करता है, कि उसकी टीम गोल पोस्ट पर हमला करना चाहती है या फिर गेंद को किक मारना चाहती है। जब भी मैच में कोई गोल होता है, तो गेंद को सेंटर लाइन पर रखकर दोबारा खेल शुरू किया जाता है।

सुपर ओवर (SUPER OVER) क्या होता है

फुटबॉल का इतिहास (History of Football)

फुटबॉल (Football) शब्द की उत्पत्ति के विषय सभी लोगो का अलग-अलग मत है, खेल के दौरान गेंद को पैर से मारा जाता था, इसी कारणवश इसका नाम फुटबॉल (Football) पड़ गया | इस नाम की उत्पति के वास्तविक श्रोत के विषय में जानकारी उपलब्ध नहीं है, फीफा (Federation of International Football Association) के अनुसार चीनी खेल सुजू का यह विकसित रूप है, यह खेल चीन में ह्याँ वंश के दौरान विकसित हुआ था |  फुटबॉल (Football) खेल को जापान के असुका वंश के शासन काल में केमरी के नाम से जाना जाता था| सन 1586 ई.में यह जॉन डेविस (John Davis) नाम के एक समुद्री जहाज के कप्तान के कार्यकर्ताओं के द्वारा ग्रीन लैंड (Green Land) में खेला गया| इसके बाद फुटबॉल (Football) के विकास की यात्रा के वर्णन रोबर्ट ब्रौज स्मिथ ने सन 1878 में एक किताब के रूप में किया था |

फ्री हिट (FREE – HIT) क्या है

15वीं शताब्दी में फुटबॉल की स्थिति (Football Condition In The 15th Century)

पंद्रहवीं शताब्दी में फुलबॉल (Football) नाम का खेल स्कॉटलैंड में खेला जाता था | फुटबॉल एक्ट (Football Act)  के अंतर्गत 1424 ई. यह खेल प्रतिबंधित कर दिया गया था, लेकिन जल्द ही इस खेल पर लगा प्रतिबन्ध हटा भी लिया गया था | प्रतिबंधित होने के कारण लोगो की रूचि इस खेल के प्रति कम हो गयी थी, तथा  इसके बाद 19वी शताब्दी में इस खेल का पुनर्जन्म देखने को मिला, तब तक  बहुत से स्थानों पर यह खेल खेला जा रहा था |

ब्रिटेन के राजकुमार हेनरी चतुर्थ ने पहली बार 1409 ई में अंग्रेजी में ‘फुटबॉल’ शब्द का प्रयोग किया था इसके साथ ही लैटिन में भी फुटबाल का एक विस्तृत इतिहास रहा है| अतः हम कह सकते है छोटा सा दिखने वाला यह फुटबॉल (Football) अपने आप में एक बहुत लम्बा इतिहास समाहित किये हुए है |

आईपीएल (IPL) क्या है

फुटबॉल से सम्बंधित इतिहास के रोचक तथ्य (Football History Related Interesting Facts)

  • वर्ष 1486 में सैंट अलबन्स की पुस्तक में लिखा है कि ‘फुटबॉल’ एक खेल होने से अधिक एक विशेष तरह की गेंद है |
  • वर्ष 1526 में इंग्लैंड के राजा किंग हेनरी अष्टम ने एक जोड़ी ऐसा जूता बनाने की आज्ञा दी जिसे पहन कर फुटबॉल (Football) सरलता से खेला जा सके |
  • वर्ष 1580 में सर फिलिप सिडनी की एक कविता में महिलाओं के द्वारा एक विशेष प्रकार का फुटबॉल (Football) खेलने का वर्णन किया गया है |
  • 16 वीं सदी के अंत और 17 वीं सदी के शुरुआती दौर में प्रथम बार खेल में दोनों टीमों के बीच कॉम्पटीशन लाने के लिए खेल में ‘गोल’ करने का नियम बनाया गया | इसके लिए खिलाडियों ने मैदान में दो विपरीत शीर्ष में झाड़ियाँ लगा कर गोल पोस्ट का निर्माण किया | उस समय आठ अथवा बारह गोल का एक मैच खेला जाता था |
  • मध्य युग से ही फुटबॉल (Football) पर सदैव प्रतिबन्ध का संकट कायम रहा |
  • वर्ष 1314 में पहली बार यह कानून ब्रिटेन में पारित हुआ, इसके बाद अठारहवीं सदी में फुटबॉल को सशस्त्र विरोध का सामना करना पडा |
  • वर्ष 1921 में इंलिश और स्कॉटिश फुटबॉल लीग में महिलाओं के द्वारा फुलबॉल खेलना निषेध हो गया हालाँकि इस प्रतिबन्ध को सन 1970 में पुनः हटा लिया गया था |

शतरंज कैसे खेला जाता है

20वी सदी में फुटबॉल की स्थिति (Football Condition in the 20 Century)

20 वीं सदी में फुटबॉल (Football) खेल को एक ऐसी संस्था की आवश्यकता होने लगी, जो नियमित रूप से इसकी देखभाल कर सके | इंग्लिश फुटबॉल एसोसिएशन (English Football Association) के द्वारा कई ऐसी सभाएं आयोजित की गयीं, जहाँ से एक अंतर्राष्ट्रीय स्तर की संस्था का उद्भव हो | फलस्वरूप यूरोप के सात बड़े देश नीदरलैंड, स्पेन, फ्रांस, बेल्जियम, डेनमार्क, स्वीडन और स्विटज़रलैंड ने मिलकर 21 मई 1904 में Federation of International Football Association (फेडरेशन इंटरनेशनल ऑफ़ फुटबॉल एसोसिएशन) की स्थापना की, जिसे संक्षेप में एफईएफ़ए (FIFA) कहते है, जिसके प्रथम अध्यक्ष रोबर्ट गुएरिन बनाये गए थे |

गार्ड ऑफ ऑनर क्या है

वर्तमान में फुलबॉल की स्थिति (Football Condition In Present)

वर्तमान समय फुटबॉल (Football) अत्यधिक लोकप्रिय होने के साथ-साथ बहुत ही बड़े पैमाने पर खेला जा रहा है| राष्ट्रीय तथा अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर इसके बहुत से मुकाबले आयोजित कराए जाते है | इसके अलावा कई फुटबॉल क्लबों (Football Clubs) की स्थापना राष्ट्रीय और अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर भी की जा चुकी है | फुटबॉल (Football) का सबसे बड़ा मुकाबला फुटबॉल विश्वकप (Football World Cup) का होता है| लियोलें मेस्सी, रोनाल्डिन्हो, रोनाल्डो, नेमर, आदि कई नाम इस तरह दुनिया भर के मशहूर फुटबाल खिलाडी हैं | आज के युवा वर्ग इस खेल के प्रति बहुत अधिक उत्साहित  दिखाई देते है, तथा इस खेल में अपना भविष्य बनाना चाहते है |

बैडमिंटन खेल के नियम

फुलबॉल का प्रारूप (Football Games Format)

इस खेल में खिलाड़ियों के दो दल होते है, प्रत्येक दल में ग्यारह – ग्यारह खिलाडी होते है | 90 मिनट का यह खेल होता है, जिसके तहत खिलाड़ियों को अधिक से अधिक गोल करना होता है | 90 मिनट के खेल के दौरान 45 मिनट के बाद एक ब्रेक होता है, जिसे हाफ-टाइम (Half Time)  कहा जाता हैं | यह हाफ टाइम (Half Time) 15 मिनट का होता है। ब्रेक के बाद का खेल 45 मिनट तक लगातार चलता रहता है | इस बीच यदि कोई खिलाडी घायल हो जाता है, तो ‘इंजरी टाइम’ के अंतर्गत कुछ देर के लिए इस खेल को रोककर, फिर से पुनः वहीँ से शुरू कर दिया जाता है |

बीसीसीआई का मतलब क्या है

फुटबॉल की माप (Measurement Of Football)

आरम्भ में फुटबॉल (Football) जानवरों की ब्लैडर से निर्मित की जाती थी, कुछ समय बाद फुटबॉल (Football) पर जानवरों की चमड़ी का इस्तेमाल होने लगा, जिससे इसका आकार निश्चित रहने लगा| आधुनिक समय में विकसित वैज्ञानिक तकनीक के द्वारा वर्तमान में बेहतर फुटबॉल (Football) बनाने वाली कंपनियाँ स्थापित हो गयी हैं, जो मैच, मैदान, खिलाड़ियों की उम्र आदि के आधार पर ध्यान देते हुए फुटबॉल का निर्माण करती है | फुटबॉल (Football) गेंद 58 सेमी से 61 सेमी के मध्य की परिधि का एक वृत्ताकार गेंद होती है |

कबड्डी (KABADDI) में करियर कैसे बनायें

फुटबॉल के मैदान की माप (Measurement Of Field)

फुटबॉल (Football) का मैदान 100 गज, 50 गज से 130 गज,  अथवा 100 मी, 64 मी से 110 मी, 75 मी तक का आयताकार आकार का होता है। फुटबॉल (Football) के मैदान की लम्बाई को ‘साइड लाइन’ तथा चौड़ाई को ‘गोल लाइन’ कहते हैं। खेल के मैदान के ठीक बीच में एक रेखा होती है, जो मैदान को दो बराबर भागों में विभाजित करती है। मध्य रेखा के केन्द्र से 10 गज त्रिज्या का एक वृत्त बनाया जाता है। यह वृत्त ‘आरम्भ का वृत्त’ कहलाता हैं | मैदान के दोनों सिरों पर 8 गज (7.32 मीटर) चौड़े गोल क्षेत्र होते हैं। गोल क्षेत्रों के दोनों तरफ 18.18 गज का आयताकार पेनाल्टी क्षेत्र भी होता है।

  • अंतरराष्ट्रीय मैचों में मैदान की लंबाई 100-110 मीटर, जिसे 110-120 यार्ड भी कह सकते हैं| चौड़ाई 64-75 मीटर अर्थात 70-80 यार्ड होती है। (1 यार्ड 91 मीटर के बराबर होता है)
  • गैर अंतरराष्ट्रीय मैचों के लिए मैदान की लम्बाई 91-120 मीटर लंबाई और 45-91 मीटर चौड़ाई होती है।
  • आयताकार गोल प्रत्येक गोल रेखा के मध्य पर स्थित होता है, पूरे मैदान में ऊर्ध्वाधर गोल पोस्ट का भीतरी किनारा 3 मीटर का होता है।
  • क्षैतिज क्रॉसबार जो गोल पोस्ट द्वारा समर्थित होती है, इसका निचला छोर 44 मीटर होता है।
  • नियमों के अनुसार जाल की कोई आवश्यकता नहीं होती है लेकिन तब भी जाल को गोल के पीछे रखा जाता है|

सॉलिसिटर जनरल ऑफ इंडिया क्या होता है?

यहाँ आपको फुटबॉल (Football) खेल के नियम के विषय में जानकारी उपलब्ध कराई है | यदि आपको इससे  सम्बंधित अन्य जानकारी प्राप्त करनी है तो आप  अपने विचार या सुझाव कमेंट बॉक्स के माध्यम से साझा कर सकते है | इसके साथ ही आप अन्य जानकारी प्राप्त करना चाहते है तो www.hindiraj.com पर विजिट करे |

नागरिकता संशोधन बिल (CITIZENSHIP AMENDMENT BILL) क्या है

Leave a Comment