जावा (JAVA) क्या है

अगर आप Programming सीखना चाहते हैं, तो फिर आपको Java जरूर सीखना चाहिए। JAVA सबसे ज्यादा लोकप्रिय Programming Language मे से एक है। अतः आपने कभी ना कभी Java का नाम जरुर सुना होगा, चूंकि टेक्नोलॉजी को नई ऊंचाई पर ले जाने में Coding और कंप्यूटर का बहुत बड़ा रोल है।

और इंटरनेट पर जितने भी Mobile Application और वेबसाईट मोजूद है, उसमे से अधिकतर Java प्रोग्रामिंग  की मदद से ही बनाए गए है। पर अगर आप नही जानते है कि JAVA क्या है (What is Java in Hindi), Java का Full Form क्या है, आप JAVA Language कैसे सिख सकते है तो इस आर्टिकल के जरिए हम आपको JAVA Language के संबंधित सभी जानकारी देंगे।

Technical Field मे वैसे तो बहुत सारी Programming Language है लेकिन Java उनमें से सबसे फेमस Programming Language मे से एक है। जिस पर आज के समय मे दुनिया की बड़ी बड़ी ई- कॉमर्स वेबसाइट विकसित की गई है। Java Programming Language के उपयोग से बहुत सारे Web Application, प्रोग्राम एवं सॉफ्टवेयर को Run किया जा रहा है। इस प्रकार प्रोग्रामिंग फील्ड मे java Language की बहुत डिमांड हैं।

जावास्क्रिप्ट (JavaScript) क्या है ?

जावा (JAVA) का फुल फॉर्म | JAVA Full Form

वैसे तो JAVA का कोई फुल फॉर्म नहीं होता, यह एक General पर्पस प्रोग्रामिंग लैंग्वेज है जिसे केवल computer ही समझ सकता है। जावा का इस्तेमाल करने के लिए डेवलपर को कंप्यूटिंग प्लेटफार्म दिया जाता है।

जिसके जरिए वो कोड को केवल एक बार लिख देता है (Write once) और उसे कभी भी बिना Recompile किए ही कंपाइल्ड जावा कोड को सभी जावा सपोर्टेड प्लेटफॉर्म पर रन करवा सकता है।

जावा (JAVA) क्या है | What is Java in Hindi

Java कंप्यूटर की एक High Level Programming Language है जिसका इस्तेमाल Application और Software बनाने में किया जाता है। ये प्रोग्रामिंग लैंग्वेज सभी ऑपरेटिंग सिस्टम को सपोर्ट करती है इसे किसी भी प्लेटफ़ॉर्म  में Run करवा सकते है।

Java का कोड इंग्लिश भाषा मे लिखा जाता है और इसमें C++ के Fundamental का भी इस्तेमाल किया गया है। और ये Oops के Concept को follow करती है java कोड को कोई भी व्यक्ति आसानी से समझ सकता है।

Java व्यापक रूप से उपयोग की जाने वाली कंप्यूटर लैंग्वेज है, जो बाकी किसी भी अन्य प्रोग्रामिंग लैंग्वेज की तुलना मे सिंपल और सुरक्षित है।  इसमें Code लिखने वक्त कुछ नियम  को Follow किया है जिसे Syntax कहते है।

अगर कोई बिना Syntax के Program लिखेगा तो स्क्रीन पर Error आता है, इसलिए कोड लिखने वक्त Syntax को फॉलो करना जरूरी होता है।

History Of Java In Hindi

Java को सन माइक्रोसिस्टम्स (Sun Micro system) नामक कंपनी द्वारा विकसित किया गया था। जहां इसका पहला Public Implementation Java v1.0 वर्ष 1995 मे लॉन्च किया गया था।

इसी कंपनी मे James Gosling नई भाषा बनाने के प्रयास में रिसर्चर के टीम को एक प्रोजेक्ट पर लीड कर रहे थे। और उस प्रॉजेक्ट को चलाने के लिए कंपनी ने C++ भाषा के साथ Operating System Built Up करने की प्लानिंग की थी।

लेकिन James Gosling C++ से खुश नही थे और उन्होंने फिर ओक (Oak) नामक अपनी ख़ुद की एक Programming Language बनाई।

इस भाषा का मुख्य उद्देश्य  “Write Once, Run Anywhere” था।

यह (Oak) C++ भाषा के Syntax पर based थी। लेकिन ये C++ की तुलना में यह बहुत आसान और अधिक Stable थी। यह बहुत ही बेहतर Network Supportive प्रोग्रामिंग लैंग्वेज थी जिसे किसी भी Platform या os पर रन करवा सकते थे।

1995 मे (Oak) भाषा का नाम बदलकर Java रख दिया गया था, Java को तुरंत ही कुछ प्रमुख Web Browsers ने “Applet” कंफीग्रेशन के रूप में अपने स्टैंडर्ड कंफीग्रेशन मे शामिल कर लिया था।

Features Of Java In Hindi

Java बहुत ही पॉपुलर और उपयोगी प्रोग्रामिंग लैंग्वेज है यह पहली ऐसा प्रोग्रामिंग लैंग्वेज है जो किसी भी हार्डवेअर या ऑपरेटिंग सिस्टम पर निर्भर नही है। क्युकी ये एक इंडिपेंडेंट प्रोग्रामिंग लैंग्वेज है जिसके बहुत सारे शानदार Features है।

बता दें Java को छोड़कर बाकी जितनी भी प्रोग्रामिंग लैंग्वेज है उनके Compiler जो कोड डेवलप करते है वो बस एक ही System के लिए Generate होता है, और उसी मे Run होता है।

लेकिन Java Platform Independent Language होने के कारण Java प्रोग्रामिंग साफ्टवेयर को बिना किसी बदलाव के Linux या Macintosh जैसे कई दुसरे ऑपरेटिंग सिस्टम पर रन कर सकते हैं।

Simple and secure Programming Language:

बाकी सभी प्रोग्रामिंग लैंग्वेज की तुलना मे Java बहुत ही सरल और सुरक्षित लेंग्वेज है। क्युकी इसका हर कोड कंपाइल होने के बाद बिटकोड में बदल जाता है जिसके कारण इसे बहुत सेफ और सिक्योर माना जाता है।

Object oriented

 Java एक Object oriented  प्रोग्रामिंग लैंग्वेज है जो (OOPS)  के कांसेप्ट पर काम करता है, जो सॉफ्टवेयर डेवलपमेंट और मेंटेनेंस के काम को आसान बनाती है। क्युकी इसमें कोई भी procedures का इस्तेमाल नहीं किया जाता है, यह सिर्फ object पर based लैंग्वेज है।

Create Software

Java Programming Language का इस्तेमाल करके डेवलपर Distributed सॉफ्टवेयर बना सकते है। यानी की एक ऐसा Software जो अलग-अलग Computer पर एक साथ काम कर सकता है फिर चाहे वो किसी भी नेटवर्क से जुड़ा हो।

Save programming language

Java बहुत ही मजबूत मेमोरी मैनेजमेंट का इस्तेमाल करती है इसी कारण से यह बहुत ही मजबूत Programming Language है। क्युकी इसमें Pointers का बहुत कम उपयोग होता है जिसके कारण इसकी सिक्युरिटी मे कोई कमी नहीं होती।

Fast Programming Language

Java बेहद तेज प्रोग्रामिंग लेंग्वेज है, लेकिन यह C++ Compiled Language की तुलना मे थोड़ा Slow है लेकिन अन्य प्रोग्रामिंग भाषा मे Java काफी तेज है।

Dynamic programming language

Java C और C++ से अधिक डायनेमिक प्रोग्रामिंग लैंग्वेज है क्योंकि इसमें codes मे लिखे गए variable एवं Class Run Time मे एलोकेट होते है जिसके कारण ये ज्यादा मेमोरी का उपयोग नहीं करता।

Multi Threaded

Java एक मल्टीथ्रेडेड प्रोग्रामिंग लैंग्वेज है क्युकी Java program एक समय पर बहुत सारे task को एक साथ complete कर सकता है।

Architectural Neutral Format

जावा कंपाइलर द्वारा आर्किटेक्चरल न्यूट्रल ऑब्जेक्ट फाइल Format बनाता है, जिसके जरीए ये कंपाइल कोड को एटीट्यूट होने जैसा बना देता है। जिसके कारण जो Code Compile होता है वो किसी भी मशीन पर रन कर सकता है।

Portable Language

Java एक इंडिपेंडेंट प्लेटफॉर्म है जिसके कारण यह बहुत पोर्टेबल है इसका सबसे ज्यादा उपयोग कमर्शियल सॉफ्टवेयर को बनाने मे होता है।

जावा कैसे काम करता है (How Does Java Work) ?

JAVA में प्रोग्राम को Compiled Executable Files में नहीं किया जाता है। और Java Code को रन करवाने के लिए Abstract Computing Machine का उपयोग किया जाता है। जिसे Java Virtual Machine (Jvm) कहते है इसी byte code में java compile होता है।

जब भी हम किसी प्रोग्राम को Compile करते है तो वो Machine Language में चेंज न होकर इंटरमीडिएट लैंग्वेज मे बदल जाता है। जिसे Java Bytecodes कहते है, जिसे हम किस भी Operating System और प्रोसेसर पर चला सकते है। यानी सबसे पहले जावा कोड Bytecode में Compiled होता है फिर जैसे ही Bytecode Run होता है वो Machine Code मे बदल जाता है।

Java Components in Hindi

 जावा प्रोग्रामिंग लैंग्वेज के मुख्य रूप से तीन Components होते है पहला JDK दूसरा JVM और तीसरा JRE।

JDK यानी Java Development Kit जो Developer को एप्लीकेशन और applets develop करने के लिए आवश्यक tools और libraries का collection प्रदान करता है।

इसका इस्तेमाल प्रोग्राम को विकसित (develop) करने के लिए किया जाता है। किसी भी डेवलपर को अपने Source Code को प्रारूप देने के लिए Java Development Kit की ज़रूरत परती है। इसी Kit में ही JRE सामिल होता है यानी ये JRE के सभी Features Hold करता हैं।

JRE यानी Java Runtime Environment ये एक सॉफ्टवेयर package होता है जिसका इस्तेमाल जावा प्रोग्राम को चलाने के लिए किया जाता है। इसमें Interpreter (java), एक compiler (javac), एक archiver (jar), एक documentation generator (javadoc), और कुछ अन्य development tools शामिल होते है इसी JRE मे ही Java Virtual Machine के core classes और supporting files शामिल होते है।

JVM यानी Java Virtual Machine जो एक Abstract Machine होता है, जिसके जरिए सारे Java program को Run किया जाता है, जब भी हम Source Code लिखते है तो उसे कंपाइल करने के लिए Java Compiler के जरीए Bytecode जनरेट करते हे।

और इसी Byte Code को Execute करने के लिए Java Virtual Machine का इस्तेमाल करती है। जिसके अंदर Interpreter रहता है जो प्रोग्राम को रन करवाता है। जो कंप्यूटर java प्रोग्राम को रन करते हैं उसमें पहले से ही JVM Installed होता है जो कंप्यूटर में जावा कोड को चलने के लिए काम आता है l

एचटीएमएल (HTML) क्या है

Types of Java Application in Hindi

जावा प्रोग्रामिंग का उपयोग करके आप प्रमुख रूप से 4 types के application बना सकते हैं

Mobile Applications:- एंड्राइड App Development मे java का इस्तेमाल किया जाता है, यह एक cross-platform है जो एंड्रॉयड App को मोबाइल मे रन करने के लिए तैयार किया गया है।

Standalone Applications:-  इस स्टैंडलोन अप्लीकेशन को डेस्कटॉप अप्लीकेशन या window-based अप्लीकेशन कहते है। इस एप्लीकेशन को बनाने के लिए AWT और Swing का इस्तेमाल Java में किया जाता है। मीडिया प्लेयर, antivirus और MS-Office कुछ Standalone Applications के उदहारण है।

Web Applications:- ऐसे एप्लीकेशन जो server पर रन होते है उसे वेब एप्लीकेशन कहते है। इसे भी बनाने के लिए java का इस्तेमाल किया जाता है अभी के समय में इसे बनाने के लिए Jsp, Struts, jsf,Servlet, का इस्तमाल किया जाता है और इस एप्लिकेशन को एक्सेस करने के लिए वेब ब्राउज़र का उपयोग किया जाता है।

Enterprise Applications:- JAVA हाई लेवल सिक्योरिटी प्रदान करता है। इसलिए बहुत सारे Enterprise Applications बनाने के लिए भी Java programming language का इस्तेमाल किया जाता है। जैसे बैंकिंग सोफ्टवेयर, अकाउंटिंग एप्लिकेशन जैसे कई बड़े Enterprise प्रोजेक्ट Enterprise Java Bean (EJB) के इस्तेमाल से बने है।

Different Platforms / Editions of Java Technology in hindi

जावा प्लेटफार्म Editions का कलेक्शन है जो डेवलपर्स को जावा प्रोग्राम Run करने मे और डेवेलोप करने में मदद करता है अभी 4 तरह के Java Editions है:

  • Java SE (Java Standard Edition)
  • Java EE (Java Enterprise Edition)
  • Java ME (Java Micro Edition)
  • JavaFX

Java SE: Java Standard Editionडेवलपर्स को Tools और API Provide करता है, जिससे वो Desktop Application, Server Applications या फिर applets program बना सक।  इस Standard Edition के जरिए जितने भी प्रोग्राम लिखे जाते है उसे Linux, Windows, Mac जैसे Operating System पर चला सकते है।

JEE:  Java Enterprise Edition का इस्तेमाल वेब एप्लीकेशन और Enterprise एप्लीकेशन बनाने के लिए किया जाता है। ये enterprise edition scripting और runtime enterprise software के लिये API और रनटाइम environment प्रोवाइड करता है।

JME:– Java Micro Edition एक ऐसा APIs का Collection है। जिसका इस्तेमाल मुख्य रूप से मोबाइल एप्लीकेशन, टीवी सेटअप बॉक्स साफ्टवेयर और Gaming प्रोग्राम को डेवलप करने के लिए किया जाता है। इस Micro Edition Platform का User Friendly Interface होता है और इसका सिक्योरिटी मॉडल अलग अलग बिल्ट इन Network की सुविधा देता है।

JavaFX: इस एडिशन का इस्तेमाल किसी भी इंटरनेट एप्लीकेशन का ग्राफिकल यूजर इंटरफेस बनाने के लिए किया जाता है। इसमें लाइट-वेट यूजर इंटरफेस API का उपयोग होता है।

Java का Use कहाँ कहाँ होता है ? | Use of Java in Hindi

Java का इस्तेमाल 3 Billion से भी ज्यादा devices मे हो रहा है लगभग Android के जितने भी Operating System हैं फिर चाहें वो Kitkat,Lollipop हो या Oreo सब java Programming Language पर ही डेवलप किए गए है।

इसके अल्वा जितने भी Web based प्रोग्राम्स है वो भी java स्क्रिप्ट से ही चलते है, इस Programming Language का इस्तेमाल सबसे ज्यादा आईटी इंडस्ट्री मे होता है जैसे की

J2EE: ये एक Platform Independent Environment इसे Java 2 Enterprise Edition कहते है इसके जरिए  वेब बेस्ड एंटरप्राइज एप्लीकेशन बनाए जाते है। जिसके जरिए Companies आपस में XML Based Structured data को Share करती है।

JavaBeans: इसमें पहले से मोजुद COMPONENT से नए और Advanced एप्लीकेशन बनाए जाता है। यह Visual Basic जैसा है इसमें बहुत सारे ऑब्जेक्ट्स को एक साथ स्टोर किया जाता है जिसे Java Beans कहते है।

Applets: Applets भी Full Java program है। जिसे वेब पेज़ के अंदर add किया जाता है जिसके जरिए आपको वेब Browser मे नए नए फीचर्स देखने को मिलते है। और ये एचटीएमएल के अंदर रहते है और इसे रन करवाने के लिए प्लगइन की जरूरत होती है।

JSP: Jakarta Server Pages जिसे JavaServer Pages भी कहते है इस वेब टेक्नोलॉजी का उपयोग web एप्लीकेशन मे किया जाता है। इसके जरिए java कोड को एचटीएमएल tag मे इंसर्ट करने के लिए JSP Tag का इस्तेमाल किया जता है। JSP के जरिए Dynamic Web Pages बनाए जाते है और PHP जो सर्वर साइड Scripting है इसमें भी java का इस्तेमाल हुआ है।

Mobile: Java का स्मार्टफोन में बहुत बड़ा योगदान है, इसने गेमिंग इंडस्ट्री को काफी बदल दिया है जितने भी मोबाइल इंडस्ट्रीज है वह जावा टेक्नोलॉजी का इस्तेमाल करते है।

Java Program लिखने के लिए Java Editor

हमेशा जावा प्रोग्राम को लिखने के लिए जावा एडिटर की जरूरत पड़ती है अगर आप जावा प्रोग्रामिंग लिखना चाहते हैं तो नीचे दिए गए Editors का इस्तेमाल कर सकते:

  • Netbeans – Netbeans Java IDE है ये एक open source है और 100% free है, जिसका इस्तेमाल आप कर सकते हो।
  • Notepad ++ इस Editor में आप आसानी से java Code लिख सकते हो ये एडिटर Error धुंडने में और Missing Bracket धुंडने में भी काम आता है।
  • Eclipse भी एक java IDE है जिसे eclipse open source community के द्वारा develop किया है और आप इसका भी इस्तेमाल कर सकते हो या भी open source है और 100% free है।

Java कैसे सीखे | How to Learn Java in Hindi

आज के समय में डेवलपर की बहुत डिमांड है जिन्हे बड़े बड़े टेक, एमएनसी कंपनियों द्वारा लाखों का पैकेज दिया जा रहा हैं। अगर आप Java Language सिख जाओगे तो बहुत सारी एप्लीकेशन Develop कर सकते हो। Java को सीखना बहुत ज़्यादा मुस्किल नहीं है लेकिन आपको इसके लिए रोजाना प्रयास करना होगा।

Java मे सबसे पहले आपको इसके बेसिक Fundamental के बारे मे जानना चाहिए जिसके लिए आप Java Tutorial पढ़ सकते हो। जावा लैंग्वेज को सीखने के लिए ऑनलाइन और ऑफलाइन Platform का इस्तेमाल करके आसानी से आप java सिख सकते हों। Java Apis का उपयोग करके Web Application और Desktop Application बना सकते हो।

Youtube Video के जरिए सीखें जावा!

अगर आप ऑनलाईन फ्री मे Java सीखना चाहते है तो You Tube आपके लिए बेस्ट source है। यहां कई ऐसे Channel मिल जायेंगे जो Java Language को बेसिक to एडवांस लेवल तक सीखा चुके है। जैसे एक फेमस कोडिंग यूट्यूब चैनल है Code With Harry आप उनका चैनल देख सकते हो।

Online Paid कोर्स ज्वाइन करके जावा सीखें

Internet पर बहुत सारी ऐसी Website उपलब्ध है जो बहुत ही कम फीस मे आपको Java basic to advanced level तक का सिखाती है। और उनमे से कुछ Popular Website हमने आपको नीचे बताई है जैसे की

  • Tutorialspoint.Com
  • Codecademy.Com
  • Udemy
  • w3schools.in
  • Oracle Java Tutorial

Coaching Institute ज्वाइन करके सीखें Java

आप चाहें तो अपने शहर के किसी भी Coaching Institute मे जाकर Java सीख सकते हैं। यहां पर कोर्स 6 मंथ से लेकर 1 साल तक का हो सकता है जिसपर आपको 20 हजार से लेकर 1 लाख रूपए तक का खर्च करने पड़ सकते है।

C Language क्या है

Leave a Comment