एमबीए (MBA) क्या होता है ?

आज के समय में युवा वर्ग आगे बढ़ने के लिए एक ऐसे कोर्स का चयन करते हैं जिसमें स्वयं का भविष्य उज्ज्वल प्रतीत हो साथ ही अर्थात जिसमें अच्छा पैसा, मान- सम्मान और सफलता के अनेक अवसर हो। ऐसे में हमने देखा कि ज्यादातर युवा वर्ग को आज के समय में एमबीए करना सही मार्गदर्शन लगता है और इसके माध्यम से वे अच्छे कंपनियों में जाते हुए खुद का विकास कर पाते हैं। MBA का चुनाव अधिकतर उन विद्यार्थियों द्वारा किया जाता है जिन्हें बिजनेस, मार्केटिंग, लीडरशिप इत्यादि में रुचि हो और उन्हें इसी क्षेत्र में अपना व्यवसाय या नौकरी करनी हो। अतः आज हम आपको एक ऐसे ही बेहतरीन कोर्स एमबीए के बारे में संपूर्ण जानकारी देंगे साथ-साथ इससे संबंधित योग्यता, सैलरी जैसी आवश्यक जानकारी ही देंगे।

एमबीए क्या होता है?

एमबीए 2 वर्ष का मास्टर डिग्री कोर्स होता है जो विभिन्न विषयों से संबंधित होता है। इस कोर्स के माध्यम से मैनेजमेंट सेक्टर के  विभिन्न पहलुओं जैसे मार्केटिंग, सप्लाई चेन मनैजमेंट, ऑपरेशन मैनेजमेंट इत्यादि के बारे में समझा जाता है साथ ही उन सभी पहलुओं की बिजनेस की दुनिया में भूमिका को भी बारीकी से समझा जाता है।

हम खुद को बेहतर मार्गदर्शन देने के उद्देश्य से एमबीए करना सही मानते हैं जिसे करके हम खुद को यथावत बेहतर स्थान पर दे पाते हैं। एमबीए के कोर्स के माध्यम से हम कठिन परिश्रम करते हुए अपनी मंजिल को हासिल कर सकते है।

आज के समय में एमबीए करना बेहतर करियर विकल्प के रूप में देखा जाता है जिसके माध्यम से आपको भारत और विदेशों में भी नौकरी प्राप्त करने में कोई दिक्कत नहीं होती है।

एमसीए (MCA) कोर्स कैसे करे ?

MBA का फुल फॉर्म

 एमबीए का फुल फॉर्म “मास्टर आफ बिजनेस एडमिनिस्ट्रेशन”(  Master of Business Administration) होता है।

एमबीए का हिंदी में अर्थ

वैसे तो एमबीए का अध्ययन अंग्रेजी भाषा में किया जाता है फिर भी कुछ जगह ऐसी है जहां पर अब एमबीए को हिंदी भाषा में भी अध्ययन किए जाने की बात की जा रही है। ऐसे में एमबीए को हिंदी में “व्यवसाय प्रबंधन में स्नातकोत्तर” कहा जाता है।

MBA करने के लिए विशेष योग्यता

अगर आप एमबीए का कोर्स करना चाहते हैं, तो इसके लिए आपको विशेष योग्यता में पारंगत होना होगा। एमबीए को ग्रेजुएशन के बाद किया जाता है। यह 2 साल का कोर्स होता है जिसमें बिजनेस से संबंधित विषयों के बारे में जानकारी दिया जाता है साथ ही साथ बिजनेस की हर वह जानकारी दी जाती है जिसके माध्यम से आप निरंतर आगे बढ़ सके। एमबीए करने के लिए ग्रेजुएशन में कम से कम 50% मार्क्स होना जरूरी है।

ऐसे में हम आपको बताना जरूरी समझते हैं कि अगर आप 12th के बाद एमबीए करना चाहते हैं तब आपको पांच वर्ष का कोर्स करना होगा। इसके अलावा किसी भी मान्यता प्राप्त विश्वविद्यालय से किसी भी विषय में ग्रेजुएशन मान्य होगा।

MBA के मुख्य प्रकार

अगर आप एमबीए करना चाहते हैं तो आपके पास कई सारे ऐसे विकल्प मौजूद हैं जिनके माध्यम से आप इस कोर्स को पूरा कर सकते हैं। ऐसे में आज हम आपको जानकारी देने वाले हैं जिससे आप भी अपने हिसाब से इस कोर्स को कर सकते हैं।

  1. Full time MBA
  2. Part time MBA
  3. Online MBA
  4. Distance MBA
  5. Executive MBA
  6. 5 YEAR Integrated MBA

MBA के लिए विशेष एंट्रेंस एग्जाम

अगर आप बिजनेस एडमिनिस्ट्रेशन की पढ़ाई किसी अच्छे इंस्टीट्यूट से करना चाहते हैं तो इसके लिए आपको होने वाले एंट्रेंस एग्जाम की तैयारी करनी होगी ताकि आप सही दिशा की ओर जल्दी बढ़ सके। ऐसे में कुछ विशेष इंट्रेंस एग्जाम लिए जाते हैं जिसके माध्यम से आप उसको उसको कर सकते हैं।

  1. CAT — Common admission test
  2. CMAT — Common management        admission test
  3. XAT — Xavier Aptitude test
  4. GMAT — Graduate management aptitude test.
  5. MAT — Management aptitude test
  6. MICAT — Mica admission test
  7. IIFT — Indian institute of foreign trade.
  8. IRMA — Institute of Rural Management Anand.
  9. SNAP— Symbiosis national aptitude test.
  10. NMAT — NMIMS Management Aptitude Test.

BCA Course क्या होता है ?

एमबीए में एडमिशन की प्रक्रिया

 एमबीए में एडमिशन लेने के लिए आपको एंट्रेंस एग्जाम से गुजरना होगा जो कि विभिन्न इंस्टिट्यूट द्वारा लिया जाता है। जिसके लिए आपको एंट्रेंस एग्जाम के लिए विभिन्न इंस्टिट्यूट में आवेदन करना होगा। अगर आप इस एंट्रेंस एग्जाम को क्लियर कर लेते हैं तो आपका नाम मेरिट लिस्ट में आ जाता है और उसके बाद ग्रुप डिस्कशन, लिखित योग्यता परीक्षा, पर्सनल इंटरव्यू में शामिल होना पड़ता है।

इसके बाद संपूर्ण योग्यता को देखते हुए मेरिट सूची तैयार की जाती है और फिर आप उस सूची के आधार पर ही किसी भी कॉलेज में एडमिशन ले सकते हैं। हालांकि कुछ कॉलेज ऐसे भी होते हैं, जो बिना एंट्रेंस एग्जाम के योग्यता के आधार पर एमबीए में एडमिशन देते हैं लेकिन इसके बावजूद कई सारे विद्यार्थी ऐसे भी हैं जो एंट्रेंस एग्जाम के माध्यम से एडमिशन लेना जरूरी समझते हैं।

MBA एंट्रेंस एग्जाम में आने वाले मुख्य टॉपिक

अगर आप एमबीए के इस एंट्रेंस एग्जाम में अच्छे नंबर हासिल करना चाहते हैं तो इसके लिए आपको मुख्य टॉपिक पर ध्यान देना होगा ताकि उस पर मेहनत करते हुए आप अच्छे नंबर हासिल कर सके

  1. Logical reasoning
  2. Quantitative technique
  3. Reading comprehension
  4. General Awareness
  5. Language comprehension
  6. Data interpretation and data sufficiency
  7. English language
  8. Verbal ability

MBA के विभिन्न कोर्स

अगर आप एमबीए करना चाहते हैं, तो इसके अंतर्गत आपको कई प्रकार के कोर्स उपलब्ध होते हैं जिनके माध्यम से आप सही तरीके से कैरियर को आगे बढ़ा सकते हैं। यह कोर्स मुख्य रूप से वही होते हैं जिनको ज्यादा से ज्यादा लोग करना पसंद करते हैं और नई ऊंचाइयों को छूते हैं।

  1. Economics and social sciences
  2. Decision sciences
  3. Information systems
  4. Finance & Accounting
  5. Marketing
  6. General management
  7. Pharmaceutical management
  8. Telecom
  9. Hospital and healthcare management.
  10. Food and agriculture business
  11. Public policy
  12. Production and operation management
  13. Law
  14. Digital and social marketing
  15. Event management

12वीं के बाद इंजीनियर कैसे बनें ?

एमबीए के अंतर्गत पढ़ाए जाने वाले विषय

जब भी हम एमबीए की पढ़ाई करते हैं, तो इसके अंतर्गत ऐसे विषयों को जोड़ा जाता है जिसके माध्यम से हम खुद की प्रोग्रेसिव ग्रोथ (Progressive Growth)  कर सकें।

  1. Finance for non finance
  2. Joy of management
  3. Micro economics
  4. Business statics
  5. Written analysis and communication
  6. Marketing and consumer behavior
  7. Excel spreadsheet modeling
  8. Personal journey of Excellence

एमबीए की फीस

प्रत्येक इंस्टिट्यूट के हिसाब से एमबीए की फीस अलग-अलग होती है जहां सरकारी कॉलेज की फीस प्राइवेट की तुलना में काफी कम होती है। यह आपके ऊपर निर्भर करता है कि आप कौन से मुख्य प्लेटफार्म के माध्यम से पढ़ाई करना जरूरी मानते हैं। ऐसे में आप कम से कम एमबीए के लिए 20 लाख रुपयों से लेकर 30 लाख की पढ़ाई करते हैं और अगर आप विदेश से एमबीए करना चाहते हैं तो ऐसे में 15 लाख रुपया  से लेकर 40 लाख रुपयो  के बीच खर्च होता है।

एमबीए कोर्स के बाद आपका कैरियर

अगर आपने किसी अच्छे इंस्टीट्यूट से एमबीए का कोर्स किया है, तो उसके बाद आपके पास कई ऐसे जॉब के अवसर होते है जिसके माध्यम से आप अपने हिसाब से नौकरी की खोज कर सकते हैं और नौकरी हासिल कर सकते हैं। इसके अलावा अगर हम देखें तो कई सारे ऐसे फील्ड हैं जिसमें आप एमबीए करने के बाद अपना करियर बना सकते हैं और आगे बढ़ सकते हैं आज हम आपको उन मुख्य क्षेत्र के बारे में जानकारी दे रहे हैं।

  1. मल्टीनेशनल कंपनी
  2. सरकारी और प्राइवेट बैंक
  3. स्वयं का बिजनेस
  4. इंडस्ट्रियल हाउस
  5.  ऑनलाइन मार्केटिंग
  6. एडवरटाइजमेंट कंपनी
  7. बिजनेस मार्केटिंग
  8. मार्केट रिसर्च एनालिस्ट
  9. कस्टमर रिलेशनशिप मार्केटिंग
  10. ब्रांड मैनेजमेंट
  11. अकाउंटेंट ऑपरेशनल रिसर्च एनालिस्ट
  12. एजुकेशनल इंस्टीट्यूट

MBA के बाद मिलने वाली सैलरी

अगर आप एमबीए का कोर्स करते हैं तो इसके बाद आपको एक अच्छी सैलरी पैकेज मिल जाती है जिसमें थोड़ा कम पैकेज मिलता है लेकिन जैसे-जैसे समय बढ़ता जाता है तो कम से कम 6 लाख  से 10लाख रुपए तक का वार्षिक पैकेज आसानी से मिल जाता है।  इसके अलावा अलग-अलग कंपनी के हिसाब से भी अलग-अलग पैकेज प्रोवाइड किया जाता है जो मासिक सैलरी के हिसाब से रुपए ₹ 50000  से ₹60000 प्राप्त होते हैं। ऐसे में हम आपको विभिन्न एमबीए पोस्ट से  संबंधित सैलरी के बारे में भी जानकारी देने वाले हैं

  1. ऑपरेशंस मैनेजर — 7 लाख  से 12  लाख रुपए वार्षिक
  2. सेल्स मैनेजर — 10 लाख  से 20 लाख रुपए वार्षिक सैलरी
  3. प्रोडक्ट मैनेजर — 1500000 से 2500000 रुपए वार्षिक सैलरी
  4. प्रोजेक्ट मैनेजर — 13 लाख से 20 लाख रुपए वार्षिक सैलरी
  5. मार्केटिंग मैनेजर — 10 लाख रुपए से 15लाख रुपए वार्षिक सैलरी
  6. डाटा एनालिटिक्स मैनेजर — 14 लाख रुपए से 25 लाख रुपए वार्षिक सैलरी
  7. ह्यूमन रिसोर्सेज मैनेजर — ₹4लाख  से ₹9 लाख वार्षिक सैलरी

Data Scientist कैसे बने ?

एमबीए कोर्स करते समय ध्यान रखने योग्य बातें

अगर आप एमबीए का कोर्स करना चाहते हैं इसके लिए आपको इन मुख्य बातों पर ध्यान देना होगा

  1. एमबीए कोर्स करने के लिए आपके पास ग्रेजुएशन की डिग्री होना जरूरी है जिसके माध्यम से आप आगे बढ़ सकते हैं।
  2. ग्रेजुएशन में कम से कम 50% होना अनिवार्य माना गया है।
  3. अगर आप बिजनेस में अच्छे समझ रखते हैं और फिटनेस के क्षेत्र में ही आगे जाना चाहते हैं तो एमबीए का कोर्स करना आपके लिए सही होगा।
  4. लगभग सभी इंस्टिट्यूट में  एमबीए का कोर्स इंग्लिश लैंग्वेज में किया जाता है। ऐसे में अगर आपको  इंग्लिश भाषा की सही जानकारी हो तो आपके लिए अच्छा होगा।
  5. एमबीए कोर्स के माध्यम से आप कुछ नया सीख सकते हैं जिससे आप अपने बिजनेस में भी इनपुट डाल सकते हैं।

ऐसे में एमबीए कोर्स करके देश का विद्यार्थी आगे बढ़ सकता है और अपने साथ-साथ देश का नाम भी रोशन किया जा सकता है।

Leave a Comment