मुख्यमंत्री अभ्युदय योजना – आईएएस पीसीएस की मुफ्त कोचिंग

Mukhyamantri Abhyudaya Scheme in Hindi

उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ में मानीय मुख्यमंत्री जी के द्वारा एक योजना का शुभ आरम्भ किया गया जिसे मुख्यमंत्री अभ्युदय योजना का नाम दिया गया है | इस योजना का लक्ष्य गरीब बच्चे जिन्हें प्रतिभा है परन्तु पैसो के आभाव में आगे की पढाई या कोचिंग नहीं कर पा रहे है, इस स्कीम के जरिये उन्हें लाभान्वित करने का लक्ष्य बनाया गया है | मुख्यमंत्री अभ्युदय योजना को पहले उत्तर प्रदेश के गोरखपुर जिले से पायलट प्रोजेक्ट के रूप में शुरू किया जाये जिसके बाद पूरे उत्तर प्रदेश Mukhyamantri Abhyudaya Yojana के कोचिंग सेंटर खोले जायेगे | एक रिपोर्ट के अनुसार उत्तर प्रदेश के करीब 4-5 लाख छात्र संघ लोक सेवा आयोग (यूपीएससी), विभिन्न राज्य पीएससी, जेईई और नीट में भाग लेते है |

Mukhyamantri Abhyudaya Yojana का मुख्य लक्ष्य उत्तर प्रदेश में गरीब बच्चो को भारतीय सिविल सेवा यानी आईएएस, पीसीएस, नीट, आईआईटी की मुफ्त में कोचिंग सरकार द्वारा दिलाई जायेगी | इससे निश्चित ही रूप में उत्तर प्रदेश में गरीब के बच्चे भी बड़े अवसर बन पायेंगे और राज्य में असमानता का भाव ख़तम करने में सहायता मिलेगी| यह योजना फरवरी के प्रथम सप्ताह में पूरे राज्य में चला दी जायेगी और जल्द ही UP में फ्री कोचिंग रजिस्ट्रेशन भी शुरू हो जायेगे| अभी के लिए योजना का लाभ ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन केवल प्रथम चरण में उत्तर प्रदेश के गोरखपुर से शुरू किया गया है | जल्द ही योजना का लाभ राज्य के सभी निर्धारित बच्चो को मिलेगा | उत्तर प्रदेश के 71वें स्थापना दिवस पर आयोजित कार्यक्रम में मुख्यमंत्री जी ने इस योजना की घोषणा की और बताया कि उत्तर प्रदेश आईएएस पीसीएस फ्री कोचिंग के लिए पहले चरण में वसंत पंचमी से प्रदेश के 18 मंडल मुख्यालयों पर छात्रों के लिए अभ्युदय कोचिंग सेंटर (Abhyudaya Coaching Center) पर क्लासेज आरम्भ होगी |

मुख्यमंत्री कृषक दुर्घटना कल्याण योजना

पंजीकृत सभी छात्रों को ऑनलाइन स्टडी सामग्री के साथ साथ ऑफलाइन कक्षा में भी कोचिंग दी जायेगी, जिसमे समय समय पर कार्यरत अधिकारी भी क्लास लेंगे और आपको आगामी करियर के लिए गाइड भी करेंगे | आपको बता दे कि आईएएस, आईपीएस, आईएफएस (वन सेवा), पीसीएस अधिकारी, एनडीए और सीडीएस के साथ साथ नीट व जेईई की अभ्युदय कोचिंग सेंटर (Abhyudaya Coaching Center) चलायी जायेगी |

मुख्यमंत्री कन्या सुमंगला योजना क्या है?

मुख्यमंत्री अभ्युदय योजना क्या है

यह योजना उत्तर प्रदेश में गरीब परन्तु टैलेंटेड छात्रों को आईएएस पीसीएस, नीट व आईआईटी की कोचिंग के लिए शुरू की गयी है | योजना के लिए ऑनलाइन आवेदन जिले स्तर पर किया जाएगा | जल्द ही ऑफिसियल रूप से इसकी सूचना आप सभी तक पंहुचा दी जायेगी | इसी योजना के माध्यम से उत्तर प्रदेश में अब आईएएस पीसीएस की फ्री कोचिंग का लाभ मिल पायेगा |

Mission Shakti (मिशन शक्ति) क्या है

मुख्यमंत्री अभ्युदय योजना के लिए ऑनलाइन आवेदन कैसे करे

  • योजना के लिए आपके जिले की डॉट एनआईसी साईट से रजिस्ट्रेशन होगा |
  • ई लर्निंग स्कीम के माध्यम से मुख्यमंत्री अभ्युदय योजना के लिए पंजीकरण किया जा सकता है |
  • रजिस्ट्रेशन के बाद छात्रों को काउंसलिंग के बुलाया जाएगा |
  • इसके बाद दो ग्रुप में छात्रों को बाटा जाएगा जिसमे सिविल सेवा व अन्य परीक्षा होगी |

पीएम हर घर नल योजना

मुख्यमंत्री अभ्युदय योजना कब शुरू होगी?

यह योजना पूरे उत्तर प्रदेश में फरवरी के पहले सप्ताह में शुरू कर दी जाएगी |

मुख्यमंत्री अभ्युदय योजना की शुरुआत कहा से हुई?

यह योजना पहले चरण में उत्तर प्रदेश के गोरखपुर जिले से शुरू की गयी है |

योजना में क्या मासिक भत्ता मिलेगा?

मुख्यमंत्री अभ्युदय योजना में सिलेक्टेड छात्रों को एक टैबलेट, शिक्षण सामग्री व स्टाइपेंड के तौर पर पांच महीने तक 2000 रुपए प्रतिमाह का भी प्रावधान किया गया है |

केंद्र सरकार और राज्य सरकार क्या होती है

योजना का धरातल पर जमाव इस सत्र में पूरा हो जाएगा और सभी छात्र जो उत्कृष्ट संस्थानों में एडमिशन के लिए कोचिंग हेतु प्रदेश से बाहर जाते है, उन्हें अब इसकी जरुरत नहीं होगी ऐसा इस योजना का लक्ष्य है | अगर आपको हमारा लेख पसंद आया हो तो, लाइक और शेयर जरूर करे |

Mukhya Mantri Ghar Ghar Ration Yojana

Leave a Comment