ट्रैफिक चालान ऑनलाइन कैसे जमा करे ?



वर्ष 2019 में भारत सरकार द्वारा नया मोटर व्हीकल एक्ट लागू किया था जिसके तहत जिसके तहत नियमों को तोड़ने वाले पर भारी जुर्माने का प्रावधान है। आपको बता दें कि वर्तमान में सरकार द्वारा सड़कों पर भी कैमरे लगवा दिए गए हैं जिससे अगर कोई सड़क नियमों की कोई उलंघना करता है तो उसके वाहन को कैमरा में कैप्चर कर लिया जाता है जिसके बाद तुरंत उस व्यक्ति पर e-challan जारी किया जाता है जिसकी जानकारी उसे फ़ोन द्वारा मिल जाती है।



आपका भी यदि किसी कारणवश चालान कट चूका है तो आपको घबराने की जरूरत नहीं है क्योंकि इस लेख के माध्यम से आपको हम बताने वाले हैं कि ट्रैफिक चालान ऑनलाइन जमा कैसे करें। इसलिए इस लेख को शुरू से लेकर अंत तक ध्यानपूर्वक जरूर पढ़ें।

ऑनलाइन चालान कैसे चेक करे ?

Traffic E Challan क्या है?

पहले के समय में जब कोई ट्रैफिक नियमों की उलंघना करता था तो उसपर भौतिक रूप में चालान होता था जिसकी रसीद भी ऑफलाइन ही मिलती थी। इसमें ट्रांसपेरेंसी ना होने की वजह से बहुत लोगों को इसके प्रति शिकायत होती थी। लेकिन अब इन नियमों में कुछ बदलाव किये गए हैं।




वर्तमान में किसी के सड़क सुरक्षा नियमों की उलंघना करने पर उसपर ऑनलाइन चालान किया जाता है जिसे उस व्यक्ति को E-Challan ऑनलाइन वेबसाइट द्वारा भरना होता है। सड़क परिवहन और राजमार्ग मंत्रालय द्वारा इस सुविधा को लागू किया जाता है जिसमें आपको चालान भरने के लिए कहीं पर भी जाने की जरूरत नहीं होती।

ट्रैफिक चालान ऑनलाइन कैसे जमा करें?

घर बैठे आप आसानी से ऑनलाइन चालान जमा कर सकते हैं और इसकी प्रक्रिया भी बहुत आसान है। इसकी सारी प्रक्रिया को हम निम्नलिखित बताने जा रहे हैं जिसे आप फॉलो कर सकते हैं:-

  • ऑनलाइन चालान जमा करने के लिए सर्वपर्थम Digital Traffic/Transport की वेबसाइट पर आपको विजिट करना होगा। इसके लिए आप इस लिंक पर भी कर सकते हैं – क्लिक करें
  • इसके बाद वेबसाइट का होमपेज आपके सामने ओपन हो जाएगा। यहां पर आपको बहुत सारे विकल्प दिख रहे होंगे, इसमें से Pay Online के विकल्प पर आपको क्लिक करना होगा।
  • अब आपके सामने एक नया पेज ओपन हो चूका होगा जिसमें आपको कुछ जानकारी भरनी है। इसमें सबसे ऊपर तो आपको चालान नंबर, व्हीकल नंबर या ड्राइविंग लाइसेंस नंबर भरना है।
  • बाद में आपको कैप्चा कोड भरना है ताकि आपकी वेरिफिकेशन हो सके।
  • सही तरीके से सारी जानकारी भरने के बाद Get Detail के बटन पर क्लिक करदें।
  • इसके बाद निर्धारित बॉक्स में अपना मोबाईल नंबर आपको भरना है और Send OTP के बटन पर आपको क्लिक करना है।
  • आपने जो मोबाईल नंबर भरा है उसपर आपको एक OTP रिसीव होगा जिसे बॉक्स में भरके आपको Submit के बटन पर क्लिक कर देना है।
  • अब Next के बटन पर क्लिक करते ही आपके चालान की सारी जानकारी आपकी स्क्रीन पर उपलब्ध हो चुकी होगी। चालान भरने के लिए Proceed with Net-Payment के बटन पर क्लिक करें।
  • यहां पर आपके सामने कुछ Payment Methods के विकल्प होंगे। इन में से जिस माध्यम से आप भुगतान करना चाहते हैं उस विकल्प पर क्लिक करदें।
  • भुगतान की सारी प्रक्रिया खत्म होते ही सफलतापूर्वक आपका चालान ऑनलाइन जमा हो जाएगा जिसकी रसीद आप इसी वेबसाइट से डाउनलोड कर सकते हैं।

आरटीओ अधिकारी (RTO Officer) कैसे बने

ट्रैफिक चालान का स्टेटस ऑनलाइन चेक कैसे करें?

जिस तरह घर बैठे आप ऑनलाइन चालान जमा कर सकते हैं उसी प्रकार से ही ऑनलाइन रूप में आप अपने चालान का स्टेटस चेक कर सकते हैं और साथ ही साथ चालान की रसीद को भी प्राप्त कर सकते हैं। इसकी सारी जानकारी हमने निम्नलिखित आपको प्रदान की है:-

  • चालान का स्टेटस ऑनलाइन चेक करने के लिए सबसे पहले अपने मोबाईल या कंप्यूटर के ब्राउज़र में Digital Traffic/Transport की अधिकारित वेबसाइट को ओपन करें।
  • यहां पर होमपेज के मेन्यू बार में बहुत सारे विकल्प आपके सामने उपलब्ध होंगे। इसमें से आपको Check Online Services के विकल्प पर क्लिक करना होगा।
  • क्लिक करते ही आपके सामने कुछ और विकल्प आ जाएंगे जिसमें आपको Check Challan Status के विकल्प पर क्लिक कर देना है।
  • आपके सामने अब एक फॉर्म आ चूका होगा जिसमें सबसे ऊपर चालान संख्या, वाहन संख्या या ड्राइविंग लाइसेंस संख्या भरनी है और नीचे कैप्चा कोड भरना है।
  • सारी जानकारी भरने के बाद Get Detail के बटन पर क्लिक करें।
  • आपके चालान के स्टेटस की जानकारी अब आपके सामने आ चुकी होगी। यहां पर Receipt के टाइटल के नीचे हरे रंग का डाउनलोड का आइकॉन बना होगा। इसपर क्लिक करके आप अपने चालान की रसीद को डाउनलोड कर सकते हैं।

Pending चालान कैसे चेक करें?

आपने अगर कोई चालान भर दिया है लेकिन अभी तक उसकी जानकारी मैसेज के द्वारा आपको नहीं मिली है तो आप इसकी जानकारी इस वेबसाइट के  Pending Transaction के सेक्शन में कर सकते हैं। इसे चेक करने की सारी प्रक्रिया कुछ इस प्रकार है:-

  • Digital Traffic/Transport की वेबसाइट पर सबसे पहले विजिट करें।
  • मेन्यू बार में बहुत सारे विकल्पों में से Check Online Services के विकल्प पर क्लिक करें।
  • इनमें आपको Check Pending Transaction का विकल्प दिख रहा होगा उसपर क्लिक करें।
  • आपके सामने यहां पर एक फॉर्म आ चूका होगा जिसमें सबसे ऊपर आपको चालान नंबर या व्हीकल नंबर भरना है। उसके बाद आपको कैप्चा कोड भरना होगा।
  • जब आप सारी जानकारी भर लेते हैं तो Get Details के बटन पर क्लिक करदें।
  • आपके सामने अब पेंडिंग भुगतान की सारी जानकारी आ चुकी होगी जिन्हें आप देख सकते हैं।

Paytm द्वारा ट्रैफिक चालान ऑनलाइन जमा कैसे करें?

पेटीएम एक प्रसिद्ध ऑनलाइन भुगतान एप है। आप इस एप के माध्यम से भी ऑनलाइन ट्रैफिक चालान जमा कर सकते हैं। पेटीएम के माध्यम से ऑनलाइन ट्रैफिक चालान भरने की सारी जानकारी हम निम्नलिखित रूप में आपको देने जा रहे हैं:-

  • सबसे पहले पेटीएम एप को अपने मोबाईल में ओपन करलें। यदि आपके पास पेटीएम एप नहीं है तो इसे प्लेस्टोर से आप डाउनलोड कर सकते हैं।
  • एप को ओपन करने के बाद आपके सामने बहुत सारे विकल्प होंगे। इसमें थोड़ा सा नीचे स्क्रॉल करके View More पर क्लिक करें।
  • इसमें Transit के सेक्शन में Challan के विकल्प पर क्लिक करें।
  • अब अपने राज्य का चयन करें जिसके लिए आप चालान भरना चाहते हैं।
  • इसके बाद अपने व्हीकल नंबर को निर्धारित बॉक्स में भरें और Proceed के बटन पर क्लिक करें।
  • आपके चालान की सारी जानकारी अब आपके सामने आ चुकी होगी जिसे आप पेटीएम से भुगतान करके जमा कर सकते हैं।

ऑफलाइन ट्रैफिक चालान कैसे जमा करें?

यदि आपको ऑनलाइन रूप से ट्रैफिक चालान भरते समय कुछ समझ नहीं आ रहा तो आप अपने नज़दीकी CSC सेंटर जा सकते हैं जोकि वह आपका चालान इसी माध्यम से भर देंगे। हालांकि इसके लिए आपसे वह कुछ Extra शुल्क ले सकते हैं।

ऑनलाइन चालान जमा करने के लाभ

वैसे तो ऑनलाइन चालान जमा करने के आपको बहुत सारे फायदे देखने को मिलते हैं परंतु इनमें से कुछ लाभों की जानकारी हम निम्नलिखित आपको देने जा रहे हैं। यह जानकारी कुछ इस प्रकारी है:-

  • कहीं पर भी और कहीं से भी चालान जमा कर सकते हैं।
  • ऑनलाइन चालान भरने से हमारा बहुत सारा समय बचता है।
  • इससे ट्रैफिक पुलिस के भी बहुत सारे समय और पैसे की बचत होती है।
  • ऑनलाइन रूप में सभी को जोड़ने से इसमें पारदर्शिता भी बनी रहती है।
  • हमें बार बार कोर्ट कचहरी के चक्कर नहीं लगाने पड़ते।
  • हमें किसी पर भी निर्भर रहने की आव्यशकता नहीं होती।

गाड़ी नंबर से मालिक का नाम पता करने का आसान तरीका

Leave a Comment