प्राइमरी स्कूल के टीचर कैसे बने

देश में अधिकतर नागरिक एक अच्छी पोस्ट प्राप्त करने के लिए पढ़ाई करते है, क्योंकि बहुत से लोग ऐसे होते है, जो इंजीनियर, डॉक्टर या वकील बनना चाहते है, उनमे कुछ लोग ऐसे होते है जो अध्यापक की नौकरी प्राप्त करने की इच्छा रखते है | अध्यापक की नौकरी भी एक सम्मान जनक नौकरी होती है, क्योंकि बच्चों का गुरु बनना कोई आसान काम नहीं होता है, कुछ लोग तो अध्यापक इसलिए बनना चाहते है, कि वो अपना ज्ञान दूसरों को बांट सके और स्वयं का ज्ञान बढ़ा सके, क्योंकि ज्ञान वो चीज होती है, जो बंद रखने से घटती ही चली जाती है और आप इसे जितना अधिक खर्च करेंगे यह उतना ही अधिक बढ़ता चला जाता है | इसलिए अध्यापक बनाना बहुत सौभाग्य की  बात होती है | अध्यापक भी कई चरणों बना जा सकता है, जिनमे से कुछ लोग बड़े बच्चों के अध्यापक बनते है, तो कुछ प्राइमरी स्कूल के बच्चों के अध्यापक बनते है, | प्राइमरी स्कूल के अध्यापक सरकारी अध्यापक भी होती है और प्राइवेट अध्यापक भी | इसलिए यदि आप प्राइमरी स्कूल के टीचर बनने के विषय में चाहते है, तो यहाँ पर आपको  प्राइमरी स्कूल के टीचर कैसे बने , योग्यता , सैलरी के बारे में पूरी जानकारी प्रदान की जा रही है |

शिक्षामित्र क्या है

प्राइमरी स्कूल के टीचर (Primary School Teacher) कैसे बनते हैं

यदि आप प्राइमरी स्कूल के टीचर बनना चाहते है, तो आपके अंदर कुछ अच्छाइयां होना बहुत ही जरूरी होता है, क्योंकि प्राइमरी स्कूल के टीचरों के छोटे-छोटे बच्चों को पढ़ाना होता है, जसके लिए उनके अंदर रचनात्मकता, विश्वनीयता, विनम्रता, विवेक, दया, नेतृत्वता, कुछ नया सिखने की आदत, ज्यादा से ज्यादा सिखाने की आदत, विनम्र वाणी आदि चीजे एक प्राइमरी टीचर के अंदर होनी आवश्यक है | इसके अलावा एक प्रायमरी टीचर बनने के लिए आपके पास कुछ योग्यता होनी भी बहुत ही जरूरी होता है | इसके बाद प्राइमरी टीचर बनने वाला व्यक्ति 1 से 5 कक्षा तक, TGt 6 से 10 कक्षा और PGt 11 से 12 कक्षा तक पढ़ा सकता है |

प्राइमरी स्कूल के टीचर बनने के लिए योग्यता 

12th पास करे

सबसे पहले शिक्षक बनने के लिए अभ्यर्थी को 12वी  में सफलता प्राप्त करना बहुत ही आवश्यक है।  टीचर बनने के लिए अभ्यर्थी आर्ट्स , कॉमर्स या साइंस किसी भी विषय से 12वीं पास कर सकता है | 

कम्पलीट ग्रेजुएशन हो 

12 वीं पास करने के बाद आपके पास ग्रेजुएशन पूर्ण करने का सर्टीफिकेट हो । जो 3 साल का होता है। अगर आपने 12वीं पास आर्ट्स के साथ की है, तो आप 12वीं के बाद BA करके ग्रेजुएशन पूर्ण कर सकते है और यदि आपने 12वीं पास कॉमर्स के साथ की है, तो आप बी.कॉम, बीबीए जैसे  र्स करके ग्रेजुएशन कर सकते है। यदि आपने 12 वीं साइंस स्ट्रीम के साथ पास की है तो आप बीएससी जैसे कोर्स के साथ अपना ग्रेजुएशन पूर्ण कर सकते है।

बीएड की तैयारी कैसे करे?

कम्पलीट बीएड (B.ed)

ग्रेजुएशन पूर्ण करने के बाद आपको बीएड की डिग्री प्राप्त करना आवश्यक है । बीएड का कोर्स 2 साल का होता है। सरकारी शिक्षक बनने के लिए बीएड करना बहुत ही आवश्यक माना जाता है | 

क्लियर TET एग्जाम

सरकारी प्राइमरी स्कूल टीचर बनने के लिए आपको बीएड के बाद टेट के एग्जाम में सफलता प्राप्त करना अनिवार्य होता है क्योंकि tet एग्जाम क्लियर किये बिना आप प्राइमरी शिक्षक नहीं बन सकते है और यदि आपको प्राइवेट शिक्षक बनना है तो बिना tet के भी प्राइमरी स्कूलों में अप्लाई कर सकते है।  यह सब प्रक्रिया पूर्ण कर लेने के बाद जब भी शिक्षक के लिए सरकारी भर्ती के लिए आवेदन जारी किये जाए, तो आप इसके लिए आवेदन कर सकते है। जब तक सरकारी शिक्षक की भर्ती नहीं पड़ती है तो आप किसी प्राइवेट स्कूल में भी पढ़ाने के लिए आवेदन कर सकते है।

बीएड (B.ED) कोर्स क्या है?

प्राइमरी शिक्षक बनने के क्या फायदे है

  1. प्राइमरी शिक्षक को छोटे -छोटे बच्चो को पढ़ाने का अवसर प्राप्त आता है, जिससे आप अपने मुताबिक़ छोटे से ही बच्चों को अच्छे संस्कार प्रदान कर सके | 
  2. दूसरी नौकरी की सापेक्ष में शिक्षक को अधिक छुट्टिया भी प्रदान की जाती है।
  3. शिक्षक को बहुत ही अच्छा वेतन भी प्रदान किया जाता है |  
  4. शिक्षक को पढ़ाने का समय निश्चित होता है। उसके बाद अधिक कार्य करने की आवश्यकता भी नहीं रहती है।

PRIMARY SCHOOL TEACHER की सैलरी 

इसमें टीचरों की सैलरी के तौर पर 9300 वेतनमान, 4200 रुपए ग्रेड पे, 16875 रुपए डीए भी शामिल है। नया वेतनमान- 35400 रुपए  सैलरी टीचरों को प्रदान की  जाती है । नये वेतन में मूल वेतन में 2.83 का गुणा करने पर 34695 रुपए बनता है, लेकिन फर्स्ट स्लैब 35400 रुपए है।

डी एल एड (D.EL.ED) क्या है?

यहाँ पर हमने आपको प्राइमरी स्कूल के टीचर (PRIMARY SCHOOL TEACHER) बनने के विषय में जानकारी उपलब्ध कराई है |  यदि आप इस जानकारी से संतुष्ट है, या फिर इससे समबन्धित अन्य जानकारी प्राप्त करना चाहते है तो कमेंट करे और अपना सुझाव दे सकते है, आपकी प्रतिक्रिया का जल्द ही निवारण किया जायेगा | अधिक जानकारी के लिए hindiraj.com पोर्टल पर विजिट करते रहे |

टीचर (TEACHER) कैसे बने