रेलवे टिकट रिफंड के नियम

वैश्विक महामारी कोरोना के कारण भारतीय रेलवे नें लॉकडाउन के दौरान सभी ट्रेनों का परिचालन निलंबित कर दिया था| स्थितियों के कुछ सामान्य होनें पर 1 जून से यात्री ट्रेनों के आंशिक परिचालन को पुनः शुरू कर दिया गया है | रेलवे द्वारा वर्तमान समय में विशेष ट्रेनों के अलावा एक्सप्रेस ट्रेनों का संचालन किया जा रहा है |

अब नई टिकटों की बुकिंग शुरू हो गई है, इन सभी ट्रेनों के टिकट स्टेशन स्थित आरक्षण काउंटर या आईआरसीटीसी (IRCTC) की वेबसाइट अथवा ऐप के माध्यम से बुक करा सकते हैं | यदि आपने भी टिकट बुक किया था, और किसी करणवश उसे कैंसिल करना चाहते है, तो आपको आरक्षण काउंटर या आईआरसीटीसी से टिकट कैंसिल करानें पर रिफंड से सम्बंधित जानकारी होना आवश्यक है | तो आईये जानते है, कि रेलवे टिकट रिफंड के नियम क्या है?

रेलवे में टिकट कलेक्टर कैसे बने

टिकट कैंसल कैसे करे (How to Cancel A Ticket)

यदि आपनें टिकट आईआरसीटीसी की वेबसाइट irctc.co.in या मोबाइल ऐप से बुक की है, तो आप इस टिकट को आईआरसीटीसी की वेबसाइट से कैंसल करा सकते हैं। टिकट कैंसल होने के बाद पैसा उसी अकाउंट में चला जाएगा जिस अकाउंट से आपने टिकट बुक कराने के लिए भुगतान किया था | आप किसी भी प्रकार के ई-टिकट को आरक्षण काउंटर से कैंसिल नहीं करा सकते |

रेलवे में स्टेशन मास्टर कैसे बने?

काउंटर से टिकट कैंसिलेशन और रिफंड के नियम  (Counter Cancellation & Refund Rules) 

भारतीय रेलवे द्वारा टिकट कैंसिलेशन को लेकर कई नियम बनाए हैं, जिसमें से एक नियम काल के माध्यम से टिकट कैंसिलेशन का नियम है | यह नियम सिर्फ काउंटर से बुक कराए गए टिकट पर लागू होता है | आप अपनी सुविधानुसार किसी भी समय रेलवे को कॉल करके अपना टिकट कैंसिल करा सकते हैं | काल के माध्यम से टिकट कैंसिल करानें के लिए आपको रेलवे के इन्क्वायरी नंबर 139 पर कॉल करना होगा, परन्तु इस बात का ध्यान रखे कि आप यह कॉल रजिस्टर्ड मोबाइल नंबर से ही करें अर्थात जो नंबर टिकट रिजर्वेशन के समय दिया गया हो |

कॉल करने के दौरान आपको अपनें टिकट का पीएनआर नंबर बताना होगा, इसके पश्चात रेलवे द्वारा आपके रजिस्टर्ड नंबर को कन्फर्म करनें के पश्चात आपके रजिस्टर्ड मोबाइल पर एक वन टाइम पासवर्ड (ओटीपी) सेंड करेगा | इस ओटीपी नंबर की जानकारी आपको कॉल पर ही देनी होगी, इसके बाद रेलवे द्वारा आपका टिकट कैंसिल कर दिया जायेगा | 

पीपीपी मॉडल क्या होता है  

ऐसे मिलेगा रिफंड (How to Get Refund)

टिकट कैंसिल होनें के बाद अगली प्रक्रिया रिफंड की है, इसके लिए आपको इंतजार नहीं करना पड़ता है, टिकट कैंसिल होनें के बाद आपको रेलवे के रिजर्वेशन काउंटर पर जाकर टिकट कैंसिलेशन की जानकारी के साथ ओटीपी बताना होगा | इसके पश्चात आपको काउंटर से रिफंड मिल जायेगा | 

NRA क्या है

चार्ट तैयार होने से पहले कैंसिलेशन और रिफंड के नियम (Rules of Cancellation & Refund Before Chart Preparation)

यदि आप अपना टिकट चार्ट तैयार होने से 48 घंटे पहले कैंसिल करते है, तो टिकट पर फ्लैट कैंसिलेशन चार्ज लगता है | यह चार्ज स्लीपर और सेकंड क्लास के लिए 60 रुपए, थर्ड एसी / एसी चेयरकार / एसी 3 इकोनॉमी के लिए 180 रुपए, एसी टू टीयर के लिए 200 रुपए, एसी फर्स्ट क्लास / एग्जीक्यूटिव क्लास के लिए 240 रुपए प्रति यात्री के हिसाब से कट जाता है |

यदि आप अपना टिकट ट्रेन के चलने से 12 घंटे पहले कैंसिल करते है, तो किराये का 25 प्रतिशत तक का चार्ज कटता है | वहीं, 12 घंटे से लेकर चार्ट बनने से पहले यदि आप टिकट कैंसल करते हैं, तो आपको किराये का 50 प्रतिशत तक का चार्ज के रूप में देना पड़ता है |

सीएससी क्या है

आरएसी और वेटलिस्टेड टिकट्स कैंसिल कराने पर (On Canceling RAC And Waitlisted Tickets)

यदि आपका टिकट आरएसी या वेटलिस्टेड है और आप अपना टिकट ट्रेन चलनें से 30 मिनट पहले कैंसल कराते हैं, तो 60 रुपए प्रति टिकट की दर से शुल्क कटेगा, इसके साथ ही जीएसटी का चार्ज भी काटा जायेगा। इसमें आपकी यात्रा की दूरी से कोई मतलब नहीं है, चाहे आपकी यात्रा कितनी भी लंबी या कितनी ही छोटी हो |

डिजिलॉकर क्या है

स्पेशल ट्रेन टिकट कैंसिलेशन और रिफंड के नियम (Special Train Ticket Cancellation & Refund Rules)

स्पेशल ट्रेनों में सफ़र करनें सभी पैसेंजर्स की स्क्रीनिंग की जाएगी, यदि आपकी बॉडी का टेम्परेचर सामान्य से अधिक है, या कोविड -19 आदि के लक्षण हैं तो टिकट कन्फर्म होनें पर भी आपको सफ़र करनें कि अनुमति नहीं दी जाएगी | ऐसे मामलों में टिकट रिफंड के नियम इस प्रकार है-       

  • यदि एक ही पीएनआर पर कई यात्री सफ़र कर रहे है, और उनमें से एक यात्रा करने के लिए अयोग्य पाया जाता है | इस स्थिति में उनके साथ के सभी यात्री भी यात्रा नहीं करना चाहते है, तो यात्रियों के टिकट का पूरा रिफंड दिया जायेगा |
  • जिस व्यक्ति का टेम्परेचर अधिक है, उस यात्री को छोड़कर अन्य सभी यात्री यात्रा करना चाहते है, तो उस एक व्यक्ति के टिकट का पूरा रिफंड दिया जाएगा |
  • इस प्रकार के सभी मामलों में पैसेंजर्स की एंट्री, चेकिंग और स्क्रीनिंग के लिए प्रमाणपत्र टीटीई द्वारा जारी किये जाएँगे, जिसमें यह उल्लेख किया जाएगा कि एक या अधिक यात्रियों में कोविड -19 के लक्षणों के कारण यात्रा नहीं की गई |
  • टीटीई द्वारा दिए गये प्रमाण पत्र को प्राप्त करने के पश्चात सफ़र नहीं किए गए यात्रियों की वापसी के लिए यात्रा की तिथि से 10 दिनों के अन्दर ऑनलाइन टीडीआर दायर किया जाएगा |

क्लर्क (Clerk) कैसे बने?

रेलवे के 139 नंबर पर मिलनें वाली सुविधाएँ (Facilities Found on Railway Number 139)

रेलवे द्वारा जारी 139 नंबर से यात्रियों के लिए अनेक प्रकार की सुविधाएँ दी जाती है | इस नंबर पर ट्रेन के आवागमन की जानकारी के साथ ही पीएनआर स्टेट्स, ट्रेन का किराया, ट्रेन की रियल टाइम स्थिति जैसी अनेक प्रकार की जानकारी काल के आलावा SMS के माध्यम से प्राप्त कि जा सकती है | इसके आलावा स्टेशन पर कुली और टैक्सी बुक करनें की सुविधा भी इसी नंबर पर उपलब्ध है | 

आरबीआई ग्रेड बी परीक्षा क्या है?

यहाँ आपको रेलवे टिकट रिफंड के नियम की जानकारी से अवगत कराया गया है | इस प्रकार की अन्य जानकारी के लिए आप www.hindiraj.com पर विजिट कर सकते है | अगर आप दी गयी जानकारी के विषय में अपने विचार या सुझाव अथवा प्रश्न पूछना चाहते है, तो कमेंट बॉक्स के माध्यम से संपर्क कर सकते है |

वैज्ञानिक (SCIENTIST) कैसे बनें

Leave a Comment