कुंडली मिलान कैसे करें



हिंदू धर्म में जब किसी लड़के अथवा लड़की की शादी होती है तब उनके घर वालों के द्वारा लड़की और लड़के की कुंडली का मिलान करवाया जाता है। सामान्य तौर पर यह मिलान किसी अनुभवी ज्योतिष अथवा पंडित के द्वारा करवाया जाता है।

कुंडली मिलान करवाने के पश्चात अगर दोनों के गुण आपस में ठीक ठाक मिल रहे हैं तो आगे शादी करवाने का निर्णय लिया जाता है और अगर कुंडली में कोई दोष है तो उसे भी दूर करवाने के उपाय किए जाते हैं।

यदि आप Kundali Milan By Name And Date Of Birth के विषय जानकारी प्राप्त करना चाहते है तो कृपया दिए गए लेख को ध्यानपूर्वक पढ़े |

अपनी जन्म कुंडली कैसे देखे

कुंडली मिलान क्या है ? Kundali Milan in Hindi

Kundali Matching In Hindi: ऋषि मुनियों के द्वारा हिंदू समुदाय के लिए जो महत्वपूर्ण नियम बनाए गए थे उसी में से एक महत्वपूर्ण नियम है कुंडली मिलान, जिसे कुंडली मिलाना (Kundali Matching) भी कहते हैं। कुंडली मिलाने की आवश्यकता तब होती है जब किसी दूसरे अलग-अलग गोत्र के लड़के और लड़की का आपस में विवाह तय किया जाता है।

कुंडली मिलान विवाह के पहले ही रिश्ता देखने के पश्चात किया जाता है, जिसके अंतर्गत कुछ आवश्यक जानकारियों को प्राप्त करने का प्रयास किया जाता है।

कुंडली मिलान के द्वारा होने वाले दूल्हा दुल्हन की अनुकूलता और उनके भविष्य के सुख और समृद्धि को जानने का प्रयास किया जाता है। हिंदू धार्मिक मान्यता के अनुसार किसी भी व्यक्ति की शादी के लिए कुंडली का मिलान करवाना आवश्यक होता है।

यह एक ऐसा कदम है जो प्रारंभिक तौर पर वर और वधू के परिवार वाले लोगों के द्वारा उठाया जाता है।कुंडली मिलान के द्वारा दोनों ही व्यक्तियों के आध्यात्मिक, भावनात्मक और शारीरिक अनुकूलता के बारे में भी जानकारी हासिल होती है।

इसके अलावा व्यक्ति अपने दांपत्य जीवन की स्थिरता और लंबी उम्र की जानकारी भी गहराई से कुंडली मिलान के द्वारा हासिल कर सकता है।

अपनी राशि कैसे जाने ?

कुंडली मिलान कैसे करें ?

आपको कुंडली मिलान करवाने के लिए अथवा कुंडली बनवाने के लिए किसी सिद्ध पंडित की ही सहायता लेनी चाहिए और उनके द्वारा ही लड़के और लड़की के गुणों का मिलान करवाना चाहिए।

1: कुंडली मिलान करने के लिए आपको एस्ट्रोसेज नाम की वेबसाइट का इस्तेमाल करना पड़ेगा क्योंकि यहां पर कुंडली मिलाने वाला कैलकुलेटर उपलब्ध है। आपको वेबसाइट पर जाने का लिंक नीचे दिया जा रहा है। नीचे दिए गए लिंक पर क्लिक करके वेबसाइट के कुंडली मिलान कैलकुलेटर पर चले जाएं।

विजिट वेबसाइट: https://hindi.astrosage.com/freechart/kundli-milan-matching.asp

2: वेबसाइट के पेज पर पहुंचने के पश्चात आपको जो कुंडली मिलाने वाले बॉक्स दिखाई दे रहे हैं उसमें नीचे दी गई जानकारियों को बिल्कुल सही सही उनकी निर्धारित जगह में दर्ज करना है।

लड़के का जन्म विवरण

  • नाम: आपको यहां पर लड़के का नाम इंटर करना है।
  • जन्म दिनांक: आपको यहां पर लड़के की जन्म तिथि को भरना है।
  • जन्म समय: लड़के के जन्म के समय को यहां पर दर्ज करें।
  • जन्म स्थान। लड़का किस जगह पैदा हुआ था उसके स्थान को यहां पर डालें।

लड़की का जन्म विवरण

नाम: लड़की का नाम भरें।

जन्म दिनांक: आपको यहां पर लड़की की जन्म तिथि को इंटर करना है।

जन्म समय: लड़की के जन्म के समय को यहां पर दर्ज करें।

जन्म स्थान। लड़की किस जगह पैदा हुई थी, उसके स्थान को यहां पर डालें।

3: सभी जानकारियों को दर्ज करने के पश्चात आपको नीचे जो नारंगी रंग के बॉक्स में कुंडली मिलाएं वाला ऑप्शन दिखाई दे रहा है, उसी ऑप्शन पर क्लिक कर देना है।

अब आपकी स्क्रीन पर थोड़े समय के पश्चात कुंडली मिलान का रिजल्ट आ जाएगा। अब आप अगर खुद से कुंडली का विश्लेषण करना जानते हैं तो आप कुंडली का विश्लेषण कर सकते हैं या फिर अनुभवी पंडित के द्वारा कुंडली का विश्लेषण करवा सकते हैं और शुभ तथा अशुभ घटनाओं की जानकारी प्राप्त कर सकते हैं।

मेरी शादी कब होगी कैलकुलेटर

गुण मिलान का मतलब | Gun Milan In Hindi

कुंडली मिलाने की प्रक्रिया जब शुरू की जाती है तब लड़के और लड़की दोनों के ही गुणों को मिलाने का काम किया जाता है। आपकी जानकारी के लिए बता दें कि किसी भी व्यक्ति की कुंडली जब मिलाई जाती है तब उसमें आठ प्रकार के गुण और अष्ट कूट का मिलान होता है। विवाह के लिए गुण मिलान बहुत ही आवश्यक होता है।

गुण मिलान के तौर पर वर्ण, वश्य, तारा, योनि, गृह, मैत्री, गण, भकूट और नाड़ी इत्यादि गुण होते हैं। हिंदू मान्यता के अनुसार अगर लड़के और लड़की दोनों की कुंडली में से 36 में से अगर 18 गुण भी मिल जाते हैं तो ऐसी अवस्था में यह माना जाता है कि शादी सफल हो जाएगी, क्योंकि यह 18 गुण प्रवृत्ति, मानसिक स्थिति, संतान, स्वास्थ्य और दोष से संबंधित होते हैं।

नीचे आपको विस्तार से बताया गया है कि विवाह के लिए लड़के और लड़की के कितने गुण मिलना शुभ होता है और कितने गुण मिलना अशुभ होता है।

  • 18 या इससे कम गुण: विवाह असफल होने की संभावना अधिक होती है।
  • 18-24 गुण मिलने पर:  ऐसी अवस्था में विवाह तो सफल हो जाएगा परंतु विवाह में समस्या कई आएंगी।
  • 24-32 गुण मिलने पर  : शादीशुदा जिंदगी के सफल होने की संभावना अधिक होती है।
  • 32 से 36 गुण मिलने पर: इस प्रकार की शादी शुभ मानी जाती है और दांपत्य जीवन में अधिक समस्याएं पैदा नहीं होती हैं।

अपना भविष्य कैसे जाने

शादी के लिए कुंडली मिलाने की आवश्यकता

Why Kundali Matching Is Important : कुंडली मिलाने की परंपरा का पालन हिंदू समुदाय में किया जाता है और यह परंपरा प्राचीन काल से चली आ रही है। आधुनिक जमाने के लोग इसे ढकोसला कहते हैं तो वहीं कई लोग इसे पंडितों के धन लूटने का जरिया बताते हैं।

परंतु वास्तविक तौर पर देखा जाए तो कुंडली मिलाना विवाह के लिए अत्यंत महत्वपूर्ण होता है, क्योंकि कहीं ना कहीं इस धरती पर पैदा होने वाला हर व्यक्ति ग्रहों की चाल के ऊपर ही सुख-दुख का भोगी होता है।

कुंडली मिलान के द्वारा गणना की जाती है जिसके अंतर्गत यह बताया जाता है कि लड़की और लड़के दोनों के ही जो ग्रह और नक्षत्र हैं वह एक दूसरे के लिए अनुकूल है अथवा नहीं है।

अगर दोनों के ग्रह नक्षत्र अनुकूल होते हैं तो ऐसी अवस्था में यह माना जाता है कि उनका वैवाहिक जीवन सुखी रहेगा परंतु अगर ग्रह नक्षत्र अनुकूल नहीं होते हैं तो ऐसा माना जाता है कि उनके वैवाहिक जीवन में समय-समय पर कष्ट आता रहेगा। हालांकि यह कष्ट परमानेंट नहीं होता है बल्कि टेंपरेरी होता है और कष्ट निवारण के उपाय भी होते हैं।

कुंडली मिलान और मांगलिक दोष

Kundli Mein Mangal Dosh Kya Hota Hai: कुंडली मिलाने के दरमियान लड़के और लड़की के गुण को तो मिलाया ही जाता है। इसके अलावा जो सबसे महत्वपूर्ण बात देखी जाती है वह यह है कि कहीं लड़के या फिर लड़की की कुंडली में मांगलिक दोष तो नहीं है। अगर किसी भी व्यक्ति की कुंडली में मांगलिक दोष होता है तो यह सही नहीं माना जाता है।

अगर कुंडली में मांगलिक दोष उत्पन्न है तो इसका निवारण शादी से पहले करवाना आवश्यक होता है, वरना दांपत्य जीवन सुखी नहीं रहता है।

अगर किसी व्यक्ति की कुंडली में मांगलिक दोष है तो ऐसी अवस्था में उसे किसी मांगलिक व्यक्ति से ही शादी करने की सलाह दी जाती है, वरना पहले उसके मांगलिक दोष को हटाया जाता है।

एस्ट्रोलॉजी क्या होता है

कुंडली मिलान वाला ऐप | Kundali Milan (Matching) App Download

नीचे कुछ बेस्ट कुंडली मिलाने वाला एप लिस्ट आपको दी गई है:-

  • Astrosage kundli app
  • Kundli In Hindi By Astrology By Clickastro
  • Kundli By Vedic Rishi Astro
  • Kundli Software By Ojas
  • Birthastro By Deepak Chopara

FAQ :

कुंडली में कितने गुण मिलने चाहिए ?

वैसे तो कुंडली में 36 के 36 गुण मिलने चाहिए परंतु अगर 20 गुण भी मिल जाते हैं तो भी लोग विवाह करवा देते हैं।

लड़का और लड़की की कुंडली कैसे मिलाते हैं ?

लड़का और लड़की की कुंडली किसी भी अनुभवी पंडित के द्वारा मिलाई जा सकती है या फिर कुंडली मिलान एप्लीकेशन का इस्तेमाल किया जा सकता है।

जन्म तारीख से कुंडली कैसे मिलाए ?

जन्म तारीख से कुंडली मिलाने के लिए किसी भी कुंडली एप्प जैसे Astrosage Kundali App का इस्तेमाल किया जा सकता है |

हस्तरेखा का ज्ञान – हस्त रेखा देखने की विधि

Leave a Comment