Teachers Day क्यों मनाया जाता है ?



Teachers Day 2023: आज के इस लेख के माध्यम से हम आपको Teachers Day Kyu Manaya Jata Hai से जुड़ी जानकारी देने वाले हैं। हर साल सभी छात्र बहुत ही उत्साह के साथ टीचर्स डे मनाते हैं परंतु यह बहुत कम जानते है की Teachers Day क्यों मनाते हैं। तो इस प्रश्न का उत्तर हम इस लेख के माध्यम से देने वाले हैं। यदि आपको पहले से ही इसकी जानकारी है। तो काफी अच्छी बात है और अगर नहीं है तो कोई बात नहीं।

img-1


आज का लेख पढ़कर आप भी जान जाएंगे कि टीचर के मनाने का इतिहास क्या है, शिक्षक दिवस क्या है?। तो चलिए बिना समय व्यर्थ किए आगे बढ़ते हुए 5 September Teachers Day क्यों मनाया जाता है के बारे में जानते हैं।

प्राइमरी स्कूल के टीचर कैसे बने

शिक्षक दिवस क्या है – What is Teachers Day in Hindi

हर व्यक्ति के जीवन में शिक्षक का एक बहुत महत्वपूर्ण स्थान होता है। एक अच्छे शिक्षक से हम काफी कुछ सीखते हैं और शिक्षकों के सम्मान के लिए ही टीचर्स डे हर साल बहुत उत्साह के साथ मनाया जाता है। वैसे आपको बता दें कि बहुत से देशों में अलग-अलग तारीखों के दिन शिक्षकों को सम्मान देने के लिए Teachers Day मनाया जाता है। हमारे भारत देश में गुरुओं को प्राचीनकाल काल से ही सम्मान दिया जाता है। जिसके लिए गुरु पूर्णिमा भी मनाई जाती है। शिक्षक दिवस हर साल 5 सितंबर को शिक्षकों को उनकी कड़ी मेहनत और भविष्य की पीढ़ी को ज्ञान प्रदान करने के लिए समर्पित करने के लिए सम्मानित करने के लिए मनाया जाता है। हर सफल व्यक्ति के बीचे उसकी मेहनत के साथ साथ शिक्षक का भी काफी महत्व होता है। इस कारण एक शिक्षक के सम्मान हेतु  Teachers Day Manaya Jata Hai।



Key Highlights of Teachers Day Kyu Manaya Jata Hai

लेख का नामटीचर्स डे क्यों मनाया जाता है
तिथि5 सितंबर (भारत)
महत्वदेश के शिक्षकों को सम्मान और प्रोत्साहन देने का अवसर
पहली बार मनाया गया1962
संबंधितसर्वपल्ली राधाकृष्णन, UNESCO, कन्फ्यूशियस

शिक्षक दिवस का महत्व

किसी व्यक्ति के पास अगर शिक्षा है तो उसका भविष्य उज्जवल है। और वह अपने साथ-साथ अपने परिवारों के सपने पूरे करने की क्षमता रखता है क्योंकि शिक्षा प्राप्त कर व्यक्ति को एक अच्छा रोजगार मिलता है और अच्छे रोज़गार से एक अच्छा जीवन। इस कारण शिक्षा प्राप्त करना काफी ज्यादा ज़रूरी है और शिक्षा प्राप्त करने के लिए एक अच्छे शिक्षक का होना इससे भी ज्यादा ज़रूरी है। किसी भी व्यक्ति के लिए उसके माता-पिता के पश्चात उसकी जिंदगी में शिक्षक का काफी महत्व होता है।

पहले के समय से ही छात्र के माता-पिता ने उसके गुरु के प्रति आदर सम्मान सभी चीजों को काफी बताया है। ताकि उनका बच्चा अपने गुरु की इज्जत करें और उनसे ज्यादा से ज्यादा ज्ञान अर्जित करें। इस सम्मान को बनाए रखने के लिए ही सदियों से हर 5 सितंबर को शिक्षक दिवस मनाया जाता हैं। वैसे दुनिया के काफी सारे देशों में शिक्षा दिवस मनाया जाता है परंतु उन सभी की तारीखे अलग-अलग है।

शिक्षामित्र क्या है

Teachers Day Kab Manaya Jata Hai

हमारे भारत देश में तो शिक्षक दिवस 5 सितंबर को मनाया जाता है। क्योंकि सर्वपल्ली राधाकृष्णन जी का शिक्षा और राजनीति में काफी योगदान रहा है और ‌उनका जन्मदिन 5 सितंबर को आता है। इस कारण ही हम इनके जन्मदिन के शुभ अवसर पर ही शिक्षा दिवस मनाते हैं। इनके जीवन से जुड़ी काफी जानकारी हमने आपको नीचे उपलब्ध कराई। तो आपको लेख को पढ़ना जारी रखें।

डॉ सर्वपल्ली राधाकृष्णन कौन थे?

हमारे भारत देश के दूसरे राष्ट्रपति डॉक्टर सर्वपल्ली राधाकृष्णन जी का जन्म 5 सितंबर 1888 मे तमिलनाडु के तिरुताणी गांव में हुआ था। इनका संबंध काफी गरीब परिवार से था। परंतु शिक्षा में लगन एवं मेहनत के कारण हमेशा से ही इनकी रूचि राजनीति और अधिक से अधिक शिक्षा प्राप्त करने में रही। इन्होने तिरुवल्लुवर में गौड़ी स्कूल और तिरुपति मिशन स्कूल से शिक्षा प्राप्त की थी। जिसके पश्चात इन्होंने मद्रास रेजीडेंसी कॉलेज में सहायक का पद ग्रहण किया। इतना ही नहीं बल्कि डॉक्टर सर्वपल्ली राधाकृष्णन जी ऑक्सफोर्ड यूनिवर्सिटी में लेक्चर भी रहे हैं। दूसरे  राष्ट्रपति बनने के पश्चात उन्होंने हमारे भारत को शिक्षा के क्षेत्र में काफी आगे बढ़ाया है। स्वयं शिक्षा प्राप्त करने के कारण शिक्षा का महत्व जानते हुए इन्होंने भारत के प्रत्येक नागरिक को शिक्षा प्राप्त कराने के लिए विभिन्न प्रकार के कदम उठाए। काफी लम्बे समय तक अपने भारत को आगे बढ़ाते हुए डॉ सर्वपल्ली राधाकृष्णन जी 17 अप्रैल वर्ष 1975 में अलविदा कह गए।

Teachers Day Kyu Manaya Jata Hai- शिक्षक दिवस क्यों मनाया जाता है

क्योंकि हर व्यक्ति के लिए शिक्षा बहुत मायने रखती है क्योंकि शिक्षा एक बेहतर जीवन जीने के लिए काफी ज्यादा जरूरी है और चूँकि प्रत्येक व्यक्ति के जीवन में शिक्षा का काफी महत्व है। तो जिन्होंने हमें शिक्षा से जोड़ा है उन सभी का सम्मान करना हमारा अधिकार है। इस कारण हम हर साल 5 सितंबर के दिन टीचर्स डे मनाते हैं।

जैसे की हम सभी जानते है की डॉक्टर सर्वपल्ली राधा कृष्ण जी का योगदान भारत में शिक्षा और राजनीति के क्षेत्र में काफी रहा है। उन्होंने अपने देश के लिए विभिन्न ऐसे कदम उठाए हैं जो कि ज्यादा से ज्यादा नागरिकों को शिक्षा से जोड़ कर आत्मनिर्भर और सक्षम बना सकें।

डॉक्टर सर्वपल्ली राधा कृष्ण जी राजनीती में नहीं थे तब उनका सारा समय अध्ययन और अध्यापन में निकल जाता है। जिससे उनसे हमेशा काफी विद्यार्थी और मित्र जुड़े रहते थे। एक बार किसी विद्यार्थी ने उनसे उनका जन्मदिन मनाने के लिए कहाँ जिसके उत्तर में उन्होंने कहाँ की उनका जन्मदिवस शिक्षक दिवस के रूप में मनाया जाए तो उन्हें बहुत गर्व होगा। जिसके बाद से ही उनके जन्म दिन के शुभ अवसर पर ही Teachers Day मनाया जाने लगा।

बीएड की तैयारी कैसे करे?

Conclusion

इस लेख के माध्यम से हमने आपको Teachers Day Kyu Manaya Jata Hai से जुड़ी जानकारी दी है। हम उम्मीद करते हैं कि हमारे पाठकों को लेख काफी पसंद आया होगा। इसके माध्यम से आपने काफी जानकारी हासिल की होगी। यदि आपका इस विषय से जुड़ा कोई प्रश्न है। तो आप कमेंट के माध्यम से पूछ सकते हैं। हम एवं हमारी टीम सदैव अपने पाठकों की सेवा हेतु तत्पर है।

Teachers Day Kyu Manaya Jata Hai से जुड़े प्रश्न

टीचर्स डे कब मनाया जाता है?

भारत देश में टीचर्स डे 5 सितम्बर को मनाया जाता है।

टीचर्स डे क्यों मनाया जाता है?

देश के सभी शिक्षकों के सम्मान में Teachers Day Manaya Jata Hai

Leave a Comment