एसीपी (ACP) ऑफिसर कैसे बने

एसीपी को भारतीय पुलिस अधीक्षक में उच्च रैंक प्राप्त होती है| ACP और DSP में किसी भी प्रकार का अंतर नहीं होता है दोनों का रैंक Department समान्य होता है, दोनों की वर्दी पर 3 स्टार (stars)  लगे हुए है | ACP  का यह पद पुलिस का एक हिस्सा होता है | जो एक provincial police force से  जुड़ा हुआ होता है |  यह एक सम्मानजनक  पद होता है, जिसमें व्यक्ति को सम्मान के साथ-साथ अच्छी सैलरी भी प्रदान की जाती है | यदि आप भी एसीपी (ACP) ऑफिसर बनना चाहते है, तो यहाँ आपको एसीपी (ACP) ऑफिसर कैसे बने, योग्यता, आयु, तैयारी, सैलरी की  पूरी जानकारी दी जा रही है |

ये भी पढ़े: फिल्म प्रोड्यूसर (FILM PRODUCER) कैसे बने

एसीपी (ACP) आफिसर कैसे बने  

एसीपी का फुल फॉर्म असिस्टेंट कमिश्नर ऑफ पुलिस होता है और इसे हिंदी भाषा में  ‘सहायक पुलिस आयुक्त’ कहा जाता है | जैसे एसीपी को 3 स्टार प्राप्त होते वैसे ही डीएसपी को भी 3 स्टार ही प्राप्त होते हैं, जबकि एसीपी की रैंक डीएसपी की रैंक से बड़ी होती है| एसीपी की रैंक आईपीएस लेवल की रैंक होती है | आईपीएस अधिकारियों को पदोन्नति के माध्यम से एसीपी रैंक  दी जाती है, इसके साथ ही आप इस रैंक  को डीएसपी  के पद से भी प्राप्त कर सकते है ।  इस पद को प्राप्त करने के लिए अभ्यर्थी को हर संभव प्रयास करने होते हैं, जिसके बाद वो इस पद को प्राप्त करने  में सफल हो पाते है |

एसीपी ऑफिसर बनने के लिए योग्यता 

सहायक पुलिस आयुक्त अथवा एसीपी बनने के लिए आवेदन करनें वाले अभ्यर्थियों को किसी मान्यता प्राप्त संस्थान से स्नातक होना आवश्यक होता है |

शारीरिक योग्यता 

एसीपी बनने के लिए नियम के मुताबिक,  अभ्यर्थी की लम्बाई 165 सेमी और छाती 85 सेमी होनी आवश्यक होती है | महिला वर्ग के अभ्यर्थियों की लम्बाई 150 सेमी  तक होनी चाहिए |

ये भी पढ़े: करोड़पति (CROREPATI) कैसे बने

ये भी पढ़े: बैंक कैशियर (BANK CASHIER) कैसे बने

एसीपी ऑफिसर बनने हेतु आयु सीमा 

एसीपी ऑफिसर  बनने के लिए अभ्यर्थी की  न्यूनतम  आयु 21 वर्ष और अधिकतम आयु  32 वर्ष  होनी चाहिए|  इसके अलावा OBC  अभ्यर्थियों के लिए सरकार की तरफ से लगभग 3 साल की  छूट प्रदान की जाती है  और SC /ST अभ्यर्थियों को 5 साल की छूट दी जाती है |

एसीपी ऑफिसर बनने हेतु चयन प्रक्रिया  

एसीपी ऑफिसर के परीक्षा का आयोजन  राज्य लोक सेवा आयोग (UPPSC) द्वारा किया जाता है,  जो तीन चरणों में आयोजित की जाती है | जो इस प्रकार से है –

  1. प्रारम्भिक परीक्षा (Pre Exam)
  2. मुख्य परीक्षा (Mains Exam)
  3. साक्षात्कार (Interview)

प्रारम्भिक परीक्षा (Pre Exam)

एसीपी बनने  के लिए अभ्यर्थी को सबसे पहले प्रारम्भिक परीक्षा में शामिल होना होता है, जिसमें सामान्य अध्ययन के दो प्रश्न पत्र हल कराये जाते है,  प्रत्येक प्रश्न पत्र के लिए 200 अंक निर्धारित  किये जाते है | प्रत्येक प्रश्न पत्र को हल करने के लिए अभ्यर्थियों को  दो घंटे का समय  दिया जाता है |

ये भी पढ़े: प्रॉपर्टी डीलर (PROPERTY DEALER) कैसे बने

ये भी पढ़े: प्रधानमंत्री महिला शक्ति केंद्र योजना (PMMSY)

मुख्य परीक्षा (Mains Exam)

जो अभ्यर्थी प्रारम्भिक परीक्षा  में सफलता प्राप्त लेते हैं तो उन्हें दूसरे चरण के अंतर्गत मुख्य परीक्षा में शामिल किया जाता है, जिसमें अभ्यर्थियों को 6 प्रश्न पत्र हल  करने होते है | इन विषयों में भारतीय भाषा के लिए 300 अंक , अंग्रेजी 300 अंक, निबंध 200 अंक, जनरल स्टडी 300 अंक, वैकल्पिक विषय के लिए अंक दो डिजिट में निर्धारित किये जाते है |

क्र.स.विषय      अंक
1.सामान्य अध्ययन पेपर -1200
2.सामान्य अध्ययन पेपर -2200
3.सामान्य अध्ययन पेपर -3200
4.सामान्य अध्ययन पेपर -4200
5.सामान्य हिंदी150
6.निबंध150

साक्षात्कार (इंटरव्यू)

प्रारम्भिक  परीक्षा और मुख्य परीक्षा में  सफलता प्राप्त कर लेने वाले अभ्यर्थियों को अंतिम चरण में साक्षात्कार के लिए बुलाया जाता है,  जिसका आयोजन आयोग द्वारा किया जाता है, साक्षात्कार में अभ्यर्थी की योग्यता का आकलन होता है, जिसके लिए 250 अंक निर्धारित किये जाते  है | इसके बाद साक्षात्कार में सफलता प्राप्त कर लेने वाले अभ्यर्थियों को इस पद के लिए नियुक्त कर लिया जाता है |

एसीपी ऑफिसर की सैलरी  

एसीपी ऑफिसर को प्रतिमाह लगभग ₹20,200 से 40,800 तक के बीच में सैलरी प्रदान की जाती है और इसके साथ ही ग्रेड पे 2400 तक  प्रदान किया जाता है | इसके अलावा एसीपी अधिकारी को रहने के लिए सरकारी बंगला ही प्रदान किया जाता है, जिसमें कुक, चपरासी और अन्य स्टाफ की सुविधा दी जाती है, फ्री टेलीफोन की सुविधा के साथ बिजली भी फ्री उपलब्ध होती है । एसीपी ऑफिसर सरकारी यात्राएं भी फ्री  में कर सकता है।

ये भी पढ़े: सॉलिसिटर जनरल ऑफ इंडिया क्या होता है?

यहाँ पर हमनें आपको एसीपी ऑफिसर बनने के विषय में सम्पूर्ण जानकारी उपलब्ध कराई है | यदि  आपको इससे  सम्बंधित अन्य जानकारी प्राप्त करनी है तो आप  अपने विचार या सुझाव कमेंट बॉक्स के माध्यम से पूंछ सकते है | इसके साथ ही आप अन्य जानकारी प्राप्त करना चाहते है तो www.hindiraj.com पर विजिट करे |

ये भी पढ़े: प्रधानमंत्री महिला शक्ति केंद्र योजना (PMMSY)

ये भी पढ़े: वैज्ञानिक (SCIENTIST) कैसे बनें

ये भी पढ़े: ठेकेदार (CONTRACTOR) कैसे बने

ये भी पढ़े: कंप्यूटर हार्डवेयर इंजीनियर कैसे बनें