केवाईसी (KYC) का मतलब क्या होता है

वर्तमान समय में लगभग सभी लोगों को केवाईसी (KYC) शब्द के विषय में जानकारी होगी क्योंकि, इस शब्द का  इस्तेमाल अधिकतर बैंक, मोबाइल और सरकारी संस्थानों में होता है | क्योंकि यह ग्राहकों का अपडेट डाटा होता है जो संस्था द्वारा माँगा जाता है | बैंक और मोबाइल कंपनियां मुख्य रूप से केवाईसी (KYC)  का इस्तेमाल करके ही आपकी सेवाएं बाधित कर देती है, क्योंकि, जिसकी केवाईसी (KYC) सही से भर दी जाती है, तो  उसकी सेवाएं पुनः  जारी कर दी जाती है |

इसलिए अगर यदि आपको केवाईसी (KYC) के विषय में जानकारी नहीं है, तो यहाँ पर केवाईसी (KYC) का मतलब क्या होता है | केवाईसी का फुल फॉर्म क्या होता है ? इसकी जानकारी दी जा रही है |

Bank Balance Kaise Check Kare

केवाईसी का क्या मतलब है? 

केवाईसी बहुत ही जरूरी एक प्रोसेस होता है, जिसके अंतर्गत सभी कंपनियां, बैंक, सरकारी योजना, वित्तीय संस्थान अपने- अपने ग्राहकों की पहचान के लिए उनके डॉक्यूमेंट की फोटो कॉपी जमा कराने का काम करते  है | प्रत्येक ग्राहक द्वारा दिए गए इस डॉक्यूमेंट में ग्राहक का नाम, पता, पहचान पत्र से सम्बंधित सभी जानकारी उपलब्ध रहती है | यह प्रक्रिया इसलिए कराई जाती है ताकि, भविष्य में किसी भी दुर्घटना होने पर उस व्यक्ति की पहचान अच्छे से हो सके |

केवाईसी का फुल फॉर्म क्या होता है? 

केवाईसी (KYC) का फुल फॉर्म “Know Your Customer” होता है, वहीं हिंदी भाषा में इसे  ‘अर्थ ग्राहक को जानों’  के नाम से जाना जाता है | सभी लोगो को यह फॉर्म भरना  अनिवार्य रहता है इसके साथ ग्राहक  के पास जरूरी कागजात में से आधार कार्ड, पैन कार्ड, वोटर कार्ड, पासपोर्ट इत्यादि की जानकारी दी जाती है | वहीं , भारतीय रिज़र्व बैंक ने सभी बैंकों को  निर्देश  देते हुए कहा है कि, “जब तक ग्राहक द्वारा केवाईसी (KYC) सबमिट न किया जाए तब तक ग्राहक की सभी सेवाएं सिमित कर दी जाए |”

Jio Payment Bank क्या है ?

केवाईसी के लिये जरूरी है ये डॉक्यूमेंट 

केवाईसी फॉर्म भरने के लिए आपको पासपोर्ट साइज फोटोग्राफ और पहचान प्रमाण पत्र के रूप में पैन कार्ड, ड्राइविंग लाइसेंस, पासपोर्ट, वोटर आईडी, आधार कार्ड या बैंक पासबुक की फोटो कॉपी की  आवश्यकता होगी क्योंकि, ये सारे डाक्यूमेंट्स आपको फॉर्म के साथ जमा किये जाते है |

KYC का महत्व  

जब किसी ग्राहक को किसी कम्पनी या बैंक के द्वारा वित्तीय सेवा  प्रदान की जाती  है, तो उसकी पहचान करने के लिए  केवाईसी फॉर्म  का इस्तेमाल किया जाता है | केवाईसी एक ऐसा दस्तावेज है, जो बैंकिंग प्रक्रियाओं का अनिवार्य और महत्वपूर्ण भाग कहा जाता है | इसके अलावा इससे धोखाधड़ी और लेनदेन के जोखिम को आसानी से कम कर सकते है |

यहाँ पर  हमने आपको केवाईसी (KYC) का मतलब क्या होता है | केवाईसी का फुल फॉर्म क्या होता है? इसकी सम्पूर्ण जानकारी दी है | यदि आपको इससे सम्बंधित अन्य जानकारी  प्राप्त करनी हो तो आप www.hindiraj.com पर विजिट कर सकते है | इसके साथ ही यदि आप दी गयी जानकारी के विषय में अपने विचार या सुझाव अथवा प्रश्न पूछना चाहते है, तो कमेंट बॉक्स के माध्यम से संपर्क कर सकते है |

Google Pay से पैसे कैसे ट्रांसफर करें