एमएसएमई (MSME) क्या है

भारत की अर्थव्यवस्था में देश के बिजनेस मैन का विशेष योगदान होता है | किसी भी देश की अर्थव्यवस्था वहां पर निवेश और उद्योग पर निर्भर करती है | देश में सूक्ष्म, लघु और मध्यम उद्योग मंत्रालय के द्वारा एमएसएमई (MSME) उद्योगों के लिए कुछ नियम भी निर्धारित किये गए है | देश में सूक्ष्म, छोटे और मध्यम उद्योगों से विनियम और कानून सम्बंधित नियम बनाये गए है तथा इसकी आवश्यकता होने पर नए कानूनों को बनाने हेतु यह मंत्रालय सबसे व्यवस्थित और विश्वसनीय संस्था है | भारत सरकार द्वारा ऐसे कदम उठाये जाते है जिसमे छोटे- बड़े व्यापारिक संस्थाओं को अपने व्यापार में कठिनाईयों का सामना ना करना पड़े | जिसे देखते हुए सरकार ने व्यापारिक संघठनों के लिए इसपर पंजीकरण करने की सुविधा आसान कर दी है | यदि आप भी एमएसएमई (MSME) क्या है, एमएसएमई का फुल फॉर्म, परिभाषा, हेल्पलाइन नम्बर के विषय में जानना चाहते है तो यहाँ पर विस्तृत जानकारी प्रदान की गई है |

5 ट्रिलियन डॉलर की अर्थव्यवस्था का अर्थ

एमएसएमई (MSME) का फुल फॉर्म

एमएसएमई (MSME) का फुल फॉर्म “Micro, Small and Medium Enterprises” होता है | इसका हिंदी में उच्चारण “माइक्रो, स्माल एंड मेडियम इंटरप्राइजेज” होता है | एमएसएमई का हिंदी में मतलब “सूक्ष्म, लघु और मध्यम उद्योग” होता है | इसका मुख्य उद्देश्य सूक्ष्म, लघु और मध्यम उद्योग पतियों के व्यापारिक संघठनों को व्यापार में सलरता प्रदान करना है | इसके अलावा व्यापारिक क्षेत्र को बढ़ावा देना है |

बेसिस पॉइंट (BASIS POINTS) क्या है

एमएसएमई के प्रकार (Types of MSME) और परिभाषा

एमएसएमई  सूक्ष्म, छोटे और मध्यम तीनों श्रेणियों के उद्योग इंटरप्राइज के तहत आते है | यह मुख्यतः तीन प्रकार के होते है –

  1. माइक्रो या सूक्ष्म उद्योग : सूक्ष्म उद्योग सबसे छोटे उद्योग होते है, इसके विनिर्माण व्यापार के तहत संयंत्र और मशीनरी पर कम से कम 25 लाख तक का निवेश किया जा सकता है और सेवा व्यापार में अधिकतम 10 लाख रूपये तक का निवेश किया जा सकता है | इसका वार्षिक टर्न ओवर ओवर रु. 5 करोड़ से कम होता है |
  2. लघु उद्योग : लघु उद्योग के तहत छोटे विनिर्माण हेतु संयत्र और मशीनरी में 25 लाख से 5 करोड़ तक का निवेश किया जा सकता है, और इस सेवा उद्यमों में निवेश की सीमा अधिकतम सीमा 10 लाख से 2 करोड़ रूपये तक होता है | इसका वार्षिक टर्न ओवर 5 करोड़ रु से 75 करोड़ के मध्य होता है |
  3. मध्यम उद्योग : मध्यम विनिर्माण उद्योग में संयत्र और मशीनरी में न्यूनतम 5 करोड़ से 10 करोड़ रूपये तक का निवेश किया जा सकता है और इस सेवा उद्यमों हेतु इसकी सीमा 2 करोड़ से 5 करोड़ तक की ही निर्धारित की गई है, परन्तु इसका वार्षिक टर्न ओवर सबसे अधिक 75 करोड़ से 250 करोड़ रु के मध्य होता है |

महंगाई भत्ता (DA) क्या होता है

एमएसएमई में पंजीकरण हेतु आवश्यक दस्तावेज

  • पैन कार्ड
  • आधार कार्ड,
  • पासपोर्ट,
  • ड्राइविंग लाइसेंस
  • कोई एक पहचान प्रमाणपत्र के रूप में आपके पास होना जरूरी होगा |
  • पासपोर्ट साइज फोटो

आय प्रमाण पत्र (INCOME CERTIFICATE)

अन्य आवश्यक दस्तावेज (Other Documents)

  • यदि आप किराये की संपत्ति पर उद्योग करते है तो किराया समबन्धित डॉक्यूमेंट
  • स्वामित्व वाली सम्पत्ति हेतु सौदे का दस्तावेज़
  • एफिडेविट यानि की शपथपत्र
  • घोषणा दस्तावेज
  • एनओसी (NOC)
  • साक्षी के रूप में दो व्यक्ति यानि की गारंटर

एफपीआई (FPI) क्या है

एमएसएमई हेतु ऑनलाइन पंजीकरण (MSME Registration Online) कैसे करे

  • सर्वप्रथम आपको पंजीकरण हेतु भारत सरकार द्वारा जारी पोर्टल http://udyogaadhaar.gov.in/UA/UAM_Registration.aspx पर जाना होगा अब दिए गए निर्देशों का पालन करे, उसमे सम्बंधित जानकारी आधार संख्या, मालिक का नाम भरने के उपरांत आवेदन सब्मिट कर दे |
  • इसके बाद आपके पंजीकृत नम्बर (Registered Number) या इमेल (Email) पर एक ओटीपी भेजा जायेगा, जिसे आपको रजिस्ट्रेशन के समय भरना होगा और नीचे दिए गए कैप्चा को डालकर इसे जमा कर दें |  
  • अब आपको अंतिम पंजीकरण हेतु आवेदन करना होता है, जिसके उपरांत आपको अंतिम एमएसएमई प्रमाणपत्र (Certificate) दिया जाता है | उत्पादन आरम्भ होने के बाद आप स्थायी प्रमाणपत्र हेतु आवेदन कर सकते है |

 सॉलिसिटर जनरल ऑफ इंडिया क्या होता है?

एमएसएमई हेल्पलाइन नम्बर | MSME HELPLINE NUMBER

MSME हेल्पलाइन भारतीय MSME हेल्पलाइन प्राइवेट लिमिटेड की एक पहल है। इंडियन एमएसएमई हेल्पलाइन प्राइवेट लिमिटेड कॉरपोरेट मामलों के मंत्रालय के साथ कॉर्पोरेट पहचान संख्या U74999DL2015PTC286119 के साथ विधिवत पंजीकरण है। कंपनी का पंजीकृत कार्यालय 1106, नई दिल्ली हाउस, बाराखंबा रोड, कनॉट प्लेस, नई दिल्ली 110001 है।

मुद्रा विनिमय (CURRENCY SWAP) क्या होता है

यहाँ आपको एएमएसएमई (MSME) के विषय में जानकारी प्रदान की गई है, यदि इस जानकारी से सम्बन्धित आपके मन में किसी प्रकार का प्रश्न आ रहा है, तो कमेंट बाक्स के माध्यम से पूछें, आपकी प्रतिक्रिया का शीघ्र ही उत्तर दिया जायेगा | अधिक जानकारी के लिए हमारे पोर्टल Hindiraj.com पर विजिट करते रहे |

एफडीआई (FDI) क्या होता है