एक जिला एक उत्पाद (ODOP) योजना क्या है



देश में बेरोजगारी एक अहम मुद्दा है, और यह समस्या खासकर देश के बड़े राज्यों के लिए और भी विशेष हो जाती है। इसीलिए उत्तर प्रदेश राज्य में 24 जनवरी के दिन मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जी के द्वारा एक जिला एक उत्पाद योजना को चालू किया गया था। अंग्रेजी भाषा में इस योजना को वन डिस्टिक वन प्रोडक्ट योजना भी कहा जाता है। 

img-1


योगी आदित्यनाथ जी के द्वारा इस योजना को ट्रेडिशनल क्राफ्ट और स्मॉल एंटरप्राइज के संरक्षण के लिए शुरू किया गया था। इस योजना की वजह से यूपी में बड़े पैमाने पर रोजगार पैदा होने की उम्मीद भी मुख्यमंत्री जी के द्वारा जाहिर की गई थी। इस आर्टिकल में हम आपको “एक जिला एक उत्पाद (ODOP) योजना क्या है | ODOP List – Eligibility, ऑनलाइन पंजीकरण इत्यादि पूर्ण जानकारी देंगे।

उत्पाद शुल्क क्या होता है

उत्तर प्रदेश ODOP योजना मुख्य बिंदु 2022

योजना का नाम     एक जिला एक उत्पाद योजना |
किसने शुरू की  मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जी |
लॉन्च की तारीख     24 जनवरी 2018
विभाग     सूक्ष्म, लघु एवं मध्यम उद्यम तथा निर्यात प्रोत्साहन विभाग
उद्देश्य      जिले के छोटे, मध्यम और परंपरागत उद्योगो का विकास
ऑफिसियल वेबसाइट     http //odopup.in/hi
हेल्पलाइन नंबर  18001800888

उत्तर प्रदेश एक जिला एक उत्पाद योजना 2022

उत्तर प्रदेश राज्य में मौजूद विशेष उत्पादों और शिल्पकलाओं को आगे लाकर उन्हें नई पहचान देना तथा निर्मातकों को रोजगार प्रदान करना ही इस योजना का प्रमुख लक्ष्य है। 



उत्तर प्रदेश में कई छोटे-छोटे लघु उद्योग विभिन्न इलाकों में मौजूद हैं, जहां पर विभिन्न प्रकार के उत्पादों का निर्माण होता है। उन इलाकों में कई छोटे-छोटे ग्रामीण कारीगर और कलाकार काम करते हैं परंतु ऐसे कारीगरों को कोई भी नहीं जानता है। 

इस प्रकार से उत्तर प्रदेश एक जिला एक उत्पाद योजना के अंतर्गत UP सरकार के द्वारा अपरिचित कलाकारों को रोजगार उपलब्ध करवाया जाएगा। और उत्तर प्रदेश का जो भी जिला जिस भी चीज के लिए प्रसिद्ध है उन जिलों को सरकार के द्वारा उसी चीज की मैन्युफैक्चरिंग के लिए पैसा दिया जाएगा।

जैसे अगर कन्नौज का इत्र फेमस है तो सरकार के द्वारा कन्नौज में इत्र कारीगरों को प्राथमिकता दी जाएगी। वहीं बरेली का झुमका फेमस है तो सरकार के द्वारा बरेली के झुमका कारीगरों को रोजगार उपलब्ध कराने का प्रयास किया जाएगा।

इस प्रकार उत्तर प्रदेश के सभी जनपदों को मिलाकर के कुल 5 सालों में तकरीबन 25 लाख लोगों को इस योजना के अंतर्गत रोजगार की प्राप्ति होगी। 

यूपी एक जनपद एक उत्पाद योजना का उद्देश्य

सरकार इस योजना के द्वारा उत्तर प्रदेश के हर जनपद के हस्तकला, हस्तशिल्प और विशेष हुनर को सुरक्षित रखना चाहती है, साथ ही उसे विकसित भी करना चाहती है, ताकि हर जनपद में रोजगार पैदा हो सके, जिससे वह जनपद तरक्की की ऊंचाइयों को प्राप्त करने के लिए तेजी के साथ आगे बढ़े। उत्तर प्रदेश के जितने भी जिले हैं उन सभी जिले में कुछ ना कुछ ऐसी खास उत्पाद/वस्तु अवश्य बनती है, जो यूपी के दूसरे जिले में नहीं बनती है।

इस प्रकार से सरकार के द्वारा उन जिलों को कच्चा माल, डिजाइन ट्रेनिंग और मार्केट उपलब्ध करवाया जाएगा ताकि उन जिले के कारीगरों को लोकल स्तर पर ही अच्छा लाभ हासिल हो सके। और उन्हें अपना घर छोड़ कर के किसी दूसरी जगह पर ना जाना पड़े। सरकार के द्वारा इस योजना के उद्देश्य में उत्तर प्रदेश के सभी जिले के सभी कलाकारों को आर्थिक सहायता देना भी शामिल है।

यूपी एक जिला एक उत्पाद योजना के लाभ/विशेषताएं

  • यूपी के छोटे-छोटे गांव राष्ट्रीय स्तर पर इस योजना की वजह से फेमस होंगे। और योजना की तरफ युवा आकर्षित होकर अपने हुनर के माध्यम से रोजगार प्राप्त करने का प्रयास करेंगे।
  • इस योजना की वजह से उत्तर प्रदेश में मौजूद सभी जिलों के छोटे, माध्यम और पारंपरिक उद्योगों के विकास में बढ़ोतरी होगी।
  • इस योजना के अंतर्गत उद्योगों को बढ़ावा दिया जाएगा साथ ही नई टेक्नोलॉजी का इस्तेमाल भी किया जाएगा। जिसमें कर्मचारियों को ट्रेनिंग भी दी जाएगी ताकि उनके द्वारा निर्माण किए जाने वाले प्रोडक्ट की मार्केट में दूसरे प्रोडक्ट के साथ बराबरी हो सके।
  • यूपी के हर जिले के लिए प्रोडक्ट का चयन वहां की परंपरा और उपलब्धता के अंतर्गत किया जाएगा। जैसे कि फिरोजाबाद को कांच की चूड़ियों के लिए, प्रतापगढ़ को आंवले के लिए, प्रयागराज को अमरुद फूड प्रोसेसिंग के लिए और आगरा तथा कानपुर को चमड़े के लिए।
  • इस योजना की वजह से उत्तर प्रदेश के तकरीबन 2500000 से भी अधिक बेरोजगार युवाओं को नौकरी प्राप्त होगी और उत्तर प्रदेश का जीडीपी तकरीबन 2% बढ़ेगा।
  • बुनकर, छोटे स्थानीय कारोबारी इस योजना का फायदा प्राप्त कर सकेंगे।
  • इस योजना के अंतर्गत उत्तर प्रदेश के सभी 75 जिलों को कवर किया जाएगा।
  • इस योजना के सफल होने से उत्तर प्रदेश के हर जिले के उत्पादों को इंटरनेशनल लेवल पर मान्यता मिलेगी साथ ही वह ब्रांड भी बनेंगे।
  • सरकार के द्वारा योजना के अंतर्गत लोन की उपलब्धता, सब्सिडी की व्यवस्था, सामान्य सुविधा केंद्र की स्थापना, लेटेस्ट टेक्नोलॉजी और ट्रेनिंग से संबंधित सर्विस दी जाएगी।

Laghu, Seemant Kisan in Hindi

एक जिला एक उत्पाद योजना में जिलेवार उत्पादों की सूची | ODOP Product List

आगरा  चमड़ा
फिरोज़ाबाद ग्लास चूड़ी
मथुरा बाथरूम फिटिंग
मेनपुरी तारकशी
अलीगढ़ ताले और हार्डवेयर
हाथरस असिंग प्रसंस्करण
एटा बेल और घंटी
काशगंज जरी और जरदोज़ी
इलाहाबाद फल प्रसंस्करण (अमरूद)
प्रतापगढ़ फल प्रसंस्करण (करौंदा)
कौशाम्बी फल प्रसंस्करण (केले)
आज़मगढ़ ब्लैक पात्री
बाली बिंदी
माउ पावर लॉम
बरेली जरी वर्क
बदायु जरी वर्क
पीलीभीत बांसुरी
शाहजहांपुर जरी वर्क
संत कबीर नगर पीतल पॉट
चित्रकूट लकड़ी के खिलौने
बांदा सागर पत्थर शिल्प
महोबा गोरा पत्थर शिल्प
हमीरपुर जूते
गोंडा  खाद्य प्रसंस्करण (दाल)
बहरीच गेहूं के डंठल
बलरामपुर खाद्य प्रसंस्करण (दाल)
फैजाबाद जाली उत्पाद
बरबंकी स्कार्फ
अम्बेडकर नगर पावर लूम
अमेठी बिस्कुट
सुल्तानपुर बीम का फर्नीचर
गोरखपुर टेराकोटा
कुशीनगर कलाकृति
झांसी मुलायम खिलौने
जालौन हस्तनिर्मित पत्र
ललितपुर भगवान कृष्ण मूर्ति
कानपुर नगर चमड़ा उत्पाद
इटावा खाद्य प्रसंस्करण (आलू के उत्पादों)
ओरायिया देसी घी
फरुखाबाद ब्लॉक प्रिंटिंग
कन्नोज इत्र और चिकन
अननाब जरी
रायबरेली वुडक्राफ्ट
सीतापुर दरी
लखीमपुर खीरी      जनजातीय शिल्प
हरदोई डेयरी उत्पाद
मेरठ खेल सामान
बागपत हैंडलूम
गाजियाबाद इंजीनियरिंग सामान
बुलंदशहर पटारी (खुर्जा)
गौतमबुद्ध नगर तैयार मेड उत्पाद
हापुड़ घर का फर्नीचर
मुरादाबाद मेटलक्राफ्ट
रामपुर पेज काम
बिजनौर लकड़ी नक्काशी
अमरोहा     संगीत वाद्ययंत्र
संभल हॉर्न और हड्डी
मिर्जापुर दरी और कालीन
सोनभद्र कालीन
भदोही दरी और कालीन
सहारनपुर वुडकार्विंग
मुजफ्फरनगर जेगेरी उत्पाद
शामाली हब और धुरी
वाराणसी रेशम उत्पाद
गाजीपुर दीवार लटका वस्तुओं
ज़ोनपुर प्रेशर कुकर
चंदौली जेगेरी प्रोडक्ट्स

आवश्यक वस्तु अधिनियम क्या है

ऐमेज़ॉन कला हाट एप्लीकेशन फॉर्म भरने की प्रक्रिया

  • सबसे पहले व्यक्ति को एक जिला एक उत्पाद की आधिकारिक वेबसाइट को विजिट करना है।
  • जब व्यक्ति वेबसाइट के होम पेज पर पहुंचेगा, तो उसे Buyer & Seller प्लेटफार्म के टैब पर क्लिक करना है।
  • अब व्यक्ति के द्वारा ऐमेज़ॉन के टैब पर क्लिक किया जाएगा।
  • अब व्यक्ति को बायर वाले लिंक पर क्लिक करना है।
img-2

5  अब आपके डिवाइस की स्क्रीन पर एप्लीकेशन फॉर्म ओपन होगा, उसमें मांगी गई सभी जानकारी जैसे कि नाम, कांटेक्ट नंबर, बिजनेस नेम,बिजनेस ऐड्रेस, सिटी,राज्य, पिनकोड इत्यादि को निश्चित जगह में दर्ज करना है।

img-3
  • अब सबमिट बटन दबाएं।

ODOP लाभ राशि योजना में आवेदन करने की प्रक्रिया

  • योजना की आधिकारिक वेबसाइट के होम पेज पर जाएं और “ऑनलाइन आवेदन करें” वाले ऑप्शन पर क्लिक करें।
  • अब ओडीओपी लाभ राशि योजना वाले लिंक पर क्लिक करें।
  • अब आपको एक जनपद एक उत्पाद मार्जिन मनी योजना के लिंक पर क्लिक कर देना है।
img-4
  • फिर आपको न्यू यूजर रजिस्ट्रेशन वाले ऑप्शन पर क्लिक करना है।
  • अब आपकी स्क्रीन पर एप्लीकेशन फॉर्म ओपन होगा, उसमें मांगी गई सभी जानकारियों को भरें और सबमिट बटन दबाएं।

ODOP ट्रेनिंग तथा टूलकिट योजना के अंतर्गत आवेदन करने की प्रक्रिया

  • किसी भी ब्राउज़र को ओपन करें और योजना की आधिकारिक वेबसाइट के होम पेज पर जाएं और उसके पश्चात “ऑनलाइन आवेदन करें” के ऑप्शन पर क्लिक करें।
img-5
  • अब ODOP ट्रेनिंग एंड टूलकिट योजना के लिंक पर क्लिक करें।
  • अब आपकी स्क्रीन पर जो पेज आया है उसमें एक जनपद एक उत्पाद परीक्षण एवं टूलकिट योजना के लिंक पर आपको क्लिक करना है।
  • अगर पहले से ही आपने अपना अकाउंट बनाया हुआ है तो आपको निश्चित जगह में यूजरनेम और पासवर्ड डालकर के लॉगिन कर लेना है।
  • और अगर आपने पहले से ही अपना अकाउंट नहीं बनाया हुआ है तो आपको न्यू यूजर रजिस्ट्रेशन वाले ऑप्शन पर क्लिक करके एप्लीकेशन फॉर्म भरना है।
  • अब आपको अपनी स्क्रीन पर ODOP ट्रेनिंग तथा टूलकिट योजना का एप्लीकेशन फॉर्म दिखाई देगा।
  • आपको एप्लीकेशन फॉर्म में मांगी जा रही सभी जानकारियों को भरना है और उसके पश्चात सबमिट वाली बटन दबानी है। 
  • इस प्रकार से आप अप्लाई कर सकेंगे।

ODOP योजना की फीडबैक देने की प्रक्रिया

  • फीडबैक देने के लिए आपको एक जिला एक उत्पाद योजना की ऑफिशियल वेबसाइट पर जाना है।
  • वेबसाइट पर जाने के बाद आपको Contact us वाले ऑप्शन पर क्लिक करके फीडबैक वाले ऑप्शन पर क्लिक करना है।
img-6
  • अब आपकी स्क्रीन पर फीडबैक फॉर्म ओपन होगा। उसमें नीचे दी गई जानकारियों को भरें।
  1. नाम
  2. ईमेल आईडी
  3. पोस्टल ऐड्रेस
  4. कंट्री
  5. स्टेट
  6. सिटी
  7. फोन नंबर
  8. कमेंट/सजेशन
  9. कैप्चा कोड
  • अब सबमिट वाले बटन को दबाएं।
  • इस प्रकार ऊपर दी गई प्रक्रिया को करके आप फीडबैक दे सकेंगे।

हेल्पलाइन नंबर

इस आर्टिकल के द्वारा हमने आपको एक जिला एक उत्पाद योजना के बारे में सारी जानकारी देने का प्रयास किया परंतु अगर अभी भी आपको इस योजना के बारे में किसी भी प्रकार की जानकारी प्राप्त करनी है।

तो आप योजना के लिए जारी किए गए हेल्पलाइन नंबर पर संपर्क स्थापित कर सकते हैं और जानकारी प्राप्त कर सकते हैं।

18001800888 

FAQ  

एक जिला एक उत्पाद योजना को अंग्रेजी में क्या कहते हैं ?

One District One Product Scheme.

एक जिला एक उत्पाद योजना कौन से राज्य में चल रही है ?

उत्तर प्रदेश 

एक जिला एक उत्पाद योजना की आधिकारिक वेबसाइट क्या है ?

http //odopup.in/hi

एक जिला एक उत्पाद योजना का हेल्पलाइन नंबर क्या है ?

18001800888 

उत्तर प्रदेश में कितने जिले है   

Leave a Comment