सी प्लेन सेवा (Seaplane Service) क्या है

सरदार वल्लभ भाई पटेल की 145वीं जयंती अर्थात राष्ट्रीय एकता दिवस के शुभ अवसर पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी नें गुजरात को नई सौगात दी है | प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी नें केवडिया से साबरमती के बीच सी प्लेन में सफर कर इसका शुभारंभ किया। इस सीप्लेन सेवा को देश में हवाई सफर के नए युग की शुरुआत के रूप में देखा जा रहा है |

हालाँकि यह विमान मालदीव से मंगाया गया है। सी प्लेन के जरिए केवडिया से साबरमती की 200 किमी की दूरी को मात्र 45 मिनट में पूरा कर लिया जाएगा| जबकि सड़क मार्ग से यह दूरी तय करनें में लगभग 4 घंटे का समय लगता है | सी प्लेन सेवा क्या है, इसकी खासियत और चार्ज के बारें में आपको यहाँ विस्तार से जानकारी दे रहे है |

रेलवे टिकट रिफंड के नियम

सी प्लेन सेवा क्या है (What is Sea Plane Service)

सी प्लेन एक विशेष प्रकार का हवाई जहाज है, जिसे जिसे उड़ान भरने के लिए रनवे की जरुरत नहीं पड़ती है, इसके साथ ही यह प्लेन पानी से भी टेक ऑफ और लैंडिंग कर सकता है | इस प्लेन की सबसे खास बात यह है कि यह प्लेन खेत, सड़क के अलावा दो फीट पानी में भी आसानी से लैंड कर सकता है| अधिकांशतः इस प्लेन का उपयोग रेसक्यू ऑपरेशन के दौरान सबसे अधिक किया जाता है |

सरकार इस सी प्लेन के माध्यम से देश के कोने-कोने को जोड़ना चाहती है, जिससे बड़े-बड़े शहर छोटे शहरों से जुड़ जायेंगे| फिलहाल वर्तमान समय में  सी-प्लेन को मुंबई से कांडला, हैदराबाद से पुंडुचेरी, मुंबई से पोरबंदर, दिल्ली से जेसलमेर के लिए फ्लाइट का प्लान बनाया जा रहा है। जबकि भविष्य में  लक्षद्वीप, अंडमान और निकोबार, असम, महाराष्ट्र और उत्तराखंड में इस सेवा को शुरू करनें की योजना है |

S-400 एयर मिसाइल सिस्टम क्या है

सीप्लेन की खासियत (Features of Sea Plane)

  • सी-प्लेन की सबसे बड़ी खासियत यह है, कि यह जमीन और पानी दोनों जगहों से उड़ान भर सकता है और दोनों ही जगह इसे लैंड कराया जा सकता है |
  • यह प्लेन सिर्फ 300 मीटर लंबे रनवे से ही उड़ान भर सकता है, और यह नदी और तालाबों से भी उड़ान भरनें में सक्षम है | इस प्लेन को उड़ान भरनें के लिए बहुत लंबे रनवे की जरूरत नहीं होती है, इसके लिए सिर्फ फ्लोटिंग जेट्टी की जरूरत होती है |
  • इस प्लेन में एक बार में पायलेट सहित 19 यात्री सफ़र कर सकते हैं |
  • इस प्लेन की अधिकतम स्पीड 339 किमी/घंटा है, जबकि इस प्लेन की लंबाई 15 फीट 3 इंच है और वजन 1,710 किलो है |
  • इस प्लेन को एक घंटे की उड़ान के लिए सिर्फ 272 लीटर पेट्रोल की आवश्यकता होती है |
  • भारत के जिन क्षेत्रो में एयरपोर्ट नहीं हैं, ऐसे स्थानों पर यह अपनी सेवाएं आसानी से दे सकता है | इससे पर्यटन के क्षेत्र को बढ़ावा मिलेगा |

पीपीपी मॉडल क्या होता है  

सीप्लेन का किराया (Sea Plane Fare)

यह प्लेन अहमदाबाद के साबरमती रिवरफ्रंट से केवडिया स्थित स्टैच्यू ऑफ यूनिटी तक प्रतिदिन दो उड़ानें भरेंगे, जिसमें लगभग 30 मिनट का समय लगेगा | यात्रियों को इस आधे घंटे की यात्रा के लिए लगभग 1,500 रुपए किराया देना होगा | पैसेंजर्स को दोनों तरफ की यात्रा के लिए 3000 रुपए देना होगा | 

NRA क्या है 

सीप्लेन का टिकट कैसे मिलेगा (How To Get Sea Plane Ticket)

कोई भी यात्री इस प्लेन का टिकट ऑनलाइन माध्यम से बुक कर सकता है| इस सेवा की ऑनलाइन टिकट की बुकिंग 30 अक्टूबर से शुरू हो चुकी है| इन उड़ानों के लिए ट्विन ओटर-300 विमान का इस्तेमाल किया जायेगा, जिसमें एक बार में 15 यात्री सफ़र कर सकते है| आप टिकट की बुकिंग www.spiceshuttle.com की वेबसाइट से कर सकते हैं |

डिजिलॉकर क्या है

सीप्लेन की उड़ान की टाइमिंग (Sea Plane Flight Timing)

सी-प्लेन की प्रतिदिन पहली ट्रिप सुबह 10:15 बजे रिवरफ्रंट से शुरू होगी और यह 10:45 पर केवडिया पहुंचेगा| एक घंटे के बाद यह प्लेन 11:45 पर उड़ेगा और 12:15 बजे रिवरफ्रंट पहुंचेगा। प्लेन की दूसरी ट्रिप 12:45 पर रिवरफ्रंट से उड़ान भरेगा और दोपहर 1:15 पर केवडिया पहुंचेगा और यह केवडिया से दोपहर 3:15 पर उड़ेगा और 3:45 पर वापस रिवरफ्रंट पहुंचेगा | इस प्लेन की यात्री क्षमता कुल 19 बताई जा रही है, परन्तु फिलहाल अभी इसमें सिर्फ एक बार में एक दर्जन यात्री बैठाए जाएंगे |

सी प्लेन का संचालन (Operation of Sea Plane)

गुजरात में इस विशेष प्रकार के विमान की सेवा शुरू कराने के लिए सरकार नें यह प्लेन मालदीव से मंगवाए हैं, जिसे स्पाइसजेट कंपनी ने किराए पर लिया है| इस विमान का संचालन इसी कम्पनी द्वारा किया जायेगा| स्पाइसजेट टेक्निक का ट्विन ओटर-300 सीप्लेन में 12 से अधिक यात्री सफ़र कर सकेंगे |

क्लर्क (Clerk) कैसे बने?

सीप्लेन का परीक्षण (Sea Plane Test)

स्पाइसजेट कंपनी भारत की पहली ऐसी एयरलाइन कम्पनी है, जिसनें जलमार्ग या नदियों से हवाई संपर्क का परीक्षण किया है| हालाँकि इस कम्पनी द्वारा 2017 से लगातार परीक्षण किया जा रहा है|  इस कम्पनी द्वारा पहला ट्रायल 2017 में नागपुर से गुवाहाटी के बीच किया गया और एंफीबियस विमान का ट्रायल गिरगांव चौपाटी पर किया गया |

इस प्रकार सफल परीक्षण करनें के उपरांत अब स्पाइसजेट द्वारा अहमदाबाद से केवडिया रूट के लिए प्रतिदिन दो उड़ानों का संचालन करेगी। मीडिया से प्राप्त जानकारी के अनुसार, स्पाइसजेट अब तक 18 सी-प्लेन रूट का अधिकार हासिल कर चुकी है। इस प्रकार के विमान धरती और पानी दोनों से उड़ान भरने व लैंडिंग करनें पूर्ण रूप से सक्षम हैं |

आरबीआई ग्रेड बी परीक्षा क्या है?

यहाँ आपको सीबीएसई (CBSE) के विषय में जानकारी दी गई है | अब उम्मीद करता हूँ आपको जानकारी अवश्य पसंद आयी होगी | यदि आप इससे रिलेटेड अन्य कोई जानकारी प्राप्त करना चाहते है तो कमेंट करके पूंछ सकते है | आपकी प्रतिक्रिया का जल्द ही जवाब देने का प्रयास किया जायेगा | अधिक जानकारी के लिए hindiraj.com पोर्टल पर विजिट करते रहे |

वैज्ञानिक (SCIENTIST) कैसे बनें

Leave a Comment