एसपी (SP) कैसे बने

पुलिस को  देश का सुरक्षा बल कहा जाता है , जिसका उपयोग मुख्य रूप से किसी भी देश की नागरिक सुरक्षा के लिये किया जाता है | हमारे देश के नागरिकों की सुरक्षा के लिए पुलिस हमेशा तत्पर रहती है जिसमें अलग-अलग रैंक के अधिकारी कार्य करते हैं । जिसमें SP  (एसपी) उच्च पदों में से एक कहा जाते  है |  यदि आप भी SP बनने की तैयारी कर रहें  हैं, तो आप इस पूरी पोस्ट को पढ़े और पूरा लेख पढने के बाद आपको जिले में तैनात एसपी कौन होता है, और एसपी कैसे बन सकते है और साथ ही एक SP का वेतन, योग्यता, व फुल फॉर्म क्या होता है? इसकी पूरी जानकारी आपको इस पोस्ट में प्राप्त हो जाएगी |

 भारतीय संविधान क्या है?

एसपी क्या होता है ?

भारत जैसे विशाल देश में कानून व्यवस्था बनाना सरकार का एक कर्तव्य है और इसी स्वरुप भारत सरकार हर जिले जो आबादी में बड़ा हो, नक्सल से प्रभावित हो या शहरी आबादी वाला हो, कानून व्यवस्था बनाए रखने के लिए एक मुख्य अधिकारी नियुक्त करता है | वह आईपीएस सर्विस के माध्यम से सेलेक्ट किया जाता है जिसका चुनाव यूपीएससी के द्वारा हर साल किया जाता है और जिले में पुलिस फाॅर्स या बल का प्रमुख होता है |

एसपी (SP) का फुल फॉर्म  

एसपी का फुल फॉर्म “Superintendent Of Police” होता है | इसे हिंदी भाषा में ” पुलिस अधीक्षक” कहा जाता है और इसका शॉर्टकट में एस.पी (SP) होता है |

एसपी कैसे बने ?

आपको Superintendent of police बनने के लिए UPSC द्वारा आयोजित परीक्षा में प्रतिभाग करना होगा | परीक्षा में मात्र पास होने से ही काम नहीं चलेगा, क्योंकि यदि आप एसपी बनना चाहते है तो आपको UPSC में एक अच्छी रैंक भी लानी होगी जिसके आधार पर ही आपको आईपीएस मिल सकता है | यदि आपको सिविल सर्विसेज परीक्षा के बारे में जानकारी नहीं है तो कृपया पोर्टल द्वारा पहले आईएएस परीक्षा के विषय में जानकारी प्राप्त करे | लेकिन आपको बहुत कम शब्दों में बता दे कि एसपी बनने के लिए आपकी यूपीएससी परीक्षा में लिखित व इंटरव्यू परीक्षा का सामना करना पड़ेगा | जिसके बाद आपकी आधी ट्रेनिंग LBSNAA में व बाकी की ट्रेनिंग हैदराबाद में सरदार वल्लभभाई पटेल पुलिस अकादमी में पूरी करायी जायेगी |

योग्यता (Eligibility)

Academic Qualification

पुलिस अधीक्षक या एसपी के लिए अकादमिक क्वालिफिकेशन के स्वरुप अभ्यर्थियों को किसी मान्यता प्राप्त संस्थान से स्नातक होना आवश्यक है क्योंकि, इसके बाद ही वह इसमें आवेदन करने का पात्र बन सकता है | यदि आप ग्रेजुएशन के अंतिम वर्ष में भी है तो भी आप परीक्षा का फॉर्म भर सकते है |

आयु सीमा (Age Limit)

एसपी पद हेतु अभ्यर्थी की न्यूनतम आयु 21 वर्ष तथा अधिकतम आयु 32 वर्ष तक होनी चाहिए | तथा  इसमें आरक्षित वर्ग में अंतर्गत ओबीसी वर्ग के छात्रों को 3 वर्ष तथा एससी / एसटी वर्ग के अभ्यर्थियों को 5 वर्ष की छूट दी जाती है |

शारीरिक योग्यता (Physical Fitness)

  • इन पदों में आवेदन करने वाले उम्मीदवार को शारीरिक और मानसिक रूप से स्वस्थ होना अनिवार्य है |
  • एसीपी बनने के लिए अभ्यर्थी की लम्बाई (height) 165 सेमी और छाती (Chest) 85 सेमी होनी चाहिए |
  • महिला वर्ग के अभ्यर्थियों की लम्बाई 150 सेमी होना अनिवार्य है |

एसपी की चयन प्रक्रिया (Selection Process)

इन पदों के लिए परीक्षा का आयोजन राज्य लोक सेवा आयोग (UPPSC) व यूपीएससी द्वारा किया जाता है, इन पदों के लिए परीक्षा को प्रारम्भिक परीक्षा, मुख्य परीक्षा, साक्षात्कार तीन भागों में विभाजित किया गया है | इसी सेवा के माध्यम से आपको आईपीएस रैंक प्राप्त होती है जिसके माध्यम से आप पुलिस विभाग में अपनी सेवा दे सकते है| इसी परीक्षा को सिविल सेवा परीक्षा भी कहते है जिसके माध्यम से आईएएस, आईआरएस जैसे पद भी भरे जाते है|

आय प्रमाण पत्र (INCOME CERTIFICATE)

प्रारम्भिक परीक्षा (Prelims)

प्रारंभिक परीक्षा के अंतर्गत दो प्रश्न पत्र हल कराये जाते हैं, जिसमे प्रत्येक प्रश्न पत्र के लिए  200 अंक निर्धारित किये जाते है | जिन्हे हल करने के लिए अभ्यर्थियों को  दो घंटे का समय  दिया जाता है | इस परीक्षा को उत्तीर्ण करने के बाद मैन्स परीक्षा के एडमिट कार्ड जारी किये जाते है |

मुख्य परीक्षा (Mains)

जो अभ्यर्थी प्रारम्भिक परीक्षा में सफलता हासिल कर लेते हैं उन्हें  मुख्य परीक्षा देने के लिए बुलाया जाता  है | जिसमें, 6 प्रश्न पत्र होते है  भारतीय भाषा 300 अंक , अंग्रेजी 300 अंक, निबंध 200 अंक, जनरल स्टडी 300 अंक, इन विषयों के अंतर्गत वैकल्पिक विषय के लिए अंक दो डिजिट में निर्धारित किये गए है |

क्र.स. विषय अंक
1. सामान्य अध्ययन पेपर -1 200
2. सामान्य अध्ययन पेपर -2 200
3. सामान्य अध्ययन पेपर -3 200
4. सामान्य अध्ययन पेपर -4 200
5. सामान्य हिंदी 150
6. निबंध 150

साक्षात्कार 

दूसरा पड़ाव यानी कि मुख्य परीक्षा में  सफलता प्राप्त करने के बाद  अभ्यर्थी को साक्षात्कार  अथवा इंटरव्यू के लिया जाना पड़ता  है , जिसका  आयोजन आयोग द्वारा होता है, आयोग द्वारा निर्धारित समिति के समक्ष पेश होकर यह साक्षात्कार देना रहता  है, जिसके लिए 250 अंक  समिट द्वारा निर्धारित किये जाते है  इससे ही अभ्यर्थी की योग्यता  का आकलन  का पता लगाया जाता है |  इसके बाद  अगर आप साक्षात्कार में सफलता प्राप्त कर लेते है , तो आपको इन पदों के लिए नियुक्ति पत्र  सौंप  दिया जाएगा |

एसपी का वेतन  

एसपी को 15,600  39,000 हजार प्रतिमाह प्राप्त होते हैं इसके साथ ही उन्हें 7, 600 ग्रेड दिया जाता है |

एसपी को अतिरिक्त  सुविधाएं (Perks and Benefits)

एसपी (SP) अधिकारीयों को अतिरिक्त सुविधाओं में  निवास हेतु सरकारी बंगला दिया जाता  है, जिसमें कुक, चपरासी और अन्य स्टाफ  की व्यवस्था रहती  है, इसके साथ ही  टेलीफोन,  सरकारी यात्राएं फ्री में कराई जाती  है।

 राज्यपाल की नियुक्ति कौन करता है?

यहाँ पर SP Officer क्या होता है और आप एसपी अधिकारी कैसे बन सकते है इसकी पूरी जानकारी आपको प्राप्त हुई होगी |  इस प्रकार की अन्य जानकारी के लिए आप www.hindiraj.com पर विजिट कर सकते है | इसके साथ ही  यदि आप दी गयी जानकारी के विषय में अपने विचार या सुझाव अथवा प्रश्न पूछना चाहते है, तो कमेंट बॉक्स के माध्यम से संपर्क कर सकते है | हमें आपके सुझावों और प्रश्नो का इन्तजार रहेगा |